Category Archives: जरा हटके

hathiyon ki budhimta

हाथियों की समजदारी 

 
रायपुर- छतीसगढ़ के झगरपुर में दल से बिछड़कर हाथी के तिन बच्चे पानी के उथले गढ्डे में गिर गए मदद के लिय कोई बड़ा हाथी साथ ना था आसपास के लोगो नें कोशिश की,पर फिसलन के कारण किसी को गढ्डे से निकाल नही सके आखिर में तीनों हाथियों ने एक दुसरे की मदद की और खुद ही गड्ढे से बाहार आगए 
strange news in hindi

दुनिया के 5 अधभुत आश्चर्ये

दोस्तों कभी कभी इस World (संसार)  में एसी घटनाएँ घट जाती हें जो हमारी कल्पना से परे होती हे,World में एसी एसी घटनाएँ घटी हें, जिन पर Faith ही नही होता, परन्तु इश्वर की लीला ही कुछ एसी हे जो सम्भव को असम्भव और असम्भव को सम्भव बनादेती हे इस Article में आपको 5 एसी घटनाएँ बताऊंगा जो आपको दातों तले ऊँगली दबाने पर मजबूर करदेगी,


1- GORILLA द्वारा France की प्रथम महिला का अपहरण 


madame remand pain keyr जो France के राष्ट्रपती की पत्नी थी, 1914 के Peris के LEC Palace के बगीचे में बेठी हुई थी तो पास ही के एक पिंजरे से निकल कर एक Gorilla ने उनका अपहरण कर लिया और उसे एक पेड़ की चोटी पर लेजाकर कई घंटो तक अपने कब्जे में रखा, उन्हें Java निवासी की साहयता से आजाद कराया गया परन्तु इस घटना हो 40 वर्ष बाद सबके सामने लाया गया,

2- Tree पर रहने वाला Frog (मेंडक) 

इस Frog की आवाज गर्मियों में घंटी की टन टन जेसी सुनाई देती हे, और सर्दियों में इसकी आवाज हथोड़े से चट्टान तोड़ने जेसी होती हे 

3- एक विचित्र Cuort

इम्फाल भारत का नगर न्यायाधीश गोशेन जिसे उल्टा देखने की विचित्र बीमारी थी, 19 सालों तक वो सर के बल खड़ा होकर मुकदमों की सुनवाई करता रहा (1852-1871)

4- 8 वर्ष की आयु और 4 विवाह

सलीम जो अकबर का पुत्र था वेह मात्र 8 वर्ष की आयु में 4 Marrige कर चूका था 

5- इतिहास का सबसे ज्यादा कुरुर और घमंडी शाशक 

Morocco का King Mulay ismail (1646-1727) ने अपने 10,000 Servent का कत्ल कर डाला था, उसे ये लगता था की उसके हाथों से मरने वाला हर व्येक्ती सम्मान प्राप्त करेगा, हमेशा अपनी रकाब पकड़ने वाले सेवक का वो सिर काटकर शुक्रिया अदा करता था 



RBI निकालने वाला हे प्लास्टिक के नोट

जी हाँ दोस्तों अब जल्दी ही प्लास्टिक के नोट आने वालें हें कागज के नोट जल्दी फट जाते हें इससे काफी दिकत होती हे और रिजर्व बैंक को भी इस दिक्त का सामना करना पड़ता हे अब जल्दी ही इस परेशानी से सब को छुटकारा मिलने वाला हे क्योंकि अब आने वाले हें प्लास्टिक के नोट रिजर्व बैंक इसी साल प्लास्टिक के नोट निकालने वाला हे सबसे पहले 10 रुपए के नोट निकाले जाएंगे 

भारत में एसा पहली बार होने वाला हे की जब प्लास्टिक के नोट निकाले जाएंगे और प्लास्टिक के नोटों से काफी हद तक नकली नोटों से छुटकारा भी मिलजायेगा  

15 रोचक जानकारी – (bill gates) बिल गेट्स हर सेकेण्ड में करीब 12000 रुपये कमाते हैं

रोचक तथ्य
*************** *****
1. टाइटैनिक जहाज को बनाने को लिए उस समय 35 करोड़ 70 लाख रूपये लगे थे जब कि टाइटैनिक फिलम बनाने के लिए 1000 करोड़ के लगभग लागत आई.
2. बिल गेट्स हर सेकेण्ड में करीब 12000 रुपये कमाते हैं यानि एक दिन में करीब 102 करोड़ रूपये.
3. राष्ट्रपति जार्ज बुश ने एक बार जपानी प्रधानमंन्त्री की कुर्सी पर उल्टी कर दी थी.
4. चीन में एक 17 साल के लड़के ने ipad2 और i phone के लिए अपनी kidney बेच दी थी.
5. धरती पे जितना भार सारी चीटीयों का है उतना ही सारे मनुष्यो का है.
6. Octopus के तीन दिल होते हैं.
….…..7. सिर्फ मादा मच्छर ही आपका ख़ून चूसती हैं. नर मच्छर सिर्फ आवाजे करते हैं.
8. ब्लु वेहल एक साँस में 2000 गुबारो जितनी हवा खिचती है और बाहर निकालती है.
9. मच्छलीयो की यादआसत सिर्फ कुछ सेकेंड की होती है.
10. पैराशूट की खोज हवाईजहाज से 1 सदी पहले हुई थी.
11. कंगारु उल्टा नही चल सकते.
12. चीन में आप किसी व्यकित को 100 रूपया प्रति घंटा अपनी जगह लाइन में लगने के लिए कह सकते है.
13. Facebook उपयोग करने वाली सबसे बुजुर्ग मनुष्य 105 साल की एक महिला है जिसका नाम Lillion Lowe है.
14. ग्रीक और बुलगागिया में एक युद्ध सिर्फ इसलिए लड़ा गया था क्योंकि एक कुत्ता उनका border पार कर गया था.
15. 1894 में जो सबसे पहला कैमरा बना था उससे आपको अपनी फोटो खीचने के लिए उसके सामने 8 घंटे तक बैठना पड़ेगा.

REAL HERO आइए जानेँ एक हीरो को फिल्मोँ वाला नहीँ रियल वाला

 आई जानेँ एक हीरो को फिल्मोँ वाला नहीँ रियल वाला  आईये जाने नारायण कृष्णन जी को  एक भारतीय फ़ाइव स्टार होटल में कार्यरत युवक जिसे स्विटज़रलैण्ड में शानदार नौकरी का ऑफ़र मिला था, लेकिन उसी दिन मदुराई मन्दिर जाते समय इस युवक ने एक भूखे बेसहारा व्यक्ति को अपना ही मल खाते देखा और वह भीतर तक हिल गया, पल भर में उसने उस हजारों डालर वाली नौकरी को अलविदा कह दिया और मानवता की सेवा में अपना जीवन समर्पित कर देने का फ़ैसला कर लिया।  कृष्णन रोज़ाना सुबह चार बजे उठकर अपने हाथों से खाना बनाते हैं, फ़िर अपनी टीम के साथ वैन में सवार होकर मदुरै की सड़कों पर औसतन 200 किमी का चक्कर लगाते हैं तथा जहाँ कहीं भी उन्हें सड़क किनारे भूखे, नंगे, पागल, बीमार, अपंग, बेसहारा, बेघर लोग दिखते हैं वे उन्हें खाना खिलाते हैं… यह काम वे दिन में दो बार करते हैं। औसतन वे रोज़ाना 400 लोगों को भोजन करवाते हैं, तथा समय मिलने पर कई विकलांग और अत्यन्त दीन- हीन अवस्था वाले भिखारियों के बाल काटना और उन्हें नहलाने का काम भी कर डालते हैं।  ...शत शत नमन इस असली हीरो को

 REAL HERO
आईये जाने नारायण कृष्णन जी को

एक भारतीय फ़ाइव स्टार होटल में कार्यरत युवक जिसे स्विटज़रलैण्ड में शानदार नौकरी का ऑफ़र मिला था,
लेकिन उसी दिन मदुराई मन्दिर जाते समय इस युवक ने एक भूखे बेसहारा व्यक्ति को अपना ही मल खाते देखा और वह भीतर तक हिल गया, पल भर में उसने उस हजारों डालर
वाली नौकरी को अलविदा कह दिया और मानवता की सेवा में अपना जीवन समर्पित कर देने का फ़ैसला कर लिया।

कृष्णन रोज़ाना सुबह चार बजे उठकर अपने हाथों से खाना बनाते हैं, फ़िर अपनी टीम
के साथ वैन में सवार होकर मदुरै की सड़कों पर औसतन 200 किमी का चक्कर लगाते हैं तथा जहाँ कहीं भी उन्हें सड़क
किनारे भूखे, नंगे, पागल, बीमार, अपंग, बेसहारा, बेघर लोग दिखते हैं वे उन्हें खाना खिलाते हैं… यह काम वे दिन में
दो बार करते हैं। औसतन वे रोज़ाना 400 लोगों को भोजन करवाते हैं, तथा समय मिलने पर कई विकलांग और अत्यन्त दीन- हीन अवस्था वाले भिखारियों के बाल काटना और उन्हें नहलाने का काम भी कर
डालते हैं।

…शत शत नमन इस असली हीरो को

Gau mata के गोबर और मूत्र से पूरे गाँव को निशुल्क गैस


Gau mata के गोबर और मूत्र का उपयोग करके दिलावर सिंह जी दे रहे है पूरे गाँव को निशुल्क गैस ……राजीव दीक्षित Rajiv Dixit


120 गायों से दूध की डेयरी चलाने वाले दिलावर सिंह ने गोबर और मूत्र से Gobar Gas (गोबर गैस) को पूरे गाँव में पाइप लाइन के जरिये भेजकर पूरे गाँव को इस क्षेत्र में आत्मनिर्भर बना दिया /…. और उन्हें 
gas cylinder के दाम बढ़ने का डर भी नहीं सताता

ये कार्य अगर हर गाँव में हो जाये तो हमें रसोई गैस के लिए अरब देशो के आगे हाथ नहीं फैलाना पड़ेगा

Plastic Surgery इसका अविष्कार भारत मे हुआ है|


अगर आप पूरी पोस्ट नही पड़ सकते तो यहाँ Click करें: राजीव दीक्षित Rajiv Dixit
http://www.youtube.com/watch?v=ZO-bpE9NYUA

Plastic Surgery जो आज की Surgery की दुनिया मे आधुनिकतम विद्या है इसका अविष्कार भारत मे हुअ है| सर्जरी का अविष्कार तो हुआ ही  है Plastic Surgery का अविष्कार भी यहाँ हि हुआ है| प्लास्टिक सर्जरी मे कहीं की त्वचा  को काट के कहीं लगा देना और उसको इस तरह से लगा देना की पता हि न चले यह विद्या सबसे पहले दुनिया को भारत ने दी है|

1780 मे दक्षिण भारत के कर्णाटक राज्य के एक बड़े भू भाग का राजा था हयदर अली| 1780-84 के बीच मे अंग्रेजों ने हयदर अली के ऊपर कई बार हमले किये और एक हमले का जिक्र एक अंग्रेज की डायरी मे से मिला है| एक अंग्रेज का नाम था कोर्नेल कूट उसने हयदर अली पर हमला किया पर युद्ध मे अंग्रेज परास्त हो गए और हयदर अली ने कोर्नेल कूट की नाक काट दी|

कोर्नेल कूट अपनी डायरी मे लिखता है के “मैं पराजित हो गया, सैनिको ने मुझे बन्दी बना लिया, फिर मुझे हयदर अली के पास ले गए और उन्होंने मेरा नाक काट दिया|” फिर कोर्नेल कूट लिखता है के “मुझे घोडा दे दिया भागने के लिए नाक काट के हात मे दे दिया और कहा के भाग जाओ तो मैं घोड़े पे बैठ के भागा| भागते भागते मैं बेलगाँव मे आ गया, बेलगाँव मे एक वैद्य ने मुझे देखा और पूछा मेरी नाक कहाँ कट गयी? तो मैं झूट बोला के किसीने पत्थर मार दिया, तो वैद्य ने बोला के यह पत्थर मारी हुई नाक नही है यह तलवार से काटी हुई नाक है, मैं वैद्य हूँ मैं जानता हूँ| तो मैंने वैद्य से सच बोला के मेरी नाक काटी गयी है| वैद्य ने पूछा किसने काटी? मैंने बोला तुम्हारी राजा ने काटी| वैद्य ने पूछा क्यों काटी तो मैंने बोला के उनपर हमला किया इसलिए काटी| फिर वैद्य बोला के तुम यह काटी हुई नाक लेके क्या करोगे? इंग्लैंड जाओगे? तो मैंने बोला इच्छा तो नही है फिर भी जाना हि पड़ेगा|”

यह सब सुनके वो दयालु वैद्य कहता है के मैं तुम्हारी नाक जोड़ सकता हूँ, कोर्नेल कूट को पहले विस्वास नही हुआ, फिर बोला ठीक  है जोड़ दो तो वैद्य बोला तुम मेरे घर चलो| फिर वैद्य ने कोर्नेल को ले गया और उसका ऑपरेशन किया और इस ऑपरेशन का तिस पन्ने मे वर्णन है| ऑपरेशन सफलता पूर्वक संपन्न हो गया नाक उसकी जुड़ गयी, वैद्य जी ने उसको एक लेप दे दिया बनाके और कहा की यह लेप ले जाओ और रोज सुबह शाम लगाते रहना| वो लेप लेके चला गया और 15-17 दिन के बाद बिलकुल नाक उसकी जुड़ गयी और वो जहाज मे बैठ कर लन्दन चला गया|

फिर तिन महीने बाद ब्रिटिश पार्लियामेन्ट मे खड़ा हो कोर्नेल कूट भाषण दे रहा है और सबसे पहला सवाल पूछता है सबसे के आपको लगता है के मेरी नाक कटी हुई है? तो सब अंग्रेज हैरान होक कहते है अरे नही नही तुम्हारी नाक तो कटी हुई बिलकुल नही दिखती| फिर वो कहानी सुना रहा है ब्रिटिश पार्लियामेन्ट मे के मैंने हयदर अली पे हमला किया था मैं उसमे हार गया उसने मेरी नाक काटी फिर भारत के एक वैद्य ने मेरी नाक जोड़ी और भारत की वैद्यों के पास इतनी बड़ी हुनर है इतना बड़ा ज्ञान है की वो काटी हुई नाक को जोड़ सकते है|

फिर उस वैद्य जी की खोंज खबर ब्रिटिश पार्लियामेन्ट मे ली गयी, फिर अंग्रेजो का एक दल आया और बेलगाँव की उस वैद्य को मिला, तो उस वैद्य ने अंग्रेजो को बताया के यह काम तो भारत के लगभग हर गाँव मे होता है; मैं एकला नहीं हूँ ऐसा करने वाले हजारो लाखों लोग है| तो अंग्रेजों को हैरानी हुई के कोन सिखाता है आपको ? तो वैद्य जी कहने लगे के हमारे इसके गुरुकुल चलते है और गुरुकुलों मे सिखाया जाता है|

फिर अंग्रेजो ने उस गुरुकुलों मे गए उहाँ उन्होंने एडमिशन लिया, विद्यार्थी के रूप मे भारती हुए और सिखा, फिर सिखने के बाद इंग्लॅण्ड मे जाके उन्होंने प्लास्टिक सर्जरी शुरू की| और जिन जिन अंग्रेजों ने भारत से प्लास्टिक सर्जरी सीखी है उनकी डायरियां हैं| एक अंग्रेज अपने डायरी मे लिखता है के ‘जब मैंने पहली बार प्लास्टिक सर्जरी सीखी, जिस गुरु से सीखी वो भारत का विशेष आदमी था और वो नाइ था जाती का| मने जाती का नाइ, जाती का चर्मकार या कोई और हमारे यहाँ ज्ञान और हुनर के बड़े पंडित थे| नाइ है, चर्मकार है इस आधार पर किसी गुरुकुल मे उनका प्रवेश वर्जित नही था, जाती के आधार पर हमारे गुरुकुलों मे प्रवेश नही हुआ है, और जाती के आधार पर हमारे यहाँ शिक्षा की भी व्यवस्था नही था| वर्ण व्यवस्था के आधार पर हमारे यहाँ सबकुछ चलता रहा| तो नाइ भी सर्जन है चर्मकार भी सर्जन है| और वो अंग्रेज लिखता है के चर्मकार जादा अच्छा  सर्जन इसलिए हो सकता है की उसको चमड़ा सिलना सबसे अच्छे तरीके से आता है|

एक अंग्रेज लिख रहा है के ‘मैंने जिस गुरु से सर्जरी सीखी वो जात का नाइ था और सिखाने के बाद उन्होंने मुझसे एक ऑपरेशन करवाया और उस ऑपरेशन की वर्णन है| 1792 की बात है एक मराठा सैनिक की दोनों हात युद्ध मे कट गए है और वो उस वैद्य गुरु के पास कटे हुए हात लेके आया है जोड़ने के लिए| तो गुरु ने वो ऑपरेशन उस अंग्रेज से करवाया जो सिख रहा था, और वो ऑपरेशन उस अंग्रेज ने गुरु के साथ मिलके बहुत सफलता के साथ पूरा किया| और वो अंग्रेज जिसका नाम डॉ थॉमस क्रूसो था अपनी डायरी मे कह रहा है के “मैंने मेरे जीवन मे इतना बड़ा ज्ञान किसी गुरु से सिखा और इस गुरु ने मुझसे एक पैसा नही लिया यह मैं बिलकुल अचम्भा मानता हूँ आश्चर्य मानता हूँ|” और थॉमस क्रूसो यह सिख के गया है और फिर उसने प्लास्टिक सेर्जेरी का स्कूल खोला, और उस स्कूल मे फिर अंग्रेज सीखे है, और दुनिया मे फैलाया है| दुर्भाग्य इस बात का है के सारी दुनिया मे Plastic Surgery का उस स्कूल का तो वर्णन है लेकिन इन वैद्यो का वर्णन अभी तक नही आया विश्व ग्रन्थ मे जिन्होंने अंग्रेजो को प्लास्टिक सेर्जेरी सिखाई थी|

आपने पूरी पोस्ट पढ़ी  इसके लिए आपको बहुत बहुत धन्यवाद्
वन्देमातरम
भारत माता की जय

5000 साल पुराना असली विमान मिला अफगानिस्तान में

५००० साल पुराना असली विमान मिला अफगानिस्तान में  Russian Foreign Intelligence Service (SVR) report  5000 year old Viamana craft was found in Afghanistan :  अफगानिस्तान में बड़ा क्षेत्र है जहाँ US Military का केम्प है। इस क्षेत्र में कभी कभी electromagnetic shockwave यानि खतरनाक किरणें उत्पन्न होती थी जिससे मिलिट्री के कई जवान मारे गए या गायब हो गए।  इसकी तह तक पहुँचने के लिए अमेरिका 8 सील कमांडो अफगानिस्तान के उसी स्थान पार एक गुफा में गये तथा वहां उन्हें एक फंसा हुआ विमान दिखा जब वो उसेको निकालने प्रयास कर रहे थे। तभी वो अचानक गायब हो गए।  इस बारे में Russian Foreign Intelligence Service (SVR) report द्वारा 21 December 2010 को एक रिपोर्ट पेश की गयी की जिसमे बताया ये विमान द्वारा उत्पन्न एक रहस्यमयी Time Well क्षेत्र है जिसकी खतरनाक electromagnetic shockwave से ये जवान मारे गये या गायब हो गये। इसी की वजह से कोई गुफा में नहीं जा पा रहा।  US Military scientists ने इसकी ने बताया की ये विमान ५००० हज़ार पुराना है और जब कमांडो इसे निकालने का प्रयास कर रहे थे तो ये सक्रिय हो गया जिससे इसके चारों और Time Well क्षेत्र उत्पन्न हो गया यही क्षेत्र विमान को पकडे हुए थे। इसी क्षेत्र के सक्रिय होने के बाद 8 सील कमांडो गायब हो गए।  Time Well क्षेत्र विद्युत चुम्बकीये क्षेत्र होता है जो सर्पिलाकार होता है हमारी आकाशगंगा की तरह।  Russian Foreign Intelligence ने साफ़ साफ़ बताया की ये वही विमान है जो संस्कृत रचित महाभारत में वर्णित है। और जब इसका इंजन शुरू होता है तो बड़ी मात्र में प्रकाश का उत्सर्जन होता है।  SVR report का कहना है यह क्षेत्र 5 August को फिर सक्रिय हुआ था electromagnetic shockwave यानि खतरनाक किरणें उत्पन्न हुई ये इतनी खतरनाक थी की इससे 40 सिपाही तथा trained German Shepherd dogs इसकी चपेट में आ गए।  US Army CH-47F Chinook हेलीकाप्टर जो ओसामा बिन लादेन को मरने के बाद बापस लौट रहा था ये हेलीकाप्टर इसी विमान की shockwaves चपेट में आ गया था।  http://www.wired.com/dangerroom/2011/05/aviation-geeks-scramble-to-i-d-osama-raids-mystery-copter/  http://www.whatdoesitmean.com/index1510.htm  http://www.youtube.com/watch?v=qBlwhVyZxmQ  http://webcache.googleusercontent.com/search?q=cache%3Ahttp%3A%2F%2Freinep.wordpress.com%2F2011%2F10%2F09%2F5000-year-old-viamana-craft-was-found-in-afghanistan%2F
 
५००० साल पुराना असली विमान मिला अफगानिस्तान में

Russian Foreign Intelligence Service (SVR) report

5000 year old Viamana craft was found in Afghanistan :

अफगानिस्तान में बड़ा क्षेत्र है जहाँ US Military का केम्प है। इस क्षेत्र में कभी कभी electromagnetic shockwave यानि खतरनाक किरणें उत्पन्न होती थी जिससे मिलिट्री के कई जवान मारे गए या गायब हो गए।

इसकी तह तक पहुँचने के लिए अमेरिका 8 सील कमांडो अफगानिस्तान के उसी स्थान पार एक गुफा में गये तथा वहां उन्हें एक फंसा हुआ विमान दिखा जब वो उसेको निकालने प्रयास कर रहे थे। तभी वो अचानक गायब हो गए।

इस बारे में Russian Foreign Intelligence Service (SVR) report द्वारा 21 December 2010 को एक रिपोर्ट पेश की गयी की जिसमे बताया ये विमान द्वारा उत्पन्न एक रहस्यमयी Time Well क्षेत्र है जिसकी खतरनाक electromagnetic shockwave से ये जवान मारे गये या गायब हो गये।
इसी की वजह से कोई गुफा में नहीं जा पा रहा।

US Military scientists ने इसकी ने बताया की ये विमान ५००० हज़ार पुराना है और जब कमांडो इसे निकालने का प्रयास कर रहे थे तो ये सक्रिय हो गया जिससे इसके चारों और Time Well क्षेत्र उत्पन्न हो गया यही क्षेत्र विमान को पकडे हुए थे। इसी क्षेत्र के सक्रिय होने के बाद 8 सील कमांडो गायब हो गए।

Time Well क्षेत्र विद्युत चुम्बकीये क्षेत्र होता है जो सर्पिलाकार होता है हमारी आकाशगंगा की तरह।

Russian Foreign Intelligence ने साफ़ साफ़ बताया की ये वही विमान है जो संस्कृत रचित महाभारत में वर्णित है। और जब इसका इंजन शुरू होता है तो बड़ी मात्र में प्रकाश का उत्सर्जन होता है।

SVR report का कहना है यह क्षेत्र 5 August को फिर सक्रिय हुआ था electromagnetic shockwave यानि खतरनाक किरणें उत्पन्न हुई ये इतनी खतरनाक थी की इससे 40 सिपाही तथा trained German Shepherd dogs इसकी चपेट में आ गए।

US Army CH-47F Chinook हेलीकाप्टर जो ओसामा बिन लादेन को मरने के बाद बापस लौट रहा था ये हेलीकाप्टर इसी विमान की shockwaves चपेट में आ गया था।

http://www.wired.com/dangerroom/2011/05/aviation-geeks-scramble-to-i-d-osama-raids-mystery-copter/

http://www.whatdoesitmean.com/index1510.htm

http://www.youtube.com/watch?v=qBlwhVyZxmQ

http://webcache.googleusercontent.com/search?q=cache%3Ahttp%3A%2F%2Freinep.wordpress.com%2F2011%2F10%2F09%2F5000-year-old-viamana-craft-was-found-in-afghanistan%2F

tomato (*टमाटर*) में छिपे हें उम्र बढ़ाने के राज

britain के scientists ने टमाटर में ऐसी खोज की हे जो शायद आपकी उम्र लम्बी करदे ब्रिटेन के वैज्ञानिकों ने टमाटर के बीजों में एक ऐसा तत्व खोजा हे जो आपकी उम्र बढ़ाने में काफी सहायक सिद्ध हो सकता हे और ये आपके जीवन को health की नजर से सुखी बना सकता हे वैज्ञानिकों के अनुसार टमाटर के बीजों में एक ऐसा तत्व होता हे जिसे frout flow (*फ्रूटफ्लो*) नाम दिया गया हे और इस की खोज भारतीये मूल के वैज्ञानिक प्रोफेसर असीम दत राये ने 1999 में की थी पर उस समय ये नही पता चल पाया था की इस तत्व का उपयोग आपका जीवन बढ़ाने में किया जा सकता हे वैज्ञानिकों के अनुसार टमाटर में पाया जाने वाला ये तत्व आपके खून को चिपचिपा और थक्का बनाने से रोकता हे तो होजाएं तयार अपनी उम्र बढ़ाने के लिए

श्मशान में स्वर्ग

रसिक शर्मा, गोवर्धन (मथुरा): बृज धरा यूं तो मंदिरों के लिए विख्यात है, लेकिन यहां एक श्मशान घाट की बात भी कुछ खास है। यह जब उजड़ रहा था तो एक योग अकादमी ने इसका संरक्षण अपने हाथ में लिया। इसके बाद इसकी दशा परिवर्तित कर दी। श्रीकृष्ण को प्रिय कदम्ब के हजारों पौधे रोपित किए, जो अब वृक्ष बनकर स्वर्गिक आनंद का अहसास कराते हैं। रुद्राक्ष के करीब दो दर्जन पेड़ आध्यात्म से जोड़ते हैं। यही नहीं इस वनीकरण का नतीजा है कि यहां भूमिगत जल स्त्रोत आश्चर्यजनक से ऊपर आ गए हैं। यह सिर्फ पांच-छह फीट पर हैं।
मुकुट मुखारविंद (गोवर्धन मंदिर) के पास राधाकुंड परिक्रमा मार्ग में भरतपुर राज परिवार की छतरियों (समाधि स्थन) का निर्माण भरतपुर रियासत के राजा बलवंत, राजा बल्देव सिंह और राजा रंजीत सिंह की स्मृति में भरतपुर राजघराने ने सन् 1825 में कराया था। भूरे रंग के पत्थरों और छतरियों पर की गई स्वर्ण जड़ित पेंटिंग्स बस देखते ही बनती है। श्री कृष्ण भक्ति को दर्शाते कृष्ण की लीलाओं से प्रेरित चिन्हों पर जगमगाती रोशनी श्मशान स्थल को अनोखा सौंदर्य प्रदान करती है।

पूरी जानकारी के लिए इस साईट पर जाएँ www.hindi.vrindavantoday.org/2011/10/श्मशान-में-स्वर्ग/