Category Archives: Health Articles In Hindi

मोटापा कम करने के लिए खाइए ये 5 सब्जिया Motapa Hoga Jaldi Kam Khaiye Ye 5 Sabjiya

मोटापा अनेको बीमारियों को दावत देता है और ये एक गंभीर समस्या बन गया है । जो लोग वजन मोटापा कम करना चाहते है वो अक्सर यही सोचते रहते हैं की एसा क्या खाएं की मोटापा कम हो जाये और शारीर में कमजोरी
भी नहीं आए ।

Motapa Hoga Jaldi Kam Khaiye Ye 5 Sabjiya

weight loss tips at home in hindi

Motapa Kam karne ke Upay

आपको ये जानलेना चाहिए की काफी सारे खाद पदार्थ एसे है जिनसे आप आसानी से मोटापा घटा सकते है । इनको खाने से आप स्वस्थ भी रहेंगे और आपको पुरे पोषक तत्व भी मिलेंगे । तो आइये जानते है कोंसे है वो Motapa तेजी से कम करने वाले खाद पदार्थ ।

मोटापा कम करने के लिए 5 चीजे इन्हें खाने से कभी नहीं बढेगा वजन

5 चीजे इन्हें खाने से कभी नहीं बढेगा वजन

1:- फूलगोभी – फूलगोभी में फाइबर की मात्रा अधिक होने के कारण ये आपका पाचनतंत्र अच्छा रखती है आपको कब्ज नही होती इसमें उत्कृष्ट गुणवता का फाइबर होता है जो मोटापा नही बढ़ने देता इसे आप सलाद के रूप में कच्चा खाइए मोटापा नहीं बढेगा ।

2) टमाटर – यदि आप Motapa घटाना चाहते है तो तो आपको टमाटर का सलाद और टमाटर का सूप जरुर पीना चाहिए इससे आपको काफी मात्रा में फाइबर, विटामिन,पोटेशियम, मिलेंगे इसमें विटामिन ए, सी, काफी मात्रा में होता है टमाटर का अपने सलाद के रूप में सेवन शुरू कीजिये आपको काफी अच्छे परिणाम मिलेंगे ।

3) ब्रोकली – ब्रोकली की सब्जी काफी स्वादिष्ट होती है और इसमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्त्व होते है जो की आपके शारीर में कमजोरी नही आने देते और मतलब आपको प्रचुर मात्रा में पोषक तत्त्व मिल जाते है । ब्रोकली में विटामिन ए, सी, और क अच्छी मात्र में होता है । आप इसका सेवन सलाद के रूप में कीजिये या इसे उबाल कर खाइए आपको काफी अधिक फायेदा होगा जल्दी आपका वजन कम होगा कुछ ही दिनों के बाद Motapa भागता हुआ नजर आयेगा ।

4) खीर – खीरा खाने में काफी स्वादिष्ट होता है इसमें पानी भी काफी अधिक मात्रा में होता है । यदि आप रोज खीरे को सलाद के रूप में खाते है तो आपका वजन कम होना शुरू हो जायेगा और आपका वजन नहीं बढेगा मतलब फालतू की चर्बी नही बढ़ेगी ।

5) ककड़ी – दोस्तों मोटापा कम करने के लिए जो जो फाएदे खीरे के है वही कक्कड़ी के भी है आप सलाद के रूप में इसे रोज खाइए आपको काफी अधिक फायेदा होगा और आप स्वस्थ रहेंगे 4) खीर – खीरा खाने में काफी स्वादिष्ट होता है इसमें पानी भी काफी अधिक मात्रा में होता है । यदि आप रोज खीरे को सलाद के रूप में खाते है तो आपका वजन कम होना शुरू हो जायेगा और आपका वजन नहीं बढेगा मतलब फालतू की चर्बी नही बढ़ेगी ।

मोटापा एक दिन में कम करने के घरेलु नुस्खे

Note: – यदि आप मोटापा कम करना चाहते है या स्वस्थ रहना चाहते है तो सलाद को हमेशा भोजन करने से पहले ही खाइए बाद में भोजन कीजिये और दिन में खूब पानी पीजिये एसा करने पर देखिएगा आपको कितने अच्छे परिणाम मिलेंगे और आपका वजन जल्दी कम होगा ।

Keywords:- Motapa Kam karne ke Upay, Gharelu nuskhe in Hindi,वजन कम करने के घरेलू नुस्खे,
Pet kam karne ke upay

Kohni ka kalapan kaise dur kare कोहनी का कालापन कैसे दूर करें

Kohni ka kalapan kaise dur kare कोहनी का कालापन कैसे दूर करें

Kohni ka kalapan kaise dur kare कोहनियों का काला पन हो या शारीर की किसी भी समस्या का समाधान हो हम आखिर मे आयुर्वेद की तरफ आना ही होगा क्योंकि आज की एलोपेथी अंग्रेजी दवा सिर्फ हमारे शारीर को नुकशान ही पोहचा रही है|Kohni ka kalapan kaise dur kare

आज आप इस लेख के माध्यम से कोहनियों का कालापन कैसे दूर करे ये ही जानेगे , में आपसे एक बात और कहना चाहूँगा की इस लेख को पूरा पढना तभी आप इसका लाभ उठा पाएंगे |

  1. यदि आपकी हाथों कि कोहनियों काली पड़ गई है तो उन पर निम्बू को दो भागों में बाँट कर निम्बू के टुकड़े मलें और तीन-चार घंटे बाद, जब मैल फूल जाए तो खुरदरे तोलिये को गरम पानी में भिगोकर व् निचोड़कर उससे कोहनियों को मलकर साफ कर लें | नित्य कुछ दिन लगातार ऐसा करने से कोहनियों कि त्वचा का कलापन दूर हो जाएगा |
  2. काले पड़ गए शारीर के किसी भी हिस्से जैसे घुटनों पवन कि एडियों, गीटों,उँगलियों, अंगूठों और नाखूनों पर बी ही निचुड़े हुए निम्बू के बच् रहे फालतू आधे टुकड़ों को कुछ देर रगड़ने से और आधा घंटे बाद स्नान करने से वे साफ होकर चमकने लगते है |
  3. शारीर कि किसी भी भाग कि त्वचा सख्त, खुरदरी और मोती-सी हो ई हो तो रात कजो सोते समय निम्बू काटकर मलने से और प्रात: धोते रहने से रोम-छिद्र खुलकर त्वचा नर्म और मुलायम हो जाती है |
  4. इन निम्बू के छिलकों को रगदने से लहसुन, प्याज आदि काटने से होने वाली हाथों कि दुर्घंद भी मिट जाती है और हाथ के दाग मिटकर त्वचा स्वच्छ और मुलायम हो जाती है |
  5. हाथ-पैर फटने और उनमें मैल भरने कि शिकायत में निम्बू को उस स्थान पर रगड़े, साडी मैल निकल जाएगी |
  6. यदि बाहें कलि कुरूप दिखती हों तो निम्बू का रस मलने से वे निखर जाती है |

Kohni ka kalapan kaise dur kare, Kohni ka kalapan kaise dur kare.Kohni ka kalapan kaise dur kare,कोहनी का कालापन दूर करने के घरेलू उपाय,

Hair Care Tips In Hindi बालो का झड़ना, गंजापन ,सफ़ेद होना बालो के सभी रोगो का इलाज कैसे करें

Hair Fall Treatment In Hindi बाल झड़ने में उपयोगी नुस्खे

Hair Fall Treatment In Hindi

Hair Fall Treatment In Hindi बाल झड़ने में उपयोगी नुस्खे

Hair बालो की सभी परकार की care कैसे करें इसमें ये लेख आपकी काफी मदद करेगा बस आपको इस लेख को आखिर तक पढना है और आप Hair Diseases से सम्बन्धित सभी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे |

  1. उड़द कि दाल को उबल कर उसे दिर पर रगड़-रगड़ कर लगाएं, ऐसा करने से कुछ ही दिनों में Hair बालों का झाड़ना रुक जायेगा |
  2. बाल टूटने कि क्रिया निरंतर चल रही है तो घबराइए नहीं, बस निम्बू के रस में बड कि जटा पिस कर बाल धोएं और फिर नारियल का तेल लगे, आपकी शिकायत कुछ ही दिनों में दूर हो जाएगी|
  3. रात को आवला का चूर्ण भिगो दें और सुबह उन्हें मसलकर पानी निथार लें इस पानी में एक-दो कागजी निम्बू निचोड़ दें, उसी पानी से Hair बाल भिगो दें, और पानी रच जाने के बाद बालों को मल-मल कर धोएं, जैसे साबुन से बाल मले जाते हैं, इससे बालों का झड़ना तो बंद होगा ही साथ ही बाल काले, घने, लंबें और मुलायम होंगें, इस प्रयोग को एक महीने तक करें |

Hair का झड़ना गंजापन में उपयोगी नुस्खे

  1. पके व सूखे आवले के चूर्ण को नारियल के तेल में मिलाएं| आप चाहे तो उसमें चमेली का तेल भी दल सकते हैं | फिर इस तेल से सिर पर मालिश करें, इस रस को फिर पानी में मिलकर सिर को रगड़-रगड़ का धोएं, सूखे आवले को थोडा-थोडा करके खाते भी रहिए, निश्चय ही गंजेपन कि शिकायत धीरे-धीरे दूर हो जाएगी |
  2. अनार के दानों, पत्तों और छिलकों के पीसकर लुदगी बना लें फिर उस लुगदी को सरसों के तेल में मिलाकर हल्की आंच पर पकाएं, जब सब चीजें पक जाएँ और तेल बच जाए, तो उसे छान लें तथा शीशी में भरकर रख दें | इस तेल को नियमित दिन में दो-तीन बार लगाएं, इससे गंजापन दूर हो जायेगा |
  3. हरे धनिये को पीसकर उसका रस निकालें उस रस से Hair बालों में नियमित मालिश करें, इससे बाल मुलायम और काले होंगें और बालों का झड़ना खत्म होगा यहाँ तक कि गंजापन भी मिट जाएगा |

Hair Balon Se Rusi Dandruff Hatane Ke Gharelu Tarike Upay Nuskhe बालों में रुसी के नुस्खे

  1. 100 मि.ली. नारियल का तेल लेकर उसमे तीन ग्राम कपूर लेकर मिला लें, इस तेल का इस्तेमाल प्रतिदिन रात्री में सोते समय करें, सिर पर उँगलियों के पोरों से अच्छी तरह तेल लगा कर मालिश करें| पंद्रह दिनों में ही रुसी समाप्त हो जाएगी |
  2. निम्बू के रस में चीनी घोलकर उसकर शरबत बना लें और उस शरबत को सिर पर लगाकर 5-6 घंटे तक धूप ला सेवन करें तत्पश्चात सिर को उत्तम साबुन से धो लें | Hair सिर की सारी रुसी निश्चित रूप से गायब हो जाएगी |
  3. नारियल के तेल में निम्बू का रस मिलाकर इसे सिर पर मालिश कीजिए, कुछ दिन ऐसा करने से सिर की रुसी खत्म हो जाएगी |

How To Make Hair Black Naturally In Hindi | baal kale karne ka gharelu upay

  1. एक किलो आवले का रस, एक किलो देशी घी, 250 ग्राम मुलहठी-इस तीनों को हल्की आंच पर पकाएं | जब अपनी सुख जाए और घी बच जाये तो उसे छान कर बोतल में भरकर रख ले | इसे खिजाब कि तरह बालों में लगाएं कुछ दिनों में ही सारे बाल काले हो जाएंगे | यह कुदरती रंग देता है और त्वचा या दिमाग पर कोई भी बुरा प्रभाव नहीं डालता |

    How To Make Hair Black Naturally In Hindi

  2. लोह चूर्ण, हरड, बहेड़ा, आवला और कलि मिटटी को पीस कर चूर्ण कर लें, फिर इसी चूर्ण को गन्ने के रस में एक महीने तक भिगोकर रकेह एक महीने के बाद इस लेप को बालों में लगाइए | कुछ ही दिनों में आपके सफ़ेद बाल प्राकृतिक रुप से काले हो जाएंगे |
  3. आवले को निम् और मेहंदी के पत्तों के साथ दूध में मिलकर रात को बालों पर लेप करें, सुबह बालों को धोएं | सप्ताह में दो बार करने से दो महीने में हिन् सफ़ेद बाल काले भी हो जायेंगे |
  4. आवले को नीम और मेहंदी के पत्तों के साथ दूध में पीसकर रात को बालों पर लेप करें सुबह बालों को धों लें | सप्ताह में दो बार करने से दो महीने में ही सफ़ेद बाल काले हो जाएंगे |
  5. आवले को रात भर पानी में भिगों दें | सुबह आवालें को मसलकर छान लें और उस पानी से सिर धोएं, ऐसा करने से बाल काले और मुलायम होते हैं |

बाल गिरना, झड़ना और इसका इलाज

How To Make Hair Black Naturally In Hindi

keywords:- #best natural home tips for black hair, #Natural home remedies for black hair, black hair naturally in Hindi, #लंबे काले बालों के लिये प्राकृतिक घरेलू नुस्खे, Ayurvedic hair tips in Hindi, 

Hair Fall Treatment In Hindi, बाल झड़ने में उपयोगी नुस्खे

Sugar Ka Ilaj / शुगर का इलाज Kaise Kare In Hindi

Sugar Ka Ilaj / शुगर का इलाज

Sugar Ka Ilaj

Sugar Ka Ilaj यदि आप खोज रहे है तो इस Hindi Health Article  में बताये गए घरेलु नुस्खो को ध्यान से पढ़िए आपको काफी मदद मिलेगी, आज मधुमेह का रोग काफी फेल चूका है और इस बीमारी Sugar Ka Ilaj लोग नहीं कर पढ़े है इसीलिए आपकी मदद के लिए ये लेख लिखा गया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग Sugar Ka Ilaj काफी आसानी से कर सके हमें उमीद है की आपको ये लेख पसंद आयेगा |

Sugar Ka Ilaj Diabetes In Hindi 

1. सुबह टमाटर, संतरा और जामुन का नाश्ता करें, इनकी 300 ग्राम मात्रा प्रयाप्त है |

2. नियमित तीन महीने तक करेले कि सब्जी घी में बनाकर खान से मधुमेह में निश्चित रूप से लाभ होगा |

3. रात को मेथी के डेन पानी में भिगो कर रख दीजिए, सुबह उठकर दातुन कर वह पानी पीकर मेथी के दाने धीरे-धीरे चबा लीजिये, मधुमेह धीरे-धीरे ठीक होता चला जायेगा |

4. रात को काली किसमिस भिगोकर रखीए, सुबह उठने के साथ उसका जल छान कर पी लिजिए |

5. आवंले के चूर्ण को भिगोकर उसे कुछ देर रहने दीजिए, फिर उसे छान कर उसमे निम्बू का रस निचोड़कर सुबह उठते ही पी लें |

6. तमाल पत्र(तेजपत्ता) को कूटकर कपडे से छान कर चूर्ण बना लें, सुबह उठते ही 5 ग्राम चूर्ण कि मात्रा गुनगुने पानी के साथ लें, दस दिनों के भीतर ही भीतर लाभ मिलेगा |

7. Sugar Ka Ilaj के लिए आवला, हल्दी और मेथी-तीनों को समभाग मात्रा में लेकर कूट-पीसकर चूर्ण बना लें, इस चूर्ण को यदि मधुमेह का रोगी सुबह, दोपहर और शाम को पानी के साथ एक चम्मच भर सवेन करे, तो वह दो महीने के भीतर-भीतर मधुमेह के रोग से मुक्त हो सकता है |

8. मधुमेह Sugar के शिकायत होने पर आम और जामुन का रस बराबर मात्रा में मिलाकर दिन में तीन बार लगातार एक महीने तक सवेन करें |

9. जामुन कि गुठली और हरिद्रा कि बराबर मात्रा लेकर कूट-पिस कर चूर्ण बना कर शहद के साथ चाटें अथवा आधा चम्मच छाछ के साथ पिएं, मधुमेह कितना ही भयंकर क्यों न हो ठीक हो जायेगा |

10. मधुमेह के इलाज के लिए बेलपत्र बड़े उपयोगी है, यह सिद्ध प्रयोग है कि बेलपत्र और निम् के पत्ते 11-12 नग लेकर उन्हें तुलसी के करीब 5-6 पत्तों, 5 नग मुन्नका और 5 नग काली मिर्च के साथ पिस कर गोलियां बना लें एक-एक गोलू प्रतिदिन प्रात: जल के साथ लेने से भयंकर मधुमेह तोग का केवल तीन-चार महीनों में निवारण हो जाता है, लेकिन साथ में खान-पान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है |

11. जामुन के कोमल हरे पत्ते पीसकर नियमित 25 दिन तक प्रात: पानी के साथ पीने से पेशाब में शक्कर जाना रुक जाता है |

Sugar Ka Ilaj और मधुमेह में केला उपयोगी नुस्खा

1. गले हुए केले के छिलके उतारकर उन्हें हाथों से मसल कर लुगदी बना लें, फिट उसमे आधा बहग चावल की भूसी मिलकर 2-3 दिन गरम स्थान पर रखे छोड़ें चौथे दिन किसी पात्र में सबको रखकर पात्र को थोडा टेढ़ा करके थोड़ी देर तक रहने दें, ऐसा करने से की का रस अलग निथर आएगा, इसी रस का सेवन करें, आप चाहें तो स्वाद के लिए उसमे चुटकी भर काली मिर्च और सेंध नमक भी पीसकर दाल सकते है |

2. अक्सर मधुमेह के रोगी केले का उपयोग करने से घबराते हैं, पर इस तथ्य की जानकारी बहुत काम लोगों को है कि केले के रस का सेवन करने से मधुमेह कि बीमारी में अत्यधिक लाभ होता है |

मधुमेह होने के लक्षण और उपचार

Sardi Khasi Jukam Ka Gharelu Ilaj

Keywords:- #Sugar Ka Ilajशुगर का इलाज,#Hindi Health Article,#Diabetes In Hindi,
acupressure points in hindi , madhumeh ,sugar in hindi, sugar ki dawa,diabetes hindi

sardi khasi jukam ka gharelu ilaj सर्दी में जुकाम नाक-दर्द दूर करने के नुस्खे

Sardi Khasi Jukam hone par kya kare. दोस्तों यदि आपको Sardi लग जाये और jukam हो जाये तो काफी sardi khasi jukam ka gharelu ilaj समस्या हो जाती है, वेसे तो ये हमारे शारीर की सफाई की परक्रिया है, परन्तु यदि बार बार Sardi, Khasi, Jukam, हो तो सावधानी जरुरी हो जाती है| आज आप इस लेख में ये ही जानेंगे की  Sardi Khasi Jukam को कैसे दूर करें, यदिआप इस लेख में डी गयी जानकारी को ध्यान से पढेंगे तो आप अपना ठिक से इलाज कर पाएंगे

 sardi khasi jukam ka gharelu ilaj / सर्दी में जुकाम नाक-दर्द दूर करने के नुस्खे

  1. अदरक और पुदीना का रस सममात्रा में लेकर पियें |

  2. जुकाम कि परेशानी से कभी-कभी नाक भी दर्द करने लगती है, उस स्थिति में हरी चाय, पुदीना और गरम मसाला इन तीनों को पानी में उबाल कर उसकी भाप ले |

 3. 50 ग्राम गुड़ और 10-12 काली मिर्च पिस कर उबाल कर चाय कि तरह पिने से जुकाम तत्काल ठीक हो जाता है, साथ ही जुकाम से होने वाला नाक दर्द भी नहीं रहता |

 4. दो-तीन चम्मच अजवाइन स्वच्छ कपडे में बांध कर उसकी पोटली को तवे पर रखकर बार-बार गरम जार्जे सूंघने से जुकाम के साथ-साथ नाक दर्द का भी तीन-चार दिन में ही शमन हो जाता है |

 5. जायफल के छिलकों को पीसकर चूर्ण बना कर उसे नास्य के सामान सूंघने से छिके आएँगी, जिससे जुकाम दूर होगा और नाक दर्द से भी राहत मिलेगी |

Sardi Khasi Jukam me giloy ke fayede

दोस्तों इन नुस्खो के अलावा भी आपको एक काम रोज करना चाहिए आपको गिलोय का काढ़ा रोज पीना चाहिए इससे आपको Sardi Khasi Jukam  नहीं होगा , आपकी रोगों से लड़ने की शमता बढ़ जाएगी | और  आप दीर्घ  आयु को प्राप्त होंगे और हमेशा स्वस्थ रहेंगे | रोग होने पर तो सभी घरेलु नुस्खे खोजते है पर यदि आप गिलोय जैसी माहाओश्धि का सेवन करेंगे तो आपको कोई भी रोग नही होगा | मुझे उमीद है की आपको ये लेख पसंद आया होगा |इस लेख को अपने मित्रो के साथ शेयर जरुर करें|

आँखों की सुंदरता और देखभाल कैसे करें

Keywords:- #Sardi, #Khasi, #Jukam, #Sardi Khasi Jukam hone par kya kare, जुकाम का आयुर्वेदिक इलाज, बंद नाक खोलने के उपाय, बंद नाक से छुटकारा, जुकाम का अचूक इलाज, सर्दी जुकाम की दवा,

आँखों की सुंदरता और देखभाल कैसे करें

आँखों के अनेको रोग है जैसे , aakho में कुछ चलेजाना , आँख का आना , लाल होना, काले घेरे होना , आँखों का कमजोर होना जैसे अनेको रोग है जो कभी भी आपको हो सकते है आज इस लेख में आप ankho ke in rogo ko dur karne ke upaye janenge. मुझे उमीद है की ये लेख आपको पसंद आयेगा| आँखों की देखभाल केसे करें

आँखों में कंकड़ मिटटी चले जाने पर क्या करें नुस्खे

  • आँख पर जल के छींटे मारने से कंकड़-मिटटी के कण आँख से निकल जाते है |
  • किसी दुखभरी स्मृति को मस्तिष्क पटल पर उभार कर बिना aakho को मेल खूब रोयें आंसुओं के निरंतर प्रवाह से विजातीय प्रदार्थ बह कर बहार आ जायेगा |
  • दूध कि मलाई को पानी में डाल कर उससे निरंतर आँखों को धोएं | कभी–कभी तकलीफ हो जाती है | आँखे गड़ने लगती हैं| आँख मीजते-मीजते लाल हो जाती है, ऐसे में नमन घरेलु नुस्खे अत्यंत लाभप्रद सिद्ध होते है |

आँखों में जलन के नुस्खे Aankhon Mein Jalan Ho To Kya Kare

  • माखन आँखों  पर लगाने से aakho  कि जलन दूर होती है, खुरासनो का दूध या किलवा आँख में पड़ गया हो और जलन हो रही हो, तो मक्खन का नाजन आँख में लगाने से अत्यधिक लाभ होता है |
  • दही कि मलाई पलकों पर लेप करने से गरमी और जलन निकल जाती है | यह अनुभव सिद्ध नुस्खा है, दही कि मलाई उपलब्ध न होने पर दूध कि मलाई से भी काम चल सकता है, लेकिन पलकों पर मलाई ठंडी ही लेप करें |
  • हल्दी, फिटकरी और इमली के पत्ते को समभाग में लेकर इन्हें पीसकर पुलिट्स बनाकर सेंक करने से जलन मिटती है, इससे आंख कि लाली भी दूर हो जाती है |
  • 10 ग्राम द्राक्ष कि रात में पानी में भिगो कर रख दे, सुबह उसे हाथ से मसल ले, फिर उसमे थोड़ी शक्कर मिलकर पिने से आँख कि जलन से रहत मिलती है |
  • सेब को अंगारों पर सेंक कर उसको हाथों पर मसल लीजिए, फिर इसकी पुलिट्स बनाकर रात में आँखों कि पलकों के ऊपर बाँधने से थोड़े ही दिनों में आँख कि जलन, भारीपन, दृष्टिमंदता, दर्द,आदिक विकार दूर हो पते है |
  • बाबुल के पत्तों को पीसकर टिकिया बनाकर घी में भुनकर ankho पर बंधने से आँखों कि जलन तुरंत लाभ होता है, इसके पत्तों का रस निकल कर आँखों कि पलकों कर गर्म लेप करने से पलकों कि सूजन व आँखों से पानी गिरना रुक जाता है |

पेट के समस्त रोगों का इलाज पेट में भारीपन जलन अरुचि फूलना

  • कभी-कभी ankho में मिर्च, प्याज या अन्य तीक्ष्ण प्रदार्थ लग जाने से जलन होने लगती है और आँख से पानी गिरता है, आँखे आने के कारण भी आँख में जलन उत्त्पन होती है, उपर्युक्त नुस्खों का प्रयोग करना चाहिए, इससे तुरंत राहत मिलती है |

आँखों के कुछ फायदेमंद नुस्खे Eye care tips in hindi

  • पुराना चावल, मुंग, जों, शकों में बथुआ, चौलाई, परवल, करेला, बैंगन आदि और घी में पकाए गये आहार फायदेमंद है, जब कि कडुवे, अम्लीय, गरिष्ट तीक्ष्ण एवं गर्म पदार्थ के सेवन से बचना चाहिए |
  • मधुर एवं तीखे पदार्थ का सेवन भी आँखों के लिए अत्यधिक लाभ प्रद सिद्ध होता हैं, जबकि उड़द, मादक पदार्थ, सूखे मन्श-मछली, अंकुरित धान्य तथा अन्य बिदाहकारी पदार्थ aakho  के रोगों में नुकसानदायक होते है |
  • जंगली देसी पक्षियों का मांस भी उत्तम फायदेमंद होता है |
  • निम्बू या बबूल के पत्तों को पीसकर तालुओं पर लेप करना चाहिए इससे ankho को ठंडक पहुँचती है |
  • सिर में टिल के तेल कि मालिश करने से भी रहत व शीतलता मिलती है |

keywords:- आँखों की सुंदरता और देखभाल कैसे करें, #Eye care tips in hindi, #eyes tips in hindi, #eye care food tips in hindi, #आँखों की देखभाल एवं घरेलु नुस्खे, #aankhon ke liye tips in hindi, #aankhon ki roshni ke liye dua in hindi, #aankhon ka ilaj in hindi,

पेट के समस्त रोगों का इलाज पेट में भारीपन जलन अरुचि फूलना

पेट में अनेको रोग होते रहते है यदि इनका समय रहते इलाज न हो तो ये Pet के साधारण रोग काफी बड़े हो जाते है इस लेख में काफी आसान नुस्खे दिए गए है जिनके इस्तेमाल से आप Pet ke rogo ko dur kar sakte hae.

पेट के समस्त रोगों का इलाज

पेट में भारीपन के नुस्खे Pet ke rogo ko dur kar sakte hae.

  • चने का क्षार 2 से 6 रत्ती अथवा प्रभावी क्षार 5 से 10 बूंद दो-तीन बार दो-दो घंटे लेने से Pet  का भारीपन मिटता है|
  • बैगन को अंगारों पर सेककर उसमे सज्जिखर मिलाकर पेट पर बंधने से पेट के भारीपन का शमन ओता है|
  • द्रास्ख और सौफ दो-दो तोला लेकर आधा लीटर पानी में भिगोकर रख दीजिए, सुबह उसे मसल और छानकर तथा उसमे एक तोला शक्कर मिलाकर कुछ दिनों तक पिने से पेट का भारीपन  दूर हो जाता है |

पेट कि जलन के नुस्खे

  • अजवाइन और नमक पीसकर उसकी फंकी लेने से पेट कि जलन का शमन होता है |
  • धनिया और जीरा 10-10 ग्राम लेकर उन्हें अधकुटा कर लीजिये और 3 से 250 मी.ली. पानी में रात को भिगोकर रख दीजिये, सुबह उसे मसल-छानकर उसमे शक्कर डालकर चार-छ: दिन तक पिने से पेट कि जलन शांत होती है |
  • धनिया और शक्कर का शरबत बनाकर पिने से भी पेट कि जलन दूर होती है |
  • अजवाइन को तवे पर भुनकर उसमे संभाग में सेंधा नमक मिलाकर चूर्ण बना ले, तीन ग्राम कि मात्रा में यह चूर्ण ग्राम पानी के साथ लेने से पेट कि जलन मिटती है |

अरुचिनाशक नुस्खे

मोटापा एक दिन में कम करने के घरेलु नुस्खे

  • 20 तोला अदरक छीलकर उसकी चटनी बनाइए, फिर इसे 20 तोला घी में भुनी, तब वह  लाल हो जाए तब उसमे 40 तोला गुड डालकर हलवे जैसा गाढ़ा अक्लेह बनाइए एक-एक तोला इस अक्लेह को सुबह-शाम प्रतिदिन खाने से अरुचि विकार दूर होता है और भूख  खुलकर लगती है |
  • नीम्बू का रस एक भाग और शक्कर छ: भाग चासनी लेकर उसमे लौंग और काली मिर्च का थोड़ा-सा चूर्ण मिलाकर, शरबत बना कर पिने से अरुचि का शमन होता है | और आहार का पाचन होता है |
  • सौंठ एक तोला कलि एक तोला, पिपरी एक तोला और सेंधा नमक एक तोला इन सभी को कूटकर कपड़े से छानकर चूर्ण बनाइए, इसमें 40 तोला काली द्राक्ष बीज (बीज निकली हुई) मिलाइए, इसे चटनी कि तरह पीसकर किसी कांच के बर्तन में भरकर रख लें | इस अवलेह को प्रतिदिन आधे से दो तोले तक सुबह-शाम सेवन करें | यह अरुचिनाशक तो है ही, साथ ही अन्य पेट विकारों का शमन भी करता है |

Keywords:- #pet ke rog aur upchar in hindi, #आंत के रोग,#पेट में इन्फेक्शन के लक्षण,#पेट के नीचे दर्द,#बार बार पेट खराब होना,#पेट मे गैस का ईलाज,stomach diseases and treatment,chronic gastritis symptoms,gastritis treatment at home,gastritis cure,gastric pain relief,
acute gastritis treatment,how to cure gastritis permanently,gastritis pictures,
diet for gastritis,pet ki bimari ka ilaj,pet ki garmi ka ilaj in hindi

health tips 17 आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे स्वास्थ्य के लिए

health tips in hindihealth tips in hindi दोस्तों आज इस लेख में काफी सारे अलग अलग बीमारियों के घरेलु नुस्खे दिए गए है इन health tips को इस्तेमाल कर अप healthy life जी सकते है इस लेख में बिलकुल आसान से health tips दिए गए है आप इन्हें आसानी से प्रयोग कर सकते है दोस्तों यदि आपको ये tips अच्छे लगें तो अपने मित्रो के साथ भी ये health tips in hindi लेख को शेयर जरुर करें

top 17 health tips in hindi

1:- अजीर्ण भूख कम लगना

एक प्याज काटलें और उसपर सेंधा नमक और निम्बू लगाकर सेवन करें एसा करने से भूख अच्छी लगेगी

2:- एलोवेरा से मोटापा कम करें

रोज एलोवेरा का जूस पिने से वजन कम होता है और मोटापा नहीं बढ़ता है एलोवेरा के सेवन से आप का शरीर स्वस्थ रहता है और पेट सही रहता है

3:- तरबूज health tips in hindi

  • तरबूज हमारे शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है और भोजन अच्छा पचता है और हमारी अंतो को शक्ति देता है
  • तरबूज में एक तत्व लाइकोपीन पाया जाता है जो आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है इसीलिए गर्मियों में तरबूज जरुर खाएं
  • तरबूज खाने से आपका कोलेस्ट्राल नियंत्रित होगा और ये आपके ह्रदय को भी मजबूती देगा

4:- घाम घमोरियों का इलाज

गर्मियों मेंहमेसा सूती और ढीले वस्त्र ही पहनने चाहिए जब भी बहार से आयें तो स्नान जरुर करलें और नारियल तेल मेंकपूर मिलाकर पुरे शरीर पर लगालें गर्मियों में सिंथेटिक के कपड़े ना पहने इन कपड़ों से घमोरियां बढती हैं

5:- खरबूजा

खरबूजे में एंटीआक्सीडेंट और विटामिन c काफी मात्रा में पाया जाता है और ये पानी का भी अच्छा स्त्रोत है लगभग 95% इसमें पानी ही होता है इसमें एसे तत्व है जो आपकी बॉडी के लिए अच्छे है

6:- अमरुद

  • अमरुद खाने में जितना अच्छा है उतने ही इसमें गुण है अमरुद मधुमेह के रोगियों के लिए भी लाभदायक है ये फाइबर का अच्छा स्त्रोत है जो आपकी रक्त शर्करा को कम करता है
  • अमरुद में विटामिन c भी काफी ज्यादा है इसमें विटामिन c की मात्रा संतरे से चार गुना ज्यादा है
  • जिनको thyroid का रोग है उनके लिए ये अमरुद काफी फायदेमंद है

7:- लू से बचने के लिए health tips

गर्मियों में जब हवा चलती है तो वो गर्म होती है जिसे लू कहते है इससे बचने का उपाय आपको पता होना चाहिए जब भी घर से निकले तो सर पर कपड़ा जरुर रखें और ठंडाई, गन्ने का रस, निम्बू पानी पीजिये, आम का पन्ना पीजिये और खूब सारा पानी पीजिये

8:- खीरा

गर्मियों में खीरा खूब खाएं खीरा खाने से पेट ठीक रहेगा और पेटका कोई भी रोग नहीं सताएगा ये खीर आपके शरीर से विशेले तत्व को बाहार निकालेगा इसलिए गर्मियों में रोज खीरे खाइए

9:- गन्ने का रस

गन्ने का रस गर्मियों में आपका मित्र है ये गन्ने का रस आपको शीतलता प्रदान करता है ये आपकी बॉडी के लिए काफी उपयोगी है ये मूत्र जलन को भी रोकता है और आपको ताकत भी देता है इसीलिए रोज 1 गिलास गन्ने का जूस पीजिये

10:- मुलहठी

यदि आपको धुम्रपान की आदत है और आप इस धुम्रपान की आदत को छोड़ना चाहते है और छोड़ नहीं पारहे तो ये मुलहठी आपकी मदद कर सकती है आपको बस ये करना है जब भी धुम्रपान की इच्छा हो तो मुलहठी का एक टुकड़ा चूसिये धीरे धीरे आपकी धुम्रपान की आदत छुट जाएगी

11:- बड़ी इलायची

यदि आपकी शरीर में दर्द रहता है तो बड़ी इलायची इसमें आपकी काफी सहयता कर सकती है बस आपको ये करना है 2 बड़ी इलायची का चूर्ण पानी में मिलाकर दिन में 3 बार पीजिये एसा करने से आपको शरीर के दर्द से छुटकारा जल्दी ही मिलेगा

12:- अस्थमा का उपचार

प्याज का रस अदरक का रस आधा आधा चम्मच ले लें और इसमें तुलसी के 4 पत्तों का रस और 1 चम्मच शहद मिलाकर रोज सुबह शाम लेने से अस्थमा का रोग दूर भागता है जिनको शुगर है वो शहद का सेवन ना करें

13:- गेंदे का फुल मच्छरों को दूर रखे

जी हाँ गेंदे का फुल मच्छरों को दूर रखता है यदि आप अपने बालकनी में गेंदे के फुल लगायेंगे तो इसके आपको दो फायदे होंगे एक तो मच्छर नही आएंगे और दूसरा फूलों की ताजा ताजा खुशबु आपको मिलेगी इसलिए गेंदे के फुल जरुर लगाने चाहियें

14:- गठिया

यदि आपको गठिया का रोग है तो आप ये नुस्खा आजमा कर देखिये आपको फायदा होगा आधा चम्मच सुखी अदरक का चूर्ण इसको सोंठ भी काहा जाता है इसे रोज गुनगुने पानी के साथ या फिर गर्म दूध के साथ लीजिये इस घरेलू नुस्खे को आजमा कर देखीय गठिया का रोग ठीक होगा

15:- पुदीना

पुदीने को यदि गर्मियों का अमृत कहा जाये तो गलत ना होगा गर्मियों में पुदीना आपको आसानी से मिलजायेगा ये पुदीना आपके लिए काफी लाभदायक है आप ये प्रयोग करके देखें थोड़े से पुदीने को पानी में पिस लें और इसमें थोडा सा भुना हुआ जीरा लें नीबू का रस और नमक भी लें इनको पानी में मिलाकर पीजिये इस नुस्खे से आपको पेट से सम्बन्धित कोई रोग नही होगा और आपका पेट स्वस्थ रहेगा

16:- बहुमुत्रता यानि अधिक पेशाब आना health tips

रोज एक गिलास दूध में 2 छुहारे उबाल लें और इन्हें खाकर उपर से इस दूध को पीजिये इस घरेलू नुस्खे से आपको अधिक पेशाब का रोग नहीं सताएगा

17:- आँखों की देखभाल के लिए health tips

आज आँखों के रोग अधिकतर सभी को है कम्पुटर पर अधिक बेठना फोन का अधिक इस्तेमाल करना और प्रदूषण के कारण भी आपकी आंखे खराब हो जाती है आँखों के रोगों से बचाव के लिए रोज हरी सब्जिया खाइए गाजर खाइए सेब संतरे खाइए और कम्पुटर पर काम करते समय आँखों को ज्यादा झपकिये और कटोरी में ठंडा पानी लेकर उसमें आँखों को डुबाने से आपकी आँखे स्वस्थ रहेंगी ये घरेलु उपचार आँखों के लिए जरुर आजमा कर देखिये काफी लाभ होगा

दोस्तों उमीद है की आपको ये hindi health tips पसंद आयी होंगी यदि आपको ये घरेलु नुस्खे पसंद आये तो हमारे फेसबुक के पेज को भी लाइक कीजिये और फेसबुक पर हमारे दोस्त बनिए https://www.facebook.com/maabharti 

heart problems के कारण और इलाज

tag:- health tips hindi,  hindi health tips, only my health in hindi, ayurveda hindi, good health tips in hindi, health care in hindi, health news in hindi, घरेलू नुस्खे, आयुर्वेदिक उपाय, घरेलू उपचार, आयुर्वेदिक उपचार

heart problems के कारण और इलाज इन आसान घरेलु तरीको से

heart problems से सम्बन्धित रोग काफी प्रकार के होते है। परन्तु आज ज्यादातर व्येक्ती ये ही मानते है की जब हमारे heart problemsheart को खून पोहचाने वाली रक्त धमनियां रुक जाती है। यानिकी उसमें रक्त गाढ़ा हो जाता है तो heart attack जेसी परेशानी खड़ी हो जाती है लेकिन आम आदमी ये नहीं जनता की ये heart problems कई प्रकार की हो सकती है। जिसके कारन Heart diseases और परेशानी अलग अलग तरीके की हो सकती है हमें चाहे किसी भी तरीके की Heart diseases हो उसमें आज की हमारी दिनचर्या का काफी योगदान है। जिसके कारण हमें ये heart problems होती है यदि हम अपने खाने पिने में और अपनी दिन चर्या में बदलाव कर सके तो हम सभी परकार की heart problems से बच सकते है और healthy life जी सकते है। सबसे पहले तो आपको ये जानना होगा की ये heart problems होती किन कारणों से है हमें इन कारणों को दूर करना होगा जिससे गलत दिनचर्या के side effect से बचा जसके तो आइये जानते है वो कारण जिनके side effect के कारण हमें ये heart problems होती है।

heart problems होने के कारण जिनसे heart attack होता है।

1:- फास्ट फूड का नुकसान / harmful effects of fast food in hindi

fast food चाहे खाने में कितना भी अच्छा लगता हो पर इसके side effect Heart diseases को बिलावा देते है। और आप रोगी हो जाते है ये फास्ट फूड सिर्फ हमें नुकसान ही देता है। ये हमें रोगी करदेता है ये हमारे शरीर के लिए इतना खतरनाक है की इसे एक तरीके का जेहर ही बोला जाये तो गलत नहीं होगा आज हम जिसे भी देखते है वो ही इस जेहर के पीछे भाग रहा है यदि आप फास्टफूड खाते है तो आपको पक्का 100% शुगर, दिल का रोग और भी खतरनाक बीमारी होंगी यदि आप स्वस्थ रहना चाहते है तो आज से ही इसे त्यागे और स्वस्थ रहे।

2 :- धुम्रपान के नुकसान / tobacco smoke harms in hindi

धुम्रपान की आदत आज काफी व्येक्तियों में देखि जाती है धुम्रपान की आदत आदमी ओरत दोनों में ही देखि जाती है। और इसके नुकसानदायक प्रभाव भी सभी में देखे जारहे है। जानते तो सभी है की ये धुम्रपान हमारे लिए कितना नुकसानदायक है लेकिन फिर भी धुम्रपान की आदत नहीं छोड़ते जिसके परिणाम ये होते है किडनी फेल , हार्ट फैल, फेफड़े खराब और आखिर में दर्दनाक मोत यदि आप इस दर्दनाक मोत से बचना चाहते है तो इस नशे की आदत को आज ही छोड़ दें।

3 :- शराब के दुष्परिणाम

heart problems में ये शराब भी एक बड़ी समस्या है इस हार्ट रोग के लिए यदि व्येक्ती दारू पीनी नहीं छोड़ता तो Heart diseases के साथ साथ अनेको रोग उसे घेर लेते है इसीलिए आज ही इस दारु को त्याग्दिजीय।

heart attack treatment in hindi

1:- रोज सुबह खाली पेट कच्चा लहसुन खाए इससे आपके दिल को ताकत मिलेगी और कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करेगा।

2:- रोज 1 सेब जरुर खाए इससे आपका हार्ट दिल अच्छे से काम करेगा।

3:- आंवला आपको रोज सुबह खाली पेट आंवला खाना चाहिए या आंवले का जूस पीना चैये ये आपकी बॉडी को बिलकुल स्वस्थ रखेगा और खून को गाढ़ा होने से रोकेगा और खून को साफ़ करेगा।

4:- रक्त दान 6 महीने में एक बार रक्तदान अवश्य करें जिससे आपको किसी भी प्रकार का हिरदय रोग नहीं होगा और आपका खून स्वस्थ और साफ रहेगा।

5:- रोज 1 चमच शहद की लीजिये इससे आपका दिल मजबूत रहेगा और आप स्वस्थ जीवन जियेंगे।

6:- हवन आप कमसे भी कम हफ्ते में 1 बार घर में हवन जरुर कीजिये और जब भी हवन करे तो सिर्फ देसी गायें का ही घी डालें आप स्वस्थ रहेंगे वेसे जितना प्रदूषण हम फेला रहे है उसके अनुपात में तो प्रत्यक व्येक्ती हो दोनों समय या रोज एक समय हवन जरुर करना चाहिए हवन करने से आपका तो भला होगा ही साथ में करोड़ो जीवों का भी भला होगा इसीलिए हवन जरुर करें।

7:- रोज घिया का जूस पीजिये यदि आप रोज घिया का जूस पियेंगे तो आपको कोई भी हिरदय रोग नहीं होगा।

8:- heart problems में अर्जुन की छाल का इस्तेमाल कीजिये अर्जुन की छाल हिरदय रोग को जड से खत्म करेगी रोज अर्जुन की छाल का काढ़ा बनाकर पिने से ह्रदय रोग खत्म होते है।

दोस्तों उमीद है की आपको ये लेख पसंद आया होगा दोस्तों हमारा फेसबुक का पेज भी लाइक करे इस लिंक पर क्लिक करें https://www.facebook.com/maabharti

keywords:- dil ki bimari ka ilaj in hindi, heart attack ka ayurvedic ilaj, heart attack treatment in hindi, heart attack ke symptoms in hindi, heart attack treatment at home in hindi, heart problem in hindi, heart attack in hindi

diet chart for mens and womens in hindi – आहार योजना

Diet chart ये जानने के लिए की स्वस्थ और पुष्ट बनने के लिए हम प्रतिदिन कितना भोजन लें। दोस्तों हमें उमीद है की ये diet chart आपकी health को अच्छा बनांये रखने में कफी healpfull होगा। आज हमे ये ही नही पता की हम दिन में कितना भोजन करे की हमारी health अच्छी बनी रहे। यदि आप अपनी बॉडी को healthy रखना चाहते है तो आपको ये मालूम होना जरूरी है की आप रोज कितना पोषक तत्व लें अपनी बॉडी को स्वस्थ बनाये रखने के लिए। और ये जानकारी आप सिर्फ एक अच्छे health diet chart से ही हासिल कर सकते है।

यदि आप इस health diet plans को अपनाएंगे तो आप अपना जीवन स्वस्थ जी सकते है।

diet chart for healthy body

diet chart in hindi

Health diet chart in hindi

चावल, गेहूँ, मक्का, ज्वार, बाजरा। आदि                                                                             450 ग्राम


 

दूध, दही, छाछ आदि                                                                                                        250 ग्राम


 

मुंग, उडद, चना, मसूर आदि की दालें                                                                                 100 ग्राम


 

घिया, टिंडा, तोरई, भिण्डी, परवल आदि


 

बिना पत्ते वाली सब्जियाँ                                                                                                200 ग्राम


 

घी, मक्खन. तेल आदि की चिकनाई                                                                                    50 ग्राम


 

आम , खरबूजा, सन्तरा. केला, अमरुद आदि फल                                                                  50 ग्राम


जोड़                                                                                     1100 ग्राम


कार्बोहाइड्रेटस ( Carbohydrates )… पदार्थों में मीठापन होना कार्बोहाइड्रेटस का घोतक है। शक्कर और गुड में कार्बोहाइड्रेटस बहुतायत में मिलते हैं जो सरलता से पच जाते है और शक्ति देते है। एक प्रोढ़ व्यक्ति के लिए चालीस ग्राम गुड़ या शक्कर रोज चाहिय। इसी लिए आप इस diet plans का पालन कीजिये।

प्रोटीन (Protein) -आप जानते ही है की protein हमारे शारीर के विकास के लिए कितना जरूरी है शरीर में कोशाणुओं (Cells) का निर्माण और नष्ट हुए कोशाणुओं का पुनर्निर्माण प्रोटीन से होता है । कार्बोहाइड्रेटस की तरह प्रोटीन शक्ति भी देता है। दालों में प्रोटीन मिलता है। दाल में 20-25 % प्रोटीन होता है। हमेसा एक बात का ध्यान रखना चाहिए की प्रोटीन सिर्फ प्राक्रतिक स्त्रोत से ही हासिल करें कभी भी केप्सूल या पाउडर ना खाएं।

वसा (Fat )… पदार्थों में चिकनाई होना वसा का घोतक है । तेल, वनस्पति घी वसा वाले खाद्य है। और एक बात हमेसा ध्यान रखें देसी गाये के घी में चर्बी नहीं होती देसी गाय का घी सबसे उतम है। आप ptanjli का देसिगाय का घी खरीद सकते है ।

रक्तक्षीणता की पहचान – रक्त की कमी से यकृत (liver) भोजन नहीं पचा पाता इससे गैस बनती है आँखों की निचे की पलक में सफेदी, त्वचा पिली, थकावट, मुरछा आ जाना, पेट खराब रहता है और दुर्बलता बढती जाती है

लोहा प्रामि के स्त्रोत – लोहा खाया नहीं जा सकता । इसे भोजन से प्राप्त करना होता है टमाटर, पालक, शहद आदि में लोहा बहुत मिलता है। चौलाई (प्रतिग्राम में 1.4 मिलीग्राम), हरा धनिया (प्रतिग्राम में 10 मिलीग्राम), सूखी सोयाबीन (प्रतिग्राम में 8 मिलीग्राम), सूखी दालें (प्रतिग्राम में 7.4 मिलीग्राम), मटर दाने (प्रतिग्राम में 5 मिलीग्राम), उबला बथुआ (प्रतिग्राम में 5 मिलीग्राम) लोहा होता है। हमें नित्य 15 से 20 मिलीग्राम लोहा खाना चाहिए जो इन चीजों
को खाने से मिल जाता है।

दोस्तों ये हमारा फेसबुक पेज का लिंक है हमारे पेज को लिखे जरुर करें टाक समय समय पर आपको हमारे नए लेख मिलते रहें

https://www.facebook.com/maabharti 

ये भी पढ़ें

शरीर की कमजोरी का आयुर्वेदिक इलाज

keywords:- fitness tips in hindi, dieting chart, gym tips in hindi, diet chart to gain weight, diet plan, body ko fit kaise kare, healthy diet chart for mens and womens