Category Archives: health tips

पेट के समस्त रोगों का इलाज पेट में भारीपन जलन अरुचि फूलना

पेट में अनेको रोग होते रहते है यदि इनका समय रहते इलाज न हो तो ये Pet के साधारण रोग काफी बड़े हो जाते है इस लेख में काफी आसान नुस्खे दिए गए है जिनके इस्तेमाल से आप Pet ke rogo ko dur kar sakte hae.

पेट के समस्त रोगों का इलाज

पेट में भारीपन के नुस्खे Pet ke rogo ko dur kar sakte hae.

  • चने का क्षार 2 से 6 रत्ती अथवा प्रभावी क्षार 5 से 10 बूंद दो-तीन बार दो-दो घंटे लेने से Pet  का भारीपन मिटता है|
  • बैगन को अंगारों पर सेककर उसमे सज्जिखर मिलाकर पेट पर बंधने से पेट के भारीपन का शमन ओता है|
  • द्रास्ख और सौफ दो-दो तोला लेकर आधा लीटर पानी में भिगोकर रख दीजिए, सुबह उसे मसल और छानकर तथा उसमे एक तोला शक्कर मिलाकर कुछ दिनों तक पिने से पेट का भारीपन  दूर हो जाता है |

पेट कि जलन के नुस्खे

  • अजवाइन और नमक पीसकर उसकी फंकी लेने से पेट कि जलन का शमन होता है |
  • धनिया और जीरा 10-10 ग्राम लेकर उन्हें अधकुटा कर लीजिये और 3 से 250 मी.ली. पानी में रात को भिगोकर रख दीजिये, सुबह उसे मसल-छानकर उसमे शक्कर डालकर चार-छ: दिन तक पिने से पेट कि जलन शांत होती है |
  • धनिया और शक्कर का शरबत बनाकर पिने से भी पेट कि जलन दूर होती है |
  • अजवाइन को तवे पर भुनकर उसमे संभाग में सेंधा नमक मिलाकर चूर्ण बना ले, तीन ग्राम कि मात्रा में यह चूर्ण ग्राम पानी के साथ लेने से पेट कि जलन मिटती है |

अरुचिनाशक नुस्खे

मोटापा एक दिन में कम करने के घरेलु नुस्खे

  • 20 तोला अदरक छीलकर उसकी चटनी बनाइए, फिर इसे 20 तोला घी में भुनी, तब वह  लाल हो जाए तब उसमे 40 तोला गुड डालकर हलवे जैसा गाढ़ा अक्लेह बनाइए एक-एक तोला इस अक्लेह को सुबह-शाम प्रतिदिन खाने से अरुचि विकार दूर होता है और भूख  खुलकर लगती है |
  • नीम्बू का रस एक भाग और शक्कर छ: भाग चासनी लेकर उसमे लौंग और काली मिर्च का थोड़ा-सा चूर्ण मिलाकर, शरबत बना कर पिने से अरुचि का शमन होता है | और आहार का पाचन होता है |
  • सौंठ एक तोला कलि एक तोला, पिपरी एक तोला और सेंधा नमक एक तोला इन सभी को कूटकर कपड़े से छानकर चूर्ण बनाइए, इसमें 40 तोला काली द्राक्ष बीज (बीज निकली हुई) मिलाइए, इसे चटनी कि तरह पीसकर किसी कांच के बर्तन में भरकर रख लें | इस अवलेह को प्रतिदिन आधे से दो तोले तक सुबह-शाम सेवन करें | यह अरुचिनाशक तो है ही, साथ ही अन्य पेट विकारों का शमन भी करता है |

Keywords:- #pet ke rog aur upchar in hindi, #आंत के रोग,#पेट में इन्फेक्शन के लक्षण,#पेट के नीचे दर्द,#बार बार पेट खराब होना,#पेट मे गैस का ईलाज,stomach diseases and treatment,chronic gastritis symptoms,gastritis treatment at home,gastritis cure,gastric pain relief,
acute gastritis treatment,how to cure gastritis permanently,gastritis pictures,
diet for gastritis,pet ki bimari ka ilaj,pet ki garmi ka ilaj in hindi

मोटापा एक दिन में कम करने के घरेलु नुस्खे

मोटापा घटेगा अब रोग 1 किलो वजन कम करे /  weight loss tips at home in hindi

मोटापा दुनिया को दुखी कर राहा है

मोटापे से जहाँ शरीर भद्दा और बेडौल दिखाई देता है, वहीं स्वास्थ्य से सम्बंधित कुछ व्याधियाँ पैदा हो जाती हैं, लिहाजा

weight loss tips at home in hindi

मोटापा weight loss tips at home in hindi

मोटापा किसी भी सूरत में अच्छा नहीं होता। बहुत कम स्त्रियाँ मोटापे का शिकार होने से बच पाती हैं। हर समय कुछ न कुछ खाने की शौकीन, मिठाइयाँ, तले पदार्थों का अधिक सेवन करने वाली और शारीरिक परिश्रम न करने वाली स्त्रियों के शरीर पर मोटापा आ जाता है।

भोजन के अन्त में पानी पीना उचित नहीं, बल्कि एक-डेढ़ घण्टे बाद ही पानी पीना चाहिए। इससे पेट और कमर पर मोटापा नहीं चढ़ता, बल्कि मोटापा हो भी तो कम हो जाता है।

आहार भूख से थोडा कम ही लेना चाहिए। इससे पाचन भी ठीक होता है और पेट बड़ा नहीं होता। पेट में गैस नहीं बने इसका खयाल रखना चाहिए। गैस के तनाव से तनकर पेट बड़ा होने लगता है। दोनो समय शौच के लिए अवश्य जाना चाहिए।

भोजन में शाक-सब्जी, कच्चा सलाद और कच्ची हरी शाक-सब्जी की मात्रा अधिक और चपाती, चावल व आलू की मात्रा कम रखना चाहिए।

सप्ताह में एक दिन उपवास या एक बार भोजन करने के नियम का पालन करना चाहिए। उपवास के दिन सिर्फ फल और दूध का ही सेवन करना चाहिए।

पेट व कमर का आकार कम करने के लिए सुबह उठने के बाद या रात को सोने से पहले नाभि के ऊपर के उदर भाग को ‘बफारे की भाप’ से सेंक करना चाहिए। इस हेतु एक तपेली पानी में एक मुट्ठी अजवायन और एक चम्मच नमक डालकर उबलने रख दें। जब भाप उठने लगे, तब इस पर जाली या आटा छानने की छन्नी रख दें। दो छोटे नैपकिन या कपड़े ठण्डे पानी में गीले कर निचोड़ लें और तह करके एक-एक कर जाली पर रख गरम करें और पेट पर रखकर सेंकें। प्रतिदिन 10 मिनट सेंक करना पर्याप्त है। कुछ दिनो में पेट का आकार घटने लगेगा।

सुबह उठकर शौच से निवृत्त होने के बाद निम्नलिखित आसनों का अभ्यास करें या प्रातः 2-3 किलोमीटर तक घूमने के लिए जाया करें। दोनों में से जो उपाय करने की सुविधा हो सो करें।

भुजंगासन, शलभासन, उत्तानपादासन, सर्वागासऩ, हलासन, सूर्य नमस्कार। इनमें शुरू के पाँच आसनों में 2-2 मिनट और सूर्य नमस्कार पाँच बार करें तो पाँच मिनट यानी कुल 15 मिनट लगेंगे।

भोजन में गेहूँ के आटे की चपाती लेना बन्द करके जौ-चने के आटे की चपाती लेना शुरू कर दें। इसका अनुपात है 10 किलो चना व 2 किलो जौ। इन्हें मिलाकर पिसवा लें और इसी आटे की चपाती खाएँ। इससे सिर्फ पेट और कमर ही नहीं सारे शरीर का मोटापा कम हो जाएगा।

प्रातः एक गिलास ठण्डे पानी में 2 चम्मच शहद घोलकर पीने से भी कुछ दिनों में मोटापा कम होने लगता है। दुबले होने के लिए दूध और शुद्ध घी का सेवन करना बन्द न करें। वरना शरीर में कमजोरी, रूखापन, वातविकार जोड़ों में दर्द, गैस ट्रबल आदि होने की शिकायतें पैदा होने लगेंगी।

ऊपर बताए गए उपाय करते हुए घी-दूध खाते रहिए, मोटापा नहीं बढ़ेगा। इस प्रकार उपाय करके पेट और कमर का मोटापा निश्चित रूप से घटाया जा सकता है ।

health tips 17 आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे स्वास्थ्य के लिए

keywords: #weight loss tips at home in hindi,#tips for weight loss in 7 days in hindi,#ayurvedic tips for weight loss in hindi,

body care के घरेलु उपाय जानिए शरीर को स्वस्थ और सुंदर रखिये

body care in hindibody care सौन्दर्य परमात्मा का स्वरूप है। शरीर को स्वस्थ (body care) और सुन्दर बनने के लिए श्रम करते रहना ही पूजा अर्चना है और अपने-आपको सुन्दर तथा रूपवान बनाकर समाज में रहना ही परमात्मा तत्त्व का बोध है; भीतर से और बाहार से सुन्दर बन कर रहे, सभी आपको चाहेंगे। body care के लिए सुन्दर बनने के लिए निम्न उपाय काम में ले।

body care tips in hindi – शरीर को स्वस्थ और सुंदर बनाने के देसी नुस्खे

हरड के फायदे

सुन्दरता बनाये रखने में हरड़ महत्वपूर्ण है। चाय वाली दो चम्मच हरड़ की गर्म पानी से रात्रि को हर चौथे दिन लेने से शरीर के विषाक्त द्रव्य बाहर निकल जाते हैं। हरड़ स्वयं स्सायन द्रव्य होने से शरीर में शक्ति – स्कूर्ति बनी रहती है।

सलाद के फायदे

 भोजन में पत्तागोभी, गाजर, टमाटर, ककडी, मूली आदि की कच्ची सलाद खाने से शारीरिक सौन्दर्यं बना रहता है।

हल्दी के फायदे

कच्ची ताजा हल्दी की चटनी खाने से या सब्जी में खाने से त्वचा का रंग गोरा रहता है, रक्त शुद्ध होता है।

काले धब्बे खत्म करेंने का तरीका

ककड़ी और टमाटर के रस को मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे के काले धब्बे दूर हो जाते हैं।

आलू के फायदे

आलूको पीसकर शरीर पर मलें। त्वचा काँतिमय हो जायेगी। उबाले हुए आलू के पानी से शरीर को धोने से त्वचा साफ और सुन्दर हो जाती है।

शहद के फायदे

शहद त्वचा पर दो घंटे लगा रहने दें । इसके बाद गर्म पानी से धोये l त्वचा पर चमक आ जायेगी।

मसूर की दाल के फायदे

मसूर की दाल नीबू के रस में दिन में भिगो दें। फिर पीस कर रात को । चेहरे पर लेप करें दूसरे दिन प्रात: मुँह धोये, मुख का सौन्दर्य बढ जायेगा।

स्तन

ढीले ओर लटके हुए स्तनों को सुन्दर बनाने के लिए कसरत करें । सीधे सो जायें गहरा श्वास लेकर अपने सिर को सोते सोते ही पीछे की तरफ ले जाएँ और साथ-साथ छाती के हिस्से को ऊँचा लेते जाएँ, इस व्यायाम से ढीले स्तन में कसाव आयेगा, यह 10 मिनट प्रतिदिन सुबह खली पेट 1 महिना करें,

माजूफल घिसकर शहद में मिलाकर स्तनों पर लेप करें और दो घंटे बाद धोएं, रात्री को बादाम रोगन की मालिश करें,

पिली सरसों और चिरोंजी समान मात्रा में गाय के दूध में दो घंटे भिगोकर पीस कर गर्म करके रात्री को चेहरे पर लेप करें, दुसरे दिन सुबह: चेहरा धोये , चेहरा चमकने लगेगा,

त्रिफला चूर्ण नींबू के रस में भिगोकर चेहरे पर लेप करें, आधा घंटे बाद चेहरा धोएं, सोंदर्य निखर उठेगा,

दो चम्मच पिसी हुई हल्दी, 5 चम्मच बेसन, दो चम्मच सरसों का तेल तथा पानी मिलाकर, गूँथ कर त्वचा पर मर्ता इस उबटन से सोन्दर्य बढता है। गर्दन पर नीबूरगड़ कर साफ करें। फिर दूध मले। गर्दन सुन्दर दिखने लगेगी।

body care tips in hindi, body care tips, beauty tips in hindi, body fairness tips in hindi language, face fairness tips in hindi, face pack for fairness in hindi, beauty tips

त्वचा की देखभाल करने के आयुर्वेदिक नुस्खे घरेलु उपाय

skin care in hindiskin गर्मी में तवचा की देखभाल करना काफी जरूरी हो जाता है । यदि हम सभी आयुर्वेद का सही इस्तेमाल करे को हमें कोई भी skin diseases तवचा का रोग नहीं होगा । आयुर्वेद वेदों के दवारा हम मनुष्यों को डिगे अनमोल दें है । वेदों से ही आयुर्वेद भारत के दवारा इस पुरे संसार में फैला है । यदि हम आयुर्वेदिक नुस्खो का सही से इस्तेमाल करे तो हमें skin के रोगों से छुटकारा पा सकते है । यदि आप आयुर्वेदिक नुस्खो से अपनी skin problems को दूर करेंगे तो आपको कोई भी इसका side effect नहीं होगा ।

skin treatment in ayurveda in hindi (तवचा को सुन्दर बनाने के आयुर्वेदिक नुस्खे)

त्वचा के रोग होने के कारण

1:- यदि आपको अधिक तनाव रहता है तो भी आपको तवचा से सम्बन्धित रोग हो सकते है ।

2:- यदि आप ठीक भोजन नहीं करते सही पोषक तत्व आपको नहीं मिलते तो भी आपको तवचा के रोग होंगे ।

3:- अचानक मोसम बदलने के कारण भी तवचा के रोग होजाते है ।

4:- जब आपकी उम्र बढ़ेगी तब भी आपको तवचा से सम्बन्धित रोग होंगे ।

5:- जो व्येक्ती चाय अधिक पीते है उन्हें भी ये skin problems होती है ।

skin treatment in hindi

1:- पानी पिने के फायदे

skin के रोगों को दूर करने के लिए आप खूब सारा पानी पीना शुरू कीजिये । रात को आप ताम्बे के बर्तन में पानी भर कर रख दीजिये और सुबह खाली पेट इस पानी को पीजिये आपको इसके फायदे खुद ही दिख जायेंगे । बाकी के पुरे दिन में गर्मियों में तो खास तोर पर हर 1 घंटे में एक गिलास पानी पीजिये । ये पानी आपकी तवचा को खुबसारा पोषण देगा और आपकी तवचा तरो ताजा रहेगी। इसीलिए खूब सारा पानी पीजिये । और दुसरो को भी बताइए ।

2:- तवचा के लिए हरी सब्जी के फायदे

हरी सब्जी खाने में जितनी स्वादिष्ट होती है वैसे ही इसमें गुण भी होते है । यदि आप रोज हरी सब्जी खायेंगे जैसे, पालक , धनिया, बथुआ, सरसों आदि तो आपको इसके काफी सरे लाभ होंगे । और आपकी skin भी अच्छी रहेगी हरी सब्जी गुणों की खान है । हरी सब्जी खाने से आपके शारीर में खून बढेगा और चेहरे पर चमक आयेगी ।

3:- खीरे के फायदे

यदि आप खीर खाते है तो आपको अनेको फायदे होंगे और ये आपकी चमड़ी के लिए भी काफी फायदे का है । आँखों के काले घेरे खतम करने के लिए आँखों पर खीरे का टुकड़ा रखिये आँखों को ठंडक भी मिलेगी और कला घेरा भी दूर होगा ।

4 :- रोज व्यायाम कीजिये

आपको रोज खूब व्यायाम करना चाहिए । रोज सुबह खूब व्यायाम कीजिये आप जब व्यायाम करते है तो आपका खून साफ होता है और नया रक्त बनता है । खून साफ होने के कारण आपकी skin glow होती है skin glow

5:- बहार का खाना बंद कीजिये

कभी भी बाहार का खाना नहीं खाना चाहिए इसमें काफी अधिक मिर्च मसाला होता है । फास्टफूड जैसा जेहरिला खाना आपके शारीर में जेहर बनता है । जिसके कारण आप अनेकों रोगों से घिर जाते है ये खराब तेल में बनता है । आप घर पर बनाकर खाइए आपकी सेहत के लिए काफी अच्छा रहेगा ।

6:- प्राणायाम करने से फायदा

आप रोज सुबह जल्दी उठिए और सोच आदि से निवर्त होकर खुली हवा में घुमने जाइये। और वंहा कुछ देर टहल कर फिर किसी नदी या तालाब के पास आसन लगाकर बेथ जाइये । यद् आपके पासमें स्वच्छ पानी का तालाब या नदी नहीं है तो किसी भी खुली जंघा पर बैठ सकते है । अब कमर गर्दन सीधी रखते हुए आराम आराम से लम्बी गहरी सांस लीजिये और जब पुरे छाती पेट हवा से भर जाए तो धीरे धीरे नाक से ही खली कर दीजिये । एसा कम से कम 10 बार जरुर करें । इस प्राणायाम को करने से आपका खून साफ होगा । फेफड़ों को शुद्ध ऑक्सीजन मिलेगी और आपका skin glow होगी ।

 चेहरे को सुन्दर कैसे बनाएं

दोतो उमीद है आपको ये जानकारी पसंद अयिहोगी आप अपने मित्रो के साथ इस जानकारी को जरुर शेयर कीजिये ।

नमस्ते , जय आर्यवर्त

#face care in hindi , #skin care hindi, skin care at home in hindi, skin diseases in hindi, twacha ki dekhbhal in hindi, चेहरे पर चमक कैसे लाये, चेहरे पर चमक लाने के घरेलू उपाय, चेहरे पर चमक लाने के लिए योग

गर्मी से बचने के ये घरेलु उपाय नहीं जानते होंगे आप

summer season in hindisummer season से बचने के उपाय क्या आप भी ये उपाय जानना चाहते है तो इस लेख को ध्यान से पढ़िए, इस समय सूर्य अपने परचंड रूप में है, अभी ये मई का महिना चल रहा है अभी इतनी ज्यादा गर्मी है तो आगे आने वाले समय में और भी ज्यादा गर्मी पड़ेगी, गर्मी से सभी परेसान है चाहे तो इन्सान हो या पशु पक्षी सभी summer season से बचने के उपाय ढूंढते रहते है!

गर्मी के दिनों में जो जब गरम हवा चलती है तो उसे लू बोलते है यदि ये लू ये गरम हवा किसी को लग जाये तो उसे उलटी दस्त जैसे रोग होजाते है, ये रोग एसे है जिनके कारण शारीर का पानी खतम होजाता है! और ये जानलेवा होता है यदि किसी को summer season से बचने के सही तरीकों के बारे में न पता हो तो उसका स्वस्थ रहना मुश्किल है!

यदि आप गर्मी के मोसम में थोडा समझदारी से काम लेवे तो आप इस भयंकर गर्मी से बच सकते है, आज इस लेख में आप एसे घरेलु नुस्खे पढेंगे जिनसे आप अपने को और अपने मित्रो को गर्मी से बचने की सही सलहा दे सकते है,

summer season गर्मी से बचने के घरेलु नुस्खे

1:- खरबूजे से गर्मी दूर भागे

गर्मियों में खरबूजा प्रकृति का अनमोल उपहार है आप जानते ही है की खरबूजे और तरबूज में पानी की अधिकता होने के कारण ये हमारे शारीर में पानी की कमी नहीं होने देता, इसीलिए आपको गर्मियों में खरबूजा जरुर खाना चाहिए यदि आप थोडा समझदारी से काम लेवें तो आप स्वस्थ रह सकते है, और गर्मी से अपने को बचा सकते है इसी परकार आप तरबूज का भी सेवन कर सकते है इन दोनों का एक जैसा ही फायदा आपको मिलेगा !

सावधानी :- तरबूज या खरबूजा खाने के बाद पानी कभी भी न पिए वरना आपको हैजा जरुर होगा और ये अच्छा नहीं है !

2:- नारियल पानी के फायदे

नारियल पानी पिने में जितना स्वादिष्ट होता है उतने ही इसमें गुण होते है, गर्मियों में नारियल पानी आपके लिए अमृत है, नारियल पानी को आप जरुर पीजिये और गर्मियों में स्वस्थ रहिये !

3:- मुल्तानी मिट्टी से नहाने के फायदे

मुल्तानी मिट्टी भी इश्वर की एक अनमोल देन है, मुल्तानी मिट्टी से आपको बर्फ जैसी ठंडक मिल सकती है ! यदि आप मुल्तानी मिटटी का पर्योग सही से करना सिखले तो आप गर्मियों के महीने को ठीक से काट सकेंगे ! एक किलो मुल्तानी मिट्टी लीजिये और उसे किसी मिटटी के बर्तन में भिगो दीजिये अब 12 घंटो बाद ये मिट्टी सही फुल जाएगी इसमें पानी मिलकर इसे थोडा गाढ़ा कर लीजिये अब इसे पुरे शारीर पर अच्छे से लगा लीजिये और सूखने तक का इंतजार कीजिये 30 मिनट इसके बाद ठंडे पानी से नाहा लीजिये, इसके बाद आप काफी ठंडा ठंडा महसूस करेंगे !

4:- जों का सत्तू

जों के सत्तू की तासीर ठंडी होती है आप गर्मियों में जों का सत्तू रोज पीजिये और इससे ठंडक पिये, आप इसमें चने का सत्तू भी मिलकर पि सकते है !

5:- आम का पन्ना

आम का पन्ना आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद है, आम का पन्ना की तासीर ठंडी होती है वेसे तो इसे कच्चे आम को उबाल कर उसमें ठंडा पानी खांड आदि मिलाकर पिया जाता है पर आप इसे बना बनाया भी खरीद सकते है बाबा रामदेव की पतंजली कम्पनी ये बनती है इसके 2 ढकन एक गिलास पानी में मिलाकर पीजिये काफी अच्छा टेस्ट है !

दोस्तों उमीद है आपको ये लेख पसंद आया होगा यदि आपको कुछ अच्छा सिखने को मिला तो अपने मित्रो के साथ शेयर करना ना भूले ! ओउम नमस्ते

काला नमक के लाभ

keywords:- Summer Safety Health Care Tips In Hindi, tips to fight summer in hindi, summer season tips in hindi, garmi se bachne ke upay, garmi se bachne ke tips, garmi se bachne ke nuskhe in hindi

health tips 17 आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे स्वास्थ्य के लिए

health tips in hindihealth tips in hindi दोस्तों आज इस लेख में काफी सारे अलग अलग बीमारियों के घरेलु नुस्खे दिए गए है इन health tips को इस्तेमाल कर अप healthy life जी सकते है इस लेख में बिलकुल आसान से health tips दिए गए है आप इन्हें आसानी से प्रयोग कर सकते है दोस्तों यदि आपको ये tips अच्छे लगें तो अपने मित्रो के साथ भी ये health tips in hindi लेख को शेयर जरुर करें

top 17 health tips in hindi

1:- अजीर्ण भूख कम लगना

एक प्याज काटलें और उसपर सेंधा नमक और निम्बू लगाकर सेवन करें एसा करने से भूख अच्छी लगेगी

2:- एलोवेरा से मोटापा कम करें

रोज एलोवेरा का जूस पिने से वजन कम होता है और मोटापा नहीं बढ़ता है एलोवेरा के सेवन से आप का शरीर स्वस्थ रहता है और पेट सही रहता है

3:- तरबूज health tips in hindi

  • तरबूज हमारे शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है और भोजन अच्छा पचता है और हमारी अंतो को शक्ति देता है
  • तरबूज में एक तत्व लाइकोपीन पाया जाता है जो आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है इसीलिए गर्मियों में तरबूज जरुर खाएं
  • तरबूज खाने से आपका कोलेस्ट्राल नियंत्रित होगा और ये आपके ह्रदय को भी मजबूती देगा

4:- घाम घमोरियों का इलाज

गर्मियों मेंहमेसा सूती और ढीले वस्त्र ही पहनने चाहिए जब भी बहार से आयें तो स्नान जरुर करलें और नारियल तेल मेंकपूर मिलाकर पुरे शरीर पर लगालें गर्मियों में सिंथेटिक के कपड़े ना पहने इन कपड़ों से घमोरियां बढती हैं

5:- खरबूजा

खरबूजे में एंटीआक्सीडेंट और विटामिन c काफी मात्रा में पाया जाता है और ये पानी का भी अच्छा स्त्रोत है लगभग 95% इसमें पानी ही होता है इसमें एसे तत्व है जो आपकी बॉडी के लिए अच्छे है

6:- अमरुद

  • अमरुद खाने में जितना अच्छा है उतने ही इसमें गुण है अमरुद मधुमेह के रोगियों के लिए भी लाभदायक है ये फाइबर का अच्छा स्त्रोत है जो आपकी रक्त शर्करा को कम करता है
  • अमरुद में विटामिन c भी काफी ज्यादा है इसमें विटामिन c की मात्रा संतरे से चार गुना ज्यादा है
  • जिनको thyroid का रोग है उनके लिए ये अमरुद काफी फायदेमंद है

7:- लू से बचने के लिए health tips

गर्मियों में जब हवा चलती है तो वो गर्म होती है जिसे लू कहते है इससे बचने का उपाय आपको पता होना चाहिए जब भी घर से निकले तो सर पर कपड़ा जरुर रखें और ठंडाई, गन्ने का रस, निम्बू पानी पीजिये, आम का पन्ना पीजिये और खूब सारा पानी पीजिये

8:- खीरा

गर्मियों में खीरा खूब खाएं खीरा खाने से पेट ठीक रहेगा और पेटका कोई भी रोग नहीं सताएगा ये खीर आपके शरीर से विशेले तत्व को बाहार निकालेगा इसलिए गर्मियों में रोज खीरे खाइए

9:- गन्ने का रस

गन्ने का रस गर्मियों में आपका मित्र है ये गन्ने का रस आपको शीतलता प्रदान करता है ये आपकी बॉडी के लिए काफी उपयोगी है ये मूत्र जलन को भी रोकता है और आपको ताकत भी देता है इसीलिए रोज 1 गिलास गन्ने का जूस पीजिये

10:- मुलहठी

यदि आपको धुम्रपान की आदत है और आप इस धुम्रपान की आदत को छोड़ना चाहते है और छोड़ नहीं पारहे तो ये मुलहठी आपकी मदद कर सकती है आपको बस ये करना है जब भी धुम्रपान की इच्छा हो तो मुलहठी का एक टुकड़ा चूसिये धीरे धीरे आपकी धुम्रपान की आदत छुट जाएगी

11:- बड़ी इलायची

यदि आपकी शरीर में दर्द रहता है तो बड़ी इलायची इसमें आपकी काफी सहयता कर सकती है बस आपको ये करना है 2 बड़ी इलायची का चूर्ण पानी में मिलाकर दिन में 3 बार पीजिये एसा करने से आपको शरीर के दर्द से छुटकारा जल्दी ही मिलेगा

12:- अस्थमा का उपचार

प्याज का रस अदरक का रस आधा आधा चम्मच ले लें और इसमें तुलसी के 4 पत्तों का रस और 1 चम्मच शहद मिलाकर रोज सुबह शाम लेने से अस्थमा का रोग दूर भागता है जिनको शुगर है वो शहद का सेवन ना करें

13:- गेंदे का फुल मच्छरों को दूर रखे

जी हाँ गेंदे का फुल मच्छरों को दूर रखता है यदि आप अपने बालकनी में गेंदे के फुल लगायेंगे तो इसके आपको दो फायदे होंगे एक तो मच्छर नही आएंगे और दूसरा फूलों की ताजा ताजा खुशबु आपको मिलेगी इसलिए गेंदे के फुल जरुर लगाने चाहियें

14:- गठिया

यदि आपको गठिया का रोग है तो आप ये नुस्खा आजमा कर देखिये आपको फायदा होगा आधा चम्मच सुखी अदरक का चूर्ण इसको सोंठ भी काहा जाता है इसे रोज गुनगुने पानी के साथ या फिर गर्म दूध के साथ लीजिये इस घरेलू नुस्खे को आजमा कर देखीय गठिया का रोग ठीक होगा

15:- पुदीना

पुदीने को यदि गर्मियों का अमृत कहा जाये तो गलत ना होगा गर्मियों में पुदीना आपको आसानी से मिलजायेगा ये पुदीना आपके लिए काफी लाभदायक है आप ये प्रयोग करके देखें थोड़े से पुदीने को पानी में पिस लें और इसमें थोडा सा भुना हुआ जीरा लें नीबू का रस और नमक भी लें इनको पानी में मिलाकर पीजिये इस नुस्खे से आपको पेट से सम्बन्धित कोई रोग नही होगा और आपका पेट स्वस्थ रहेगा

16:- बहुमुत्रता यानि अधिक पेशाब आना health tips

रोज एक गिलास दूध में 2 छुहारे उबाल लें और इन्हें खाकर उपर से इस दूध को पीजिये इस घरेलू नुस्खे से आपको अधिक पेशाब का रोग नहीं सताएगा

17:- आँखों की देखभाल के लिए health tips

आज आँखों के रोग अधिकतर सभी को है कम्पुटर पर अधिक बेठना फोन का अधिक इस्तेमाल करना और प्रदूषण के कारण भी आपकी आंखे खराब हो जाती है आँखों के रोगों से बचाव के लिए रोज हरी सब्जिया खाइए गाजर खाइए सेब संतरे खाइए और कम्पुटर पर काम करते समय आँखों को ज्यादा झपकिये और कटोरी में ठंडा पानी लेकर उसमें आँखों को डुबाने से आपकी आँखे स्वस्थ रहेंगी ये घरेलु उपचार आँखों के लिए जरुर आजमा कर देखिये काफी लाभ होगा

दोस्तों उमीद है की आपको ये hindi health tips पसंद आयी होंगी यदि आपको ये घरेलु नुस्खे पसंद आये तो हमारे फेसबुक के पेज को भी लाइक कीजिये और फेसबुक पर हमारे दोस्त बनिए https://www.facebook.com/maabharti 

heart problems के कारण और इलाज

tag:- health tips hindi,  hindi health tips, only my health in hindi, ayurveda hindi, good health tips in hindi, health care in hindi, health news in hindi, घरेलू नुस्खे, आयुर्वेदिक उपाय, घरेलू उपचार, आयुर्वेदिक उपचार

heart problems के कारण और इलाज इन आसान घरेलु तरीको से

heart problems से सम्बन्धित रोग काफी प्रकार के होते है। परन्तु आज ज्यादातर व्येक्ती ये ही मानते है की जब हमारे heart problemsheart को खून पोहचाने वाली रक्त धमनियां रुक जाती है। यानिकी उसमें रक्त गाढ़ा हो जाता है तो heart attack जेसी परेशानी खड़ी हो जाती है लेकिन आम आदमी ये नहीं जनता की ये heart problems कई प्रकार की हो सकती है। जिसके कारन Heart diseases और परेशानी अलग अलग तरीके की हो सकती है हमें चाहे किसी भी तरीके की Heart diseases हो उसमें आज की हमारी दिनचर्या का काफी योगदान है। जिसके कारण हमें ये heart problems होती है यदि हम अपने खाने पिने में और अपनी दिन चर्या में बदलाव कर सके तो हम सभी परकार की heart problems से बच सकते है और healthy life जी सकते है। सबसे पहले तो आपको ये जानना होगा की ये heart problems होती किन कारणों से है हमें इन कारणों को दूर करना होगा जिससे गलत दिनचर्या के side effect से बचा जसके तो आइये जानते है वो कारण जिनके side effect के कारण हमें ये heart problems होती है।

heart problems होने के कारण जिनसे heart attack होता है।

1:- फास्ट फूड का नुकसान / harmful effects of fast food in hindi

fast food चाहे खाने में कितना भी अच्छा लगता हो पर इसके side effect Heart diseases को बिलावा देते है। और आप रोगी हो जाते है ये फास्ट फूड सिर्फ हमें नुकसान ही देता है। ये हमें रोगी करदेता है ये हमारे शरीर के लिए इतना खतरनाक है की इसे एक तरीके का जेहर ही बोला जाये तो गलत नहीं होगा आज हम जिसे भी देखते है वो ही इस जेहर के पीछे भाग रहा है यदि आप फास्टफूड खाते है तो आपको पक्का 100% शुगर, दिल का रोग और भी खतरनाक बीमारी होंगी यदि आप स्वस्थ रहना चाहते है तो आज से ही इसे त्यागे और स्वस्थ रहे।

2 :- धुम्रपान के नुकसान / tobacco smoke harms in hindi

धुम्रपान की आदत आज काफी व्येक्तियों में देखि जाती है धुम्रपान की आदत आदमी ओरत दोनों में ही देखि जाती है। और इसके नुकसानदायक प्रभाव भी सभी में देखे जारहे है। जानते तो सभी है की ये धुम्रपान हमारे लिए कितना नुकसानदायक है लेकिन फिर भी धुम्रपान की आदत नहीं छोड़ते जिसके परिणाम ये होते है किडनी फेल , हार्ट फैल, फेफड़े खराब और आखिर में दर्दनाक मोत यदि आप इस दर्दनाक मोत से बचना चाहते है तो इस नशे की आदत को आज ही छोड़ दें।

3 :- शराब के दुष्परिणाम

heart problems में ये शराब भी एक बड़ी समस्या है इस हार्ट रोग के लिए यदि व्येक्ती दारू पीनी नहीं छोड़ता तो Heart diseases के साथ साथ अनेको रोग उसे घेर लेते है इसीलिए आज ही इस दारु को त्याग्दिजीय।

heart attack treatment in hindi

1:- रोज सुबह खाली पेट कच्चा लहसुन खाए इससे आपके दिल को ताकत मिलेगी और कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करेगा।

2:- रोज 1 सेब जरुर खाए इससे आपका हार्ट दिल अच्छे से काम करेगा।

3:- आंवला आपको रोज सुबह खाली पेट आंवला खाना चाहिए या आंवले का जूस पीना चैये ये आपकी बॉडी को बिलकुल स्वस्थ रखेगा और खून को गाढ़ा होने से रोकेगा और खून को साफ़ करेगा।

4:- रक्त दान 6 महीने में एक बार रक्तदान अवश्य करें जिससे आपको किसी भी प्रकार का हिरदय रोग नहीं होगा और आपका खून स्वस्थ और साफ रहेगा।

5:- रोज 1 चमच शहद की लीजिये इससे आपका दिल मजबूत रहेगा और आप स्वस्थ जीवन जियेंगे।

6:- हवन आप कमसे भी कम हफ्ते में 1 बार घर में हवन जरुर कीजिये और जब भी हवन करे तो सिर्फ देसी गायें का ही घी डालें आप स्वस्थ रहेंगे वेसे जितना प्रदूषण हम फेला रहे है उसके अनुपात में तो प्रत्यक व्येक्ती हो दोनों समय या रोज एक समय हवन जरुर करना चाहिए हवन करने से आपका तो भला होगा ही साथ में करोड़ो जीवों का भी भला होगा इसीलिए हवन जरुर करें।

7:- रोज घिया का जूस पीजिये यदि आप रोज घिया का जूस पियेंगे तो आपको कोई भी हिरदय रोग नहीं होगा।

8:- heart problems में अर्जुन की छाल का इस्तेमाल कीजिये अर्जुन की छाल हिरदय रोग को जड से खत्म करेगी रोज अर्जुन की छाल का काढ़ा बनाकर पिने से ह्रदय रोग खत्म होते है।

दोस्तों उमीद है की आपको ये लेख पसंद आया होगा दोस्तों हमारा फेसबुक का पेज भी लाइक करे इस लिंक पर क्लिक करें https://www.facebook.com/maabharti

keywords:- dil ki bimari ka ilaj in hindi, heart attack ka ayurvedic ilaj, heart attack treatment in hindi, heart attack ke symptoms in hindi, heart attack treatment at home in hindi, heart problem in hindi, heart attack in hindi

diet chart for mens and womens in hindi – आहार योजना

Diet chart ये जानने के लिए की स्वस्थ और पुष्ट बनने के लिए हम प्रतिदिन कितना भोजन लें। दोस्तों हमें उमीद है की ये diet chart आपकी health को अच्छा बनांये रखने में कफी healpfull होगा। आज हमे ये ही नही पता की हम दिन में कितना भोजन करे की हमारी health अच्छी बनी रहे। यदि आप अपनी बॉडी को healthy रखना चाहते है तो आपको ये मालूम होना जरूरी है की आप रोज कितना पोषक तत्व लें अपनी बॉडी को स्वस्थ बनाये रखने के लिए। और ये जानकारी आप सिर्फ एक अच्छे health diet chart से ही हासिल कर सकते है।

यदि आप इस health diet plans को अपनाएंगे तो आप अपना जीवन स्वस्थ जी सकते है।

diet chart for healthy body

diet chart in hindi

Health diet chart in hindi

चावल, गेहूँ, मक्का, ज्वार, बाजरा। आदि                                                                             450 ग्राम


 

दूध, दही, छाछ आदि                                                                                                        250 ग्राम


 

मुंग, उडद, चना, मसूर आदि की दालें                                                                                 100 ग्राम


 

घिया, टिंडा, तोरई, भिण्डी, परवल आदि


 

बिना पत्ते वाली सब्जियाँ                                                                                                200 ग्राम


 

घी, मक्खन. तेल आदि की चिकनाई                                                                                    50 ग्राम


 

आम , खरबूजा, सन्तरा. केला, अमरुद आदि फल                                                                  50 ग्राम


जोड़                                                                                     1100 ग्राम


कार्बोहाइड्रेटस ( Carbohydrates )… पदार्थों में मीठापन होना कार्बोहाइड्रेटस का घोतक है। शक्कर और गुड में कार्बोहाइड्रेटस बहुतायत में मिलते हैं जो सरलता से पच जाते है और शक्ति देते है। एक प्रोढ़ व्यक्ति के लिए चालीस ग्राम गुड़ या शक्कर रोज चाहिय। इसी लिए आप इस diet plans का पालन कीजिये।

प्रोटीन (Protein) -आप जानते ही है की protein हमारे शारीर के विकास के लिए कितना जरूरी है शरीर में कोशाणुओं (Cells) का निर्माण और नष्ट हुए कोशाणुओं का पुनर्निर्माण प्रोटीन से होता है । कार्बोहाइड्रेटस की तरह प्रोटीन शक्ति भी देता है। दालों में प्रोटीन मिलता है। दाल में 20-25 % प्रोटीन होता है। हमेसा एक बात का ध्यान रखना चाहिए की प्रोटीन सिर्फ प्राक्रतिक स्त्रोत से ही हासिल करें कभी भी केप्सूल या पाउडर ना खाएं।

वसा (Fat )… पदार्थों में चिकनाई होना वसा का घोतक है । तेल, वनस्पति घी वसा वाले खाद्य है। और एक बात हमेसा ध्यान रखें देसी गाये के घी में चर्बी नहीं होती देसी गाय का घी सबसे उतम है। आप ptanjli का देसिगाय का घी खरीद सकते है ।

रक्तक्षीणता की पहचान – रक्त की कमी से यकृत (liver) भोजन नहीं पचा पाता इससे गैस बनती है आँखों की निचे की पलक में सफेदी, त्वचा पिली, थकावट, मुरछा आ जाना, पेट खराब रहता है और दुर्बलता बढती जाती है

लोहा प्रामि के स्त्रोत – लोहा खाया नहीं जा सकता । इसे भोजन से प्राप्त करना होता है टमाटर, पालक, शहद आदि में लोहा बहुत मिलता है। चौलाई (प्रतिग्राम में 1.4 मिलीग्राम), हरा धनिया (प्रतिग्राम में 10 मिलीग्राम), सूखी सोयाबीन (प्रतिग्राम में 8 मिलीग्राम), सूखी दालें (प्रतिग्राम में 7.4 मिलीग्राम), मटर दाने (प्रतिग्राम में 5 मिलीग्राम), उबला बथुआ (प्रतिग्राम में 5 मिलीग्राम) लोहा होता है। हमें नित्य 15 से 20 मिलीग्राम लोहा खाना चाहिए जो इन चीजों
को खाने से मिल जाता है।

दोस्तों ये हमारा फेसबुक पेज का लिंक है हमारे पेज को लिखे जरुर करें टाक समय समय पर आपको हमारे नए लेख मिलते रहें

https://www.facebook.com/maabharti 

ये भी पढ़ें

शरीर की कमजोरी का आयुर्वेदिक इलाज

keywords:- fitness tips in hindi, dieting chart, gym tips in hindi, diet chart to gain weight, diet plan, body ko fit kaise kare, healthy diet chart for mens and womens

Pregnancy में क्या खाएं – 9 month pregnancy in hindi

pregnancy me kya khana chahiyePregnancy में यदि शुरू से ही बालकों का खान पान का पूरा ध्यान रखा जाए तो वे जीवन भर स्वस्थ रहेंगे। 9 month pregnancy यदि माताएं निचे बताई गई बातों का ध्यान रखेगी तो स्वस्थ बच्चे जन्म लेंगे। pregnancy के समय यदि माताएं अपने खाने पिने का उचित ध्यान रखे तो बच्चे भी स्वस्थ पैदा होंगे। शिशुओं के खान पान का समय माता की गर्भवावस्था (pregnancy) से ही आरम्भ हो जाता है।  इसी समय से खान पान पर ध्यान देना चाहिए।

Pregnancy me kya khana chahiye

नारंगी : गरभवती महिला को रोज दो नारंगी दोपहर में खिलाते रहने से होने वाला शिशु सुन्दर होता है।

मोसमी : मोसमी में केल्सियम अधिक मात्र में होता है। गरभवती महिलाओं और गर्भाशय के शिशु को शक्ति प्रदान करने में इसका रस पोष्टिक है।

नारियल : नारियल का गोला और मिसरी खाने से प्रसव में दर्द नही होता। सन्तान हष्ट पुष्ट होती है।

शहद : गर्भावस्था में रक्त की कमी आजाती है। इस समय खून बढ़ाने वाली चीजों का सेवन अधिक किया जाना चाहिए।  महिलाओं को दो चमच शेहद रोज पिलाते रहने से रक्त की कमी नही होती और शक्ति आती है।  बच्चा मोटा ताजा होता है। गर्भवती महिलाओं को आरम्भ से ही या अंतिम तिन माह में दूध और शहद पिलाने से बच्चा स्वस्थ और आकर्षक होता है।

दूध : गर्भवती महिलाओं को देसी गाएँ का दूध अवश्य पीना चाहिए। देसी गाएँ का दूध पिने से आपके बच्चे को ताकत मिलेगी। देसी गाएँ के दूध में वो शक्ति है जो आपके होने वाले बच्चे को ताकतवर और बुद्धिशाली बना सकता है। लेकिन दूध देसी गाएँ का ही होना चाहिए।

पानी : Pregnancy के समय माताओं को पानी अधिक पीना चाहिए।

सेब : सेब का सेवन रोज करें इससे आपको कोई रोग नहीं सताएगा और आपका बच्चा स्वस्थ पैदा होगा। रोज 2 सेब जरुर खाइए।

सात्विक आहार : pregnant ladies को इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए की वो हमेशा शुद्ध और सात्विक भोजन ही करे। सात्विक भोजन जैसे, देसी गाएँ का दूध , घी, छाछ , हरी सब्जियां , फल आदि।

शाकाहारी भोजन : हमेशा शाकाहारी भोजन को महत्व दे। शाकाहारी भोजन करने से आपके बच्चे काफी सारे रोगों से बच सकते है।

मासा हारी भोजन छोड़े : pregnant ladies मासा हारी भोजन कभी ना करें। आज सबसे ज्यादा समाज में भ्रान्ति ये ही फैली हुई है की मासाहारी भोजन से ताकत मिलती है। ये सबसे बड़ा भ्रम है मासाहारी भोजन से ताकत नही मिलती सिर्फ चर्बी बढती है। आप अपने चारो तरफ देख सकते है की ताकतवर मासाहारी है या शाकाहारी। हाथी शाकाहारी है और सबसे ताकतवर है। गैंडा शाकाहारी है और ताकत वर है। शेर मासाहारी है और अकेले इनका शिकार नही कर सकता।

कहने का मतलब ये है की यदि आप चाहती है की आपका होने वाला बच्चा स्वस्थ और ताकतवर हो तो शुद्ध शाकाहारी भोजन ही करें।

सेक्स ना करें :  pregnant ladies को इस बात का खासतोर से ध्यान रखना चाहिए की जब पेट में बालक हो तो कभी भी सेक्स ना करें। ज्यादातर डाक्टर कहते है की pregnant ladies को सेक्स करने में कोई परेशानी नही होगी। लेकिन ये बिलकुल गलत बात है। यदि ग्रभावस्था में सेक्स करेंगी तो आपके बच्चे चरित्रवान और बुद्धिशाली नही होंगे। क्योंकि जेसा आप ग्रभावस्था के दोरान जैसे वेव्हार करेंगे वैसे ही बच्चों पर संस्कार पड़ेंगे।

देसी चना : देसी चने को गेहूं के साथ मिलाकर पिस्वाएं और उसकी रोटी खाएं इससे आपको अधिक ताकत मिलेगी।

हरी सब्जियां : हरी सब्जियों का सेवन अधिक से अधिक करें। हरी सब्जियों के सेवन से आपके बच्चे का विकास बेहतर होगा।

पालक : रोज सुबह 5 पत्ते पालक के खाएं इससे आपको ताकत मिलेगी और खून भी बढेगा। इस पालक के सेवन से आपका बच्चा बुद्धिशाली होगा और उसे कोई भी जन्मजात रोग नही होगा।

 रक्त वृधि : आधा गिलास गाजर का रस, आधा गिलास दूध व स्वादानुसार शहद मिलाकर रोज पिने से कमजोरी दूर होती है और शरीर में खून बढ़ता है।

बच्चों की गुदा की फुनसियों का इलाज
bachchon ki funsi ka gharelu upchar

प्राय: जन्म के बाद प्रथम एक साल तक यह पाया जाता है। माँ के दूध में खराबी होने से पेशाब – टट्टी के बाद गुदा की सफाई उचित रूप से ना करने से, स्नान के बाद इस भाग को अच्छी तरह से ना सुखाने से या ज्यादा पसीना आने से गुदा में फुन्सियाँ निकल आती हैं। उनका रंग लाल होता है। अधिक बढ़ने से इनमें घाव पैदा होता है। जिससे खून निकलता है।

बच्चों की फुंसी का इलाज – funsi ka ilaj in hindi

1 . तुलसी के पत्ते पीसकर उनका लेप लगाएं।

2 . मक्खन में हल्दी मिलाकर उसका लेप लगाएं। ( साबुत हल्दी को घर पर ही पिसलें बाजार से हल्दी ना खरीदे क्योंकि बाजार की हल्दी मिलावटी होती है नकली होती है। )

3 . हरी दुब पिस कर लगाएं।

यदि आप माँ बाप है तो ये किताब आपको जरुर पढनी चाहिए 

femal

by-button

baby care tips

Tag: pregnancy diet in hindi, Tips For Pregnant Women In Hindi , Pregnancy Care In Hindi, pregnancy me kya khana chahiye in urdu, pregnancy tips , #pregnancy tips for normal delivery in hindi , Pregnancy Tips For Normal Delivery in Hindi, How can I get pregnant ?

शरीर की कमजोरी का आयुर्वेदिक इलाज

Ayurvedic treatment for weakness in hindi

Ayurvedic treatment for weakness in hindiayurvedic treatment की आज सभी को जरूरत है आज जिसे भी देखो वो ही व्येक्ती कमजोर और सुस्त दीखता है। इस कमजोरी (body weakness) के पीछे का असली कारण पोष्टिक आहार ना लेना और ब्रह्मचारी पालन ना करना है। हमारे युवा आज उन अँधेरी खाइयों में गिर रहें है जन्हा से निकलना मुस्किल है पर नामुमकिन नही है सही ayurvedic treatment से थोड़ी सी सावधानी से हम अपना जीवन सुधार सकते हैं। और कमजोरी (weakness home remedies ) को दूर भगा सकते हैं।

बस हमें कुछ बातों का ध्यान रखना होगा तभी हमारा भला होसकता है। आज आप इस लेख में जानेंगे की आप अपने शरीर की कमजोरी को कैसे दूर रख सकते है और स्वस्थ रह सकते हैं। यदि आप इन छोटे छोटे घरेलु नुस्खों को आजमाएंगे तो आप काफी अच्छा लाभ प्राप्त करेंगे। और हमेसा स्वस्थ और सुखी रहेंगे।

Ayurvedic treatment Health benefits of honey in hindi

शहद हर भारतीय घर में आसानी से मिल जाता है। इसको आप gharelu Dawai के रूप में भी इस्तेमाल करसकते हैं। शहद में विटामिन बी होता है जिसके कारण आपकी भूख बढ़ने लगती है। शहद का रोज सेवन करने से अमीनो एसिड, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, आयरन आदि पोषक तत्व हमारी body को मिल्जाते हैं और हम स्वस्थ रहते हैं।

एक गिलास दूध में 1 चमच shahad मिलाकर पिने से शारीर की कमजोरी दूर भाग्जाती है। पर इस घरेलु उपचार में सबर करने की आवश्कता है। यदि आप अपने शारीर में ज्यादा Weakness महसूस करते हैं तो मैं आपको अच्छा Ayurvedic treatment किसी अच्छे आयुर्वेद के वैध से करवाना होगा।

Ayurvedic treatment milk benefits in hindi

वैसे दूध में काफी सारे गुण पाए जाते हैं। पर अपने आर्यव्रत की देसी गाएँ का दूध सबसे ज्यादा अच्छा होता है। बल्कि ये कहना अतिश्योक्ति नही होगा की देसी गाएँ का दूध अमृत है जिसे पीकर हमारे देश के राजा चक्रवर्ती सम्राट हुआ करते थे। यदि आप शारीर में कमजोरी महसूस करते है तो देसी गाएँ का ही दूध, घी, छाछ आदि इस्तेमाल करें आपको काफी अच्चा लाभ मिलेगा आप और आपका परिवार हमेशा स्वस्थ और खुश रहेंगे। और जब देसी गौ वंश के दूध की डिमांड बढ़ेगी तो गौ रक्षा भी होगी।

Banana benefits in hindi –

केले में काफी सारे प्राक्रतिक तत्व पाए जाते हैं।  जैसे ग्लूकोज, सूक्रोज या फ्रुक्टोज आदि होते हैं। ये केला आपको अधिक उर्जावान बनाता है। केले में काफी मात्रा में पोटेशियम भी होता है जो शर्करा को ऊर्जा में परिवर्तित कर देता है। जब भी आपको कमजोरी महसूस हो तो आप 1 केला खास्कते है ज्यादा भी खास्कते हैं। थकान तो खत्म करने का ये एक अच्चा घरेलु तरीका है।

यदि आप रोज केला खाएं या केले का जूस पियें तो आप इस कमजोरी से छुटकारा पा सकते हैं। तो देर किस बातकी आजही से केले का सेवन शुरू कीजिये। ये काफी आसान Ayurvedic treatment है कमजोरी को दूर भगाने के लिए।

Badam khane ke fayde – बादाम रखे उर्जावान

बादाम (Badam) में विटामिन e और मैग्नीशियम मोजूद होता है। इसका सेवन करने से आप उर्जावान महसूस करेंगे। रोज रात को 4 या 5 बादाम भिगोदें और सुबहे अच्छे से चबा कर खालें और ऊपर से देसी गाएँ का दूध पीलें। बादाम में वसा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट होता है। जो आपके शारीर को उर्जा देता है और आप ताकतवर बनते हैं। यदि आप रोज बादाम का सेवन करते रहेंगे तो आपकी याददाश्त भी तेज बनेगी।

Coconut oil benefits in hindi – नारियल तेल के फाएदे

लेकिन क्या आपको पता है नारियल (nariyal) तेल का इस्तेमाल आप अपनी कमजोरी दूर करने के लिए भी कर सकते है। इसका इस्तेमाल यदि आप भोजन में करेंगे तो आपके शारीर में चर्बी नहीं बढ़ेगी। और ये आसानी से पाच भी जाएगा। नारियल का तेल metabolism और energy को भी बढ़ाता है।

नारियल का तेल thyroid granth को उत्तेजित करता है और harmons को संतुलित करता है। इसीलिए नारियल का तेल रोज अपने भोजन में इस्तेमाल कीजिये आपको ताकत मिलेगी।

फाइबर से भरपूर otas

ये एक काफी अच्छा आहार है। जिसको खाने से आपके शारीर में चर्बी जमा नही होगी। और ये आपके शारीर को उर्जा भी देगा। इसमें काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, फाइबर होता है जो आपकी भूख को नियंत्रित करता है। साथ ही इसमें मैग्नीशियम और पोटेशियम होता है जो थकान और कमजोरी को दूर करने में साहयक होता है।

Amla ke fayde in hindi

यदि आप रोज 1 amlaa का सेवन करेंगे तो आपको काफी सारे लाभ होंगे। जैसे रक्त शुद्ध होगा, कब्ज नही रहेगी, गैस नही बनेगी, आँखों की रौशनी बढेगी, रोगों से लड़ने की शक्ति बढ़ेगी, बाल जल्दी सफ़ेद नहीं होगे, और सबसे बड़ी बात कमजोरी को जड़ से खत्म करेगा। आप आंवले का जूस भी पिसकते है ये सीधे खून ,में शामिल होजाएगा और जल्दी अपना असर दिखाएगा। एक बार आंवले से ayurvedic treatment करके जरुर देखें।

Amla ke fayde

दही के लाभ – dahi ke fayde

दही में प्रोटीन होता है जिससे शारीर को उर्जा मिलती है। और इसमें आपकी उर्जा को बढाने के लिए प्राकर्तिक शकर भी होती है। यदि आप रोज 200 या 300 ग्राम दही खाएं तो आप शारीरिक कमजोरी को दूर भगा सकते हैं। गर्मियों में तो दही जरुर खाएं। लू से भी बचाएगी और कमजोरी भी दूर करेगी।

Mango health benefits – आम खाएं स्वस्थ रहें 

आम काफी स्वादिष्ट होता है इस फल में एंटीऑक्सिडेंट, खनिज, विटामिन, फाइबर जैसे अच्छे पोषक तत्व होते हैं। जो आपकी health के लिए काफी लाभदायक है। आम में मोजूद स्टार्च चीनी को उर्जा में बदल देता है। यदि आप रोज गर्मियों में आम खाएं या आम का जूस पिएं तो आपको काफी ताकत मिलेगी और कमजोरी दूर भागेगी।

Havan vidhi in hindi – हवन से चिकित्सा

यदि आप रोज हवन करे तो आप इस दुनिया के खतरनाक से खतरनाक रोगों को बड़ी आसानी से दूर भगा सकते हैं। havan में विशेष जडीबुटी वाली havan samagri  डाली जाती है जिससे आसानी से आप रोगों को दूर रखसकते है। हवन अपने आपमें एक बहुत बड़ा पर आसानी से किया जासकने वाला विज्ञान है। आप इसको इसप्रकार समझिए आप अग्नि को जो भी देंगे अग्नि उसकी हजार गुणा ताकत बढाकर आपको देगी। हवन में आप सिर्फ आम की लकड़ी या पीपल या गिलोय ही इस्तेमाल करें।

हवन सिखने के लिए आप हमसे भी सम्पर्क करसकते हैं हम आपकी फ्री में पूरी साहयता करेंगे। और हवन के एसे वैज्ञानिक और प्रमाणित लाभ बताएँगे की आप चोंक जाएंगे।

yagya therapy hindi me यज्ञ चिकित्सा विज्ञान

keywords: body weakness treatment in hindi, causes of weakness in human body, symptoms of weakness, weakness in body home remedies, home remedies for weakness, ayurvedic treatment medicines in hindi,