Category Archives: Health Articles In Hindi

health tips 17 आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे स्वास्थ्य के लिए

health tips in hindihealth tips in hindi दोस्तों आज इस लेख में काफी सारे अलग अलग बीमारियों के घरेलु नुस्खे दिए गए है इन health tips को इस्तेमाल कर अप healthy life जी सकते है इस लेख में बिलकुल आसान से health tips दिए गए है आप इन्हें आसानी से प्रयोग कर सकते है दोस्तों यदि आपको ये tips अच्छे लगें तो अपने मित्रो के साथ भी ये health tips in hindi लेख को शेयर जरुर करें

top 17 health tips in hindi

1:- अजीर्ण भूख कम लगना

एक प्याज काटलें और उसपर सेंधा नमक और निम्बू लगाकर सेवन करें एसा करने से भूख अच्छी लगेगी

2:- एलोवेरा से मोटापा कम करें

रोज एलोवेरा का जूस पिने से वजन कम होता है और मोटापा नहीं बढ़ता है एलोवेरा के सेवन से आप का शरीर स्वस्थ रहता है और पेट सही रहता है

3:- तरबूज health tips in hindi

  • तरबूज हमारे शरीर में पानी की कमी को पूरा करता है और भोजन अच्छा पचता है और हमारी अंतो को शक्ति देता है
  • तरबूज में एक तत्व लाइकोपीन पाया जाता है जो आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है इसीलिए गर्मियों में तरबूज जरुर खाएं
  • तरबूज खाने से आपका कोलेस्ट्राल नियंत्रित होगा और ये आपके ह्रदय को भी मजबूती देगा

4:- घाम घमोरियों का इलाज

गर्मियों मेंहमेसा सूती और ढीले वस्त्र ही पहनने चाहिए जब भी बहार से आयें तो स्नान जरुर करलें और नारियल तेल मेंकपूर मिलाकर पुरे शरीर पर लगालें गर्मियों में सिंथेटिक के कपड़े ना पहने इन कपड़ों से घमोरियां बढती हैं

5:- खरबूजा

खरबूजे में एंटीआक्सीडेंट और विटामिन c काफी मात्रा में पाया जाता है और ये पानी का भी अच्छा स्त्रोत है लगभग 95% इसमें पानी ही होता है इसमें एसे तत्व है जो आपकी बॉडी के लिए अच्छे है

6:- अमरुद

  • अमरुद खाने में जितना अच्छा है उतने ही इसमें गुण है अमरुद मधुमेह के रोगियों के लिए भी लाभदायक है ये फाइबर का अच्छा स्त्रोत है जो आपकी रक्त शर्करा को कम करता है
  • अमरुद में विटामिन c भी काफी ज्यादा है इसमें विटामिन c की मात्रा संतरे से चार गुना ज्यादा है
  • जिनको thyroid का रोग है उनके लिए ये अमरुद काफी फायदेमंद है

7:- लू से बचने के लिए health tips

गर्मियों में जब हवा चलती है तो वो गर्म होती है जिसे लू कहते है इससे बचने का उपाय आपको पता होना चाहिए जब भी घर से निकले तो सर पर कपड़ा जरुर रखें और ठंडाई, गन्ने का रस, निम्बू पानी पीजिये, आम का पन्ना पीजिये और खूब सारा पानी पीजिये

8:- खीरा

गर्मियों में खीरा खूब खाएं खीरा खाने से पेट ठीक रहेगा और पेटका कोई भी रोग नहीं सताएगा ये खीर आपके शरीर से विशेले तत्व को बाहार निकालेगा इसलिए गर्मियों में रोज खीरे खाइए

9:- गन्ने का रस

गन्ने का रस गर्मियों में आपका मित्र है ये गन्ने का रस आपको शीतलता प्रदान करता है ये आपकी बॉडी के लिए काफी उपयोगी है ये मूत्र जलन को भी रोकता है और आपको ताकत भी देता है इसीलिए रोज 1 गिलास गन्ने का जूस पीजिये

10:- मुलहठी

यदि आपको धुम्रपान की आदत है और आप इस धुम्रपान की आदत को छोड़ना चाहते है और छोड़ नहीं पारहे तो ये मुलहठी आपकी मदद कर सकती है आपको बस ये करना है जब भी धुम्रपान की इच्छा हो तो मुलहठी का एक टुकड़ा चूसिये धीरे धीरे आपकी धुम्रपान की आदत छुट जाएगी

11:- बड़ी इलायची

यदि आपकी शरीर में दर्द रहता है तो बड़ी इलायची इसमें आपकी काफी सहयता कर सकती है बस आपको ये करना है 2 बड़ी इलायची का चूर्ण पानी में मिलाकर दिन में 3 बार पीजिये एसा करने से आपको शरीर के दर्द से छुटकारा जल्दी ही मिलेगा

12:- अस्थमा का उपचार

प्याज का रस अदरक का रस आधा आधा चम्मच ले लें और इसमें तुलसी के 4 पत्तों का रस और 1 चम्मच शहद मिलाकर रोज सुबह शाम लेने से अस्थमा का रोग दूर भागता है जिनको शुगर है वो शहद का सेवन ना करें

13:- गेंदे का फुल मच्छरों को दूर रखे

जी हाँ गेंदे का फुल मच्छरों को दूर रखता है यदि आप अपने बालकनी में गेंदे के फुल लगायेंगे तो इसके आपको दो फायदे होंगे एक तो मच्छर नही आएंगे और दूसरा फूलों की ताजा ताजा खुशबु आपको मिलेगी इसलिए गेंदे के फुल जरुर लगाने चाहियें

14:- गठिया

यदि आपको गठिया का रोग है तो आप ये नुस्खा आजमा कर देखिये आपको फायदा होगा आधा चम्मच सुखी अदरक का चूर्ण इसको सोंठ भी काहा जाता है इसे रोज गुनगुने पानी के साथ या फिर गर्म दूध के साथ लीजिये इस घरेलू नुस्खे को आजमा कर देखीय गठिया का रोग ठीक होगा

15:- पुदीना

पुदीने को यदि गर्मियों का अमृत कहा जाये तो गलत ना होगा गर्मियों में पुदीना आपको आसानी से मिलजायेगा ये पुदीना आपके लिए काफी लाभदायक है आप ये प्रयोग करके देखें थोड़े से पुदीने को पानी में पिस लें और इसमें थोडा सा भुना हुआ जीरा लें नीबू का रस और नमक भी लें इनको पानी में मिलाकर पीजिये इस नुस्खे से आपको पेट से सम्बन्धित कोई रोग नही होगा और आपका पेट स्वस्थ रहेगा

16:- बहुमुत्रता यानि अधिक पेशाब आना health tips

रोज एक गिलास दूध में 2 छुहारे उबाल लें और इन्हें खाकर उपर से इस दूध को पीजिये इस घरेलू नुस्खे से आपको अधिक पेशाब का रोग नहीं सताएगा

17:- आँखों की देखभाल के लिए health tips

आज आँखों के रोग अधिकतर सभी को है कम्पुटर पर अधिक बेठना फोन का अधिक इस्तेमाल करना और प्रदूषण के कारण भी आपकी आंखे खराब हो जाती है आँखों के रोगों से बचाव के लिए रोज हरी सब्जिया खाइए गाजर खाइए सेब संतरे खाइए और कम्पुटर पर काम करते समय आँखों को ज्यादा झपकिये और कटोरी में ठंडा पानी लेकर उसमें आँखों को डुबाने से आपकी आँखे स्वस्थ रहेंगी ये घरेलु उपचार आँखों के लिए जरुर आजमा कर देखिये काफी लाभ होगा

दोस्तों उमीद है की आपको ये hindi health tips पसंद आयी होंगी यदि आपको ये घरेलु नुस्खे पसंद आये तो हमारे फेसबुक के पेज को भी लाइक कीजिये और फेसबुक पर हमारे दोस्त बनिए https://www.facebook.com/maabharti 

heart problems के कारण और इलाज

tag:- health tips hindi,  hindi health tips, only my health in hindi, ayurveda hindi, good health tips in hindi, health care in hindi, health news in hindi, घरेलू नुस्खे, आयुर्वेदिक उपाय, घरेलू उपचार, आयुर्वेदिक उपचार

heart problems के कारण और इलाज इन आसान घरेलु तरीको से

heart problems से सम्बन्धित रोग काफी प्रकार के होते है। परन्तु आज ज्यादातर व्येक्ती ये ही मानते है की जब हमारे heart problemsheart को खून पोहचाने वाली रक्त धमनियां रुक जाती है। यानिकी उसमें रक्त गाढ़ा हो जाता है तो heart attack जेसी परेशानी खड़ी हो जाती है लेकिन आम आदमी ये नहीं जनता की ये heart problems कई प्रकार की हो सकती है। जिसके कारन Heart diseases और परेशानी अलग अलग तरीके की हो सकती है हमें चाहे किसी भी तरीके की Heart diseases हो उसमें आज की हमारी दिनचर्या का काफी योगदान है। जिसके कारण हमें ये heart problems होती है यदि हम अपने खाने पिने में और अपनी दिन चर्या में बदलाव कर सके तो हम सभी परकार की heart problems से बच सकते है और healthy life जी सकते है। सबसे पहले तो आपको ये जानना होगा की ये heart problems होती किन कारणों से है हमें इन कारणों को दूर करना होगा जिससे गलत दिनचर्या के side effect से बचा जसके तो आइये जानते है वो कारण जिनके side effect के कारण हमें ये heart problems होती है।

heart problems होने के कारण जिनसे heart attack होता है।

1:- फास्ट फूड का नुकसान / harmful effects of fast food in hindi

fast food चाहे खाने में कितना भी अच्छा लगता हो पर इसके side effect Heart diseases को बिलावा देते है। और आप रोगी हो जाते है ये फास्ट फूड सिर्फ हमें नुकसान ही देता है। ये हमें रोगी करदेता है ये हमारे शरीर के लिए इतना खतरनाक है की इसे एक तरीके का जेहर ही बोला जाये तो गलत नहीं होगा आज हम जिसे भी देखते है वो ही इस जेहर के पीछे भाग रहा है यदि आप फास्टफूड खाते है तो आपको पक्का 100% शुगर, दिल का रोग और भी खतरनाक बीमारी होंगी यदि आप स्वस्थ रहना चाहते है तो आज से ही इसे त्यागे और स्वस्थ रहे।

2 :- धुम्रपान के नुकसान / tobacco smoke harms in hindi

धुम्रपान की आदत आज काफी व्येक्तियों में देखि जाती है धुम्रपान की आदत आदमी ओरत दोनों में ही देखि जाती है। और इसके नुकसानदायक प्रभाव भी सभी में देखे जारहे है। जानते तो सभी है की ये धुम्रपान हमारे लिए कितना नुकसानदायक है लेकिन फिर भी धुम्रपान की आदत नहीं छोड़ते जिसके परिणाम ये होते है किडनी फेल , हार्ट फैल, फेफड़े खराब और आखिर में दर्दनाक मोत यदि आप इस दर्दनाक मोत से बचना चाहते है तो इस नशे की आदत को आज ही छोड़ दें।

3 :- शराब के दुष्परिणाम

heart problems में ये शराब भी एक बड़ी समस्या है इस हार्ट रोग के लिए यदि व्येक्ती दारू पीनी नहीं छोड़ता तो Heart diseases के साथ साथ अनेको रोग उसे घेर लेते है इसीलिए आज ही इस दारु को त्याग्दिजीय।

heart attack treatment in hindi

1:- रोज सुबह खाली पेट कच्चा लहसुन खाए इससे आपके दिल को ताकत मिलेगी और कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करेगा।

2:- रोज 1 सेब जरुर खाए इससे आपका हार्ट दिल अच्छे से काम करेगा।

3:- आंवला आपको रोज सुबह खाली पेट आंवला खाना चाहिए या आंवले का जूस पीना चैये ये आपकी बॉडी को बिलकुल स्वस्थ रखेगा और खून को गाढ़ा होने से रोकेगा और खून को साफ़ करेगा।

4:- रक्त दान 6 महीने में एक बार रक्तदान अवश्य करें जिससे आपको किसी भी प्रकार का हिरदय रोग नहीं होगा और आपका खून स्वस्थ और साफ रहेगा।

5:- रोज 1 चमच शहद की लीजिये इससे आपका दिल मजबूत रहेगा और आप स्वस्थ जीवन जियेंगे।

6:- हवन आप कमसे भी कम हफ्ते में 1 बार घर में हवन जरुर कीजिये और जब भी हवन करे तो सिर्फ देसी गायें का ही घी डालें आप स्वस्थ रहेंगे वेसे जितना प्रदूषण हम फेला रहे है उसके अनुपात में तो प्रत्यक व्येक्ती हो दोनों समय या रोज एक समय हवन जरुर करना चाहिए हवन करने से आपका तो भला होगा ही साथ में करोड़ो जीवों का भी भला होगा इसीलिए हवन जरुर करें।

7:- रोज घिया का जूस पीजिये यदि आप रोज घिया का जूस पियेंगे तो आपको कोई भी हिरदय रोग नहीं होगा।

8:- heart problems में अर्जुन की छाल का इस्तेमाल कीजिये अर्जुन की छाल हिरदय रोग को जड से खत्म करेगी रोज अर्जुन की छाल का काढ़ा बनाकर पिने से ह्रदय रोग खत्म होते है।

दोस्तों उमीद है की आपको ये लेख पसंद आया होगा दोस्तों हमारा फेसबुक का पेज भी लाइक करे इस लिंक पर क्लिक करें https://www.facebook.com/maabharti

keywords:- dil ki bimari ka ilaj in hindi, heart attack ka ayurvedic ilaj, heart attack treatment in hindi, heart attack ke symptoms in hindi, heart attack treatment at home in hindi, heart problem in hindi, heart attack in hindi

diet chart for mens and womens in hindi – आहार योजना

Diet chart ये जानने के लिए की स्वस्थ और पुष्ट बनने के लिए हम प्रतिदिन कितना भोजन लें। दोस्तों हमें उमीद है की ये diet chart आपकी health को अच्छा बनांये रखने में कफी healpfull होगा। आज हमे ये ही नही पता की हम दिन में कितना भोजन करे की हमारी health अच्छी बनी रहे। यदि आप अपनी बॉडी को healthy रखना चाहते है तो आपको ये मालूम होना जरूरी है की आप रोज कितना पोषक तत्व लें अपनी बॉडी को स्वस्थ बनाये रखने के लिए। और ये जानकारी आप सिर्फ एक अच्छे health diet chart से ही हासिल कर सकते है।

यदि आप इस health diet plans को अपनाएंगे तो आप अपना जीवन स्वस्थ जी सकते है।

diet chart for healthy body

diet chart in hindi

Health diet chart in hindi

चावल, गेहूँ, मक्का, ज्वार, बाजरा। आदि                                                                             450 ग्राम


 

दूध, दही, छाछ आदि                                                                                                        250 ग्राम


 

मुंग, उडद, चना, मसूर आदि की दालें                                                                                 100 ग्राम


 

घिया, टिंडा, तोरई, भिण्डी, परवल आदि


 

बिना पत्ते वाली सब्जियाँ                                                                                                200 ग्राम


 

घी, मक्खन. तेल आदि की चिकनाई                                                                                    50 ग्राम


 

आम , खरबूजा, सन्तरा. केला, अमरुद आदि फल                                                                  50 ग्राम


जोड़                                                                                     1100 ग्राम


कार्बोहाइड्रेटस ( Carbohydrates )… पदार्थों में मीठापन होना कार्बोहाइड्रेटस का घोतक है। शक्कर और गुड में कार्बोहाइड्रेटस बहुतायत में मिलते हैं जो सरलता से पच जाते है और शक्ति देते है। एक प्रोढ़ व्यक्ति के लिए चालीस ग्राम गुड़ या शक्कर रोज चाहिय। इसी लिए आप इस diet plans का पालन कीजिये।

प्रोटीन (Protein) -आप जानते ही है की protein हमारे शारीर के विकास के लिए कितना जरूरी है शरीर में कोशाणुओं (Cells) का निर्माण और नष्ट हुए कोशाणुओं का पुनर्निर्माण प्रोटीन से होता है । कार्बोहाइड्रेटस की तरह प्रोटीन शक्ति भी देता है। दालों में प्रोटीन मिलता है। दाल में 20-25 % प्रोटीन होता है। हमेसा एक बात का ध्यान रखना चाहिए की प्रोटीन सिर्फ प्राक्रतिक स्त्रोत से ही हासिल करें कभी भी केप्सूल या पाउडर ना खाएं।

वसा (Fat )… पदार्थों में चिकनाई होना वसा का घोतक है । तेल, वनस्पति घी वसा वाले खाद्य है। और एक बात हमेसा ध्यान रखें देसी गाये के घी में चर्बी नहीं होती देसी गाय का घी सबसे उतम है। आप ptanjli का देसिगाय का घी खरीद सकते है ।

रक्तक्षीणता की पहचान – रक्त की कमी से यकृत (liver) भोजन नहीं पचा पाता इससे गैस बनती है आँखों की निचे की पलक में सफेदी, त्वचा पिली, थकावट, मुरछा आ जाना, पेट खराब रहता है और दुर्बलता बढती जाती है

लोहा प्रामि के स्त्रोत – लोहा खाया नहीं जा सकता । इसे भोजन से प्राप्त करना होता है टमाटर, पालक, शहद आदि में लोहा बहुत मिलता है। चौलाई (प्रतिग्राम में 1.4 मिलीग्राम), हरा धनिया (प्रतिग्राम में 10 मिलीग्राम), सूखी सोयाबीन (प्रतिग्राम में 8 मिलीग्राम), सूखी दालें (प्रतिग्राम में 7.4 मिलीग्राम), मटर दाने (प्रतिग्राम में 5 मिलीग्राम), उबला बथुआ (प्रतिग्राम में 5 मिलीग्राम) लोहा होता है। हमें नित्य 15 से 20 मिलीग्राम लोहा खाना चाहिए जो इन चीजों
को खाने से मिल जाता है।

दोस्तों ये हमारा फेसबुक पेज का लिंक है हमारे पेज को लिखे जरुर करें टाक समय समय पर आपको हमारे नए लेख मिलते रहें

https://www.facebook.com/maabharti 

ये भी पढ़ें

शरीर की कमजोरी का आयुर्वेदिक इलाज

keywords:- fitness tips in hindi, dieting chart, gym tips in hindi, diet chart to gain weight, diet plan, body ko fit kaise kare, healthy diet chart for mens and womens

Pregnancy में क्या खाएं – 9 month pregnancy in hindi

pregnancy me kya khana chahiyePregnancy में यदि शुरू से ही बालकों का खान पान का पूरा ध्यान रखा जाए तो वे जीवन भर स्वस्थ रहेंगे। 9 month pregnancy यदि माताएं निचे बताई गई बातों का ध्यान रखेगी तो स्वस्थ बच्चे जन्म लेंगे। pregnancy के समय यदि माताएं अपने खाने पिने का उचित ध्यान रखे तो बच्चे भी स्वस्थ पैदा होंगे। शिशुओं के खान पान का समय माता की गर्भवावस्था (pregnancy) से ही आरम्भ हो जाता है।  इसी समय से खान पान पर ध्यान देना चाहिए।

Pregnancy me kya khana chahiye

नारंगी : गरभवती महिला को रोज दो नारंगी दोपहर में खिलाते रहने से होने वाला शिशु सुन्दर होता है।

मोसमी : मोसमी में केल्सियम अधिक मात्र में होता है। गरभवती महिलाओं और गर्भाशय के शिशु को शक्ति प्रदान करने में इसका रस पोष्टिक है।

नारियल : नारियल का गोला और मिसरी खाने से प्रसव में दर्द नही होता। सन्तान हष्ट पुष्ट होती है।

शहद : गर्भावस्था में रक्त की कमी आजाती है। इस समय खून बढ़ाने वाली चीजों का सेवन अधिक किया जाना चाहिए।  महिलाओं को दो चमच शेहद रोज पिलाते रहने से रक्त की कमी नही होती और शक्ति आती है।  बच्चा मोटा ताजा होता है। गर्भवती महिलाओं को आरम्भ से ही या अंतिम तिन माह में दूध और शहद पिलाने से बच्चा स्वस्थ और आकर्षक होता है।

दूध : गर्भवती महिलाओं को देसी गाएँ का दूध अवश्य पीना चाहिए। देसी गाएँ का दूध पिने से आपके बच्चे को ताकत मिलेगी। देसी गाएँ के दूध में वो शक्ति है जो आपके होने वाले बच्चे को ताकतवर और बुद्धिशाली बना सकता है। लेकिन दूध देसी गाएँ का ही होना चाहिए।

पानी : Pregnancy के समय माताओं को पानी अधिक पीना चाहिए।

सेब : सेब का सेवन रोज करें इससे आपको कोई रोग नहीं सताएगा और आपका बच्चा स्वस्थ पैदा होगा। रोज 2 सेब जरुर खाइए।

सात्विक आहार : pregnant ladies को इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए की वो हमेशा शुद्ध और सात्विक भोजन ही करे। सात्विक भोजन जैसे, देसी गाएँ का दूध , घी, छाछ , हरी सब्जियां , फल आदि।

शाकाहारी भोजन : हमेशा शाकाहारी भोजन को महत्व दे। शाकाहारी भोजन करने से आपके बच्चे काफी सारे रोगों से बच सकते है।

मासा हारी भोजन छोड़े : pregnant ladies मासा हारी भोजन कभी ना करें। आज सबसे ज्यादा समाज में भ्रान्ति ये ही फैली हुई है की मासाहारी भोजन से ताकत मिलती है। ये सबसे बड़ा भ्रम है मासाहारी भोजन से ताकत नही मिलती सिर्फ चर्बी बढती है। आप अपने चारो तरफ देख सकते है की ताकतवर मासाहारी है या शाकाहारी। हाथी शाकाहारी है और सबसे ताकतवर है। गैंडा शाकाहारी है और ताकत वर है। शेर मासाहारी है और अकेले इनका शिकार नही कर सकता।

कहने का मतलब ये है की यदि आप चाहती है की आपका होने वाला बच्चा स्वस्थ और ताकतवर हो तो शुद्ध शाकाहारी भोजन ही करें।

सेक्स ना करें :  pregnant ladies को इस बात का खासतोर से ध्यान रखना चाहिए की जब पेट में बालक हो तो कभी भी सेक्स ना करें। ज्यादातर डाक्टर कहते है की pregnant ladies को सेक्स करने में कोई परेशानी नही होगी। लेकिन ये बिलकुल गलत बात है। यदि ग्रभावस्था में सेक्स करेंगी तो आपके बच्चे चरित्रवान और बुद्धिशाली नही होंगे। क्योंकि जेसा आप ग्रभावस्था के दोरान जैसे वेव्हार करेंगे वैसे ही बच्चों पर संस्कार पड़ेंगे।

देसी चना : देसी चने को गेहूं के साथ मिलाकर पिस्वाएं और उसकी रोटी खाएं इससे आपको अधिक ताकत मिलेगी।

हरी सब्जियां : हरी सब्जियों का सेवन अधिक से अधिक करें। हरी सब्जियों के सेवन से आपके बच्चे का विकास बेहतर होगा।

पालक : रोज सुबह 5 पत्ते पालक के खाएं इससे आपको ताकत मिलेगी और खून भी बढेगा। इस पालक के सेवन से आपका बच्चा बुद्धिशाली होगा और उसे कोई भी जन्मजात रोग नही होगा।

 रक्त वृधि : आधा गिलास गाजर का रस, आधा गिलास दूध व स्वादानुसार शहद मिलाकर रोज पिने से कमजोरी दूर होती है और शरीर में खून बढ़ता है।

बच्चों की गुदा की फुनसियों का इलाज
bachchon ki funsi ka gharelu upchar

प्राय: जन्म के बाद प्रथम एक साल तक यह पाया जाता है। माँ के दूध में खराबी होने से पेशाब – टट्टी के बाद गुदा की सफाई उचित रूप से ना करने से, स्नान के बाद इस भाग को अच्छी तरह से ना सुखाने से या ज्यादा पसीना आने से गुदा में फुन्सियाँ निकल आती हैं। उनका रंग लाल होता है। अधिक बढ़ने से इनमें घाव पैदा होता है। जिससे खून निकलता है।

बच्चों की फुंसी का इलाज – funsi ka ilaj in hindi

1 . तुलसी के पत्ते पीसकर उनका लेप लगाएं।

2 . मक्खन में हल्दी मिलाकर उसका लेप लगाएं। ( साबुत हल्दी को घर पर ही पिसलें बाजार से हल्दी ना खरीदे क्योंकि बाजार की हल्दी मिलावटी होती है नकली होती है। )

3 . हरी दुब पिस कर लगाएं।

baby care tips

Tag: pregnancy diet in hindi, Tips For Pregnant Women In Hindi , Pregnancy Care In Hindi, pregnancy me kya khana chahiye in urdu, pregnancy tips , #pregnancy tips for normal delivery in hindi , Pregnancy Tips For Normal Delivery in Hindi, How can I get pregnant ?

शरीर की कमजोरी का आयुर्वेदिक इलाज

Ayurvedic treatment for weakness in hindi

Ayurvedic treatment for weakness in hindiayurvedic treatment की आज सभी को जरूरत है आज जिसे भी देखो वो ही व्येक्ती कमजोर और सुस्त दीखता है। इस कमजोरी (body weakness) के पीछे का असली कारण पोष्टिक आहार ना लेना और ब्रह्मचारी पालन ना करना है। हमारे युवा आज उन अँधेरी खाइयों में गिर रहें है जन्हा से निकलना मुस्किल है पर नामुमकिन नही है सही ayurvedic treatment से थोड़ी सी सावधानी से हम अपना जीवन सुधार सकते हैं। और कमजोरी (weakness home remedies ) को दूर भगा सकते हैं।

बस हमें कुछ बातों का ध्यान रखना होगा तभी हमारा भला होसकता है। आज आप इस लेख में जानेंगे की आप अपने शरीर की कमजोरी को कैसे दूर रख सकते है और स्वस्थ रह सकते हैं। यदि आप इन छोटे छोटे घरेलु नुस्खों को आजमाएंगे तो आप काफी अच्छा लाभ प्राप्त करेंगे। और हमेसा स्वस्थ और सुखी रहेंगे।

Ayurvedic treatment Health benefits of honey in hindi

शहद हर भारतीय घर में आसानी से मिल जाता है। इसको आप gharelu Dawai के रूप में भी इस्तेमाल करसकते हैं। शहद में विटामिन बी होता है जिसके कारण आपकी भूख बढ़ने लगती है। शहद का रोज सेवन करने से अमीनो एसिड, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, आयरन आदि पोषक तत्व हमारी body को मिल्जाते हैं और हम स्वस्थ रहते हैं।

एक गिलास दूध में 1 चमच shahad मिलाकर पिने से शारीर की कमजोरी दूर भाग्जाती है। पर इस घरेलु उपचार में सबर करने की आवश्कता है। यदि आप अपने शारीर में ज्यादा Weakness महसूस करते हैं तो मैं आपको अच्छा Ayurvedic treatment किसी अच्छे आयुर्वेद के वैध से करवाना होगा।

Ayurvedic treatment milk benefits in hindi

वैसे दूध में काफी सारे गुण पाए जाते हैं। पर अपने आर्यव्रत की देसी गाएँ का दूध सबसे ज्यादा अच्छा होता है। बल्कि ये कहना अतिश्योक्ति नही होगा की देसी गाएँ का दूध अमृत है जिसे पीकर हमारे देश के राजा चक्रवर्ती सम्राट हुआ करते थे। यदि आप शारीर में कमजोरी महसूस करते है तो देसी गाएँ का ही दूध, घी, छाछ आदि इस्तेमाल करें आपको काफी अच्चा लाभ मिलेगा आप और आपका परिवार हमेशा स्वस्थ और खुश रहेंगे। और जब देसी गौ वंश के दूध की डिमांड बढ़ेगी तो गौ रक्षा भी होगी।

Banana benefits in hindi –

केले में काफी सारे प्राक्रतिक तत्व पाए जाते हैं।  जैसे ग्लूकोज, सूक्रोज या फ्रुक्टोज आदि होते हैं। ये केला आपको अधिक उर्जावान बनाता है। केले में काफी मात्रा में पोटेशियम भी होता है जो शर्करा को ऊर्जा में परिवर्तित कर देता है। जब भी आपको कमजोरी महसूस हो तो आप 1 केला खास्कते है ज्यादा भी खास्कते हैं। थकान तो खत्म करने का ये एक अच्चा घरेलु तरीका है।

यदि आप रोज केला खाएं या केले का जूस पियें तो आप इस कमजोरी से छुटकारा पा सकते हैं। तो देर किस बातकी आजही से केले का सेवन शुरू कीजिये। ये काफी आसान Ayurvedic treatment है कमजोरी को दूर भगाने के लिए।

Badam khane ke fayde – बादाम रखे उर्जावान

बादाम (Badam) में विटामिन e और मैग्नीशियम मोजूद होता है। इसका सेवन करने से आप उर्जावान महसूस करेंगे। रोज रात को 4 या 5 बादाम भिगोदें और सुबहे अच्छे से चबा कर खालें और ऊपर से देसी गाएँ का दूध पीलें। बादाम में वसा, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट होता है। जो आपके शारीर को उर्जा देता है और आप ताकतवर बनते हैं। यदि आप रोज बादाम का सेवन करते रहेंगे तो आपकी याददाश्त भी तेज बनेगी।

Coconut oil benefits in hindi – नारियल तेल के फाएदे

लेकिन क्या आपको पता है नारियल (nariyal) तेल का इस्तेमाल आप अपनी कमजोरी दूर करने के लिए भी कर सकते है। इसका इस्तेमाल यदि आप भोजन में करेंगे तो आपके शारीर में चर्बी नहीं बढ़ेगी। और ये आसानी से पाच भी जाएगा। नारियल का तेल metabolism और energy को भी बढ़ाता है।

नारियल का तेल thyroid granth को उत्तेजित करता है और harmons को संतुलित करता है। इसीलिए नारियल का तेल रोज अपने भोजन में इस्तेमाल कीजिये आपको ताकत मिलेगी।

फाइबर से भरपूर otas

ये एक काफी अच्छा आहार है। जिसको खाने से आपके शारीर में चर्बी जमा नही होगी। और ये आपके शारीर को उर्जा भी देगा। इसमें काफी मात्रा में कार्बोहाइड्रेट, फाइबर होता है जो आपकी भूख को नियंत्रित करता है। साथ ही इसमें मैग्नीशियम और पोटेशियम होता है जो थकान और कमजोरी को दूर करने में साहयक होता है।

Amla ke fayde in hindi

यदि आप रोज 1 amlaa का सेवन करेंगे तो आपको काफी सारे लाभ होंगे। जैसे रक्त शुद्ध होगा, कब्ज नही रहेगी, गैस नही बनेगी, आँखों की रौशनी बढेगी, रोगों से लड़ने की शक्ति बढ़ेगी, बाल जल्दी सफ़ेद नहीं होगे, और सबसे बड़ी बात कमजोरी को जड़ से खत्म करेगा। आप आंवले का जूस भी पिसकते है ये सीधे खून ,में शामिल होजाएगा और जल्दी अपना असर दिखाएगा। एक बार आंवले से ayurvedic treatment करके जरुर देखें।

Amla ke fayde

दही के लाभ – dahi ke fayde

दही में प्रोटीन होता है जिससे शारीर को उर्जा मिलती है। और इसमें आपकी उर्जा को बढाने के लिए प्राकर्तिक शकर भी होती है। यदि आप रोज 200 या 300 ग्राम दही खाएं तो आप शारीरिक कमजोरी को दूर भगा सकते हैं। गर्मियों में तो दही जरुर खाएं। लू से भी बचाएगी और कमजोरी भी दूर करेगी।

Mango health benefits – आम खाएं स्वस्थ रहें 

आम काफी स्वादिष्ट होता है इस फल में एंटीऑक्सिडेंट, खनिज, विटामिन, फाइबर जैसे अच्छे पोषक तत्व होते हैं। जो आपकी health के लिए काफी लाभदायक है। आम में मोजूद स्टार्च चीनी को उर्जा में बदल देता है। यदि आप रोज गर्मियों में आम खाएं या आम का जूस पिएं तो आपको काफी ताकत मिलेगी और कमजोरी दूर भागेगी।

Havan vidhi in hindi – हवन से चिकित्सा

यदि आप रोज हवन करे तो आप इस दुनिया के खतरनाक से खतरनाक रोगों को बड़ी आसानी से दूर भगा सकते हैं। havan में विशेष जडीबुटी वाली havan samagri  डाली जाती है जिससे आसानी से आप रोगों को दूर रखसकते है। हवन अपने आपमें एक बहुत बड़ा पर आसानी से किया जासकने वाला विज्ञान है। आप इसको इसप्रकार समझिए आप अग्नि को जो भी देंगे अग्नि उसकी हजार गुणा ताकत बढाकर आपको देगी। हवन में आप सिर्फ आम की लकड़ी या पीपल या गिलोय ही इस्तेमाल करें।

हवन सिखने के लिए आप हमसे भी सम्पर्क करसकते हैं हम आपकी फ्री में पूरी साहयता करेंगे। और हवन के एसे वैज्ञानिक और प्रमाणित लाभ बताएँगे की आप चोंक जाएंगे।

yagya therapy hindi me यज्ञ चिकित्सा विज्ञान

keywords: body weakness treatment in hindi, causes of weakness in human body, symptoms of weakness, weakness in body home remedies, home remedies for weakness, ayurvedic treatment medicines in hindi, 

Anjeer dried figs health benefits in hindi – अंजीर के गुण

Anjeer benefits

anjeer ke fayde in hindi Anjeer खाने में जितना स्वादिष्ट है उससे ज्यादा इसमें गुण है। यदि आप रोज anjeer खाते हैं तो आप को अनेकों health benifites मिलेंगे। आज इस hindi health article में आप figs के फाएदों के बारे में जानेंगे। काफी व्येक्तियों ने अंजीर के गुण से लाभ लिया है। आप भी anjeer से लाभ उठा सकें ये ही हमारा प्रयास है। हमें उमीद है की ये लेख आपके लिए फाएदों का सिद्ध होगा।

Anjeer ke fayde in hindi

1. Anjeer (figs) पाचन शक्ति मजबूत करे कब्ज को दूर करे।

अंजीर (fig) में फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है। फाइबर अधिक होने से ये कब्ज को जड़ से खत्म करता है, यदि आप anjeer को रोज सेवन करेंगे तो आपको पेट से सम्बंधित रोग दुखी नही करेंगे। और पेट साफ़ रहेगा कब्ज और गैस जैसे रोग आपसे कोसों दूर रहेंगे। यदि आपका पेट सही है खाना सही पचता है तो आपको कभी कोई रोग नही हो सकता।

2. Anjeer मोटापा तेजी से कम करे। figs health benefits weight loss

Fig अंजीर में फाइबर तो अधिक होता ही है। साथ में इसमें फैट भी काफी कम होता है। इसलिए ये आपका वजन जल्दी कम करेगा। और आपको ताकत भी देगा कमजोरी दूर रहेगी। तोर देर कैसी wight loss कीजिये anjeer खाइए।

3. High bp उच्च रक्तचाप को जड़ से खत्म करे figs

यदि आप नियमित अंजीर का सेवन कर रहे है तो आप उच्च रक्तचाप (High bp ) जैसे रोग को हमेसा के लिए दूर रख सकते है। और यदि आपको उच्च रक्तचाप नही है तो भी आप इसका सेवन कीजिये आपको काफी लाभ होगा। भविष्य में कभी उच्च रक्तचाप का रोग नही सताएगा।

4. Anjeer Heart दिल को तन्दरूस्त रखे।

इसमें उच्च मात्रा में ऐसे गुण होते है जो आपकी रक्त कोशिकाओं को स्वस्थ बनाए रखते हैं। और दिल से सम्बंधित रोगों को नही पनपने देते इसलिए दिल के रोग आपसे दूर रहते है।

5. Fig हड्डियों की मजबूती के लिए।

यदि आप रोज ये खाते है तो आपकी हड्डियां मजबूत रहेंगी। 1 anjeer में 3% कैल्सियम होता है और ये कैल्शियम आपकी हड्डियों को अधिक सख्ती प्रदान करेगा इसलिए रोज खाइये इसे।

6. गर्भावस्था के दौरान कब्ज को दूर करे।

जैसा की ऊपर बताया जाचुका है की इसमें फाइबर ज्यादा होने के कारण पेट के रोगों को दूर रखता है। यदि गर्भवती महिलाओं को इसका का सेवन कराया जाए तो गर्भावस्था के दौरान होने वाली कब्ज को जड़ से खत्म किया जासकेगा। और शिशु का स्वास्थ्य भी अच्छा होगा।

7. अंजीर की तासीर गर्म और ठण्डी।

यदि आप इस को सुखा खाएंगे तो इसकी तासीर गर्म होगी। यदि इसको रातभर भिगोदे तो इसकी तासीर ठण्डी हो जाएगी।

8. खांसी को रखे दूर।

यदि आपको खांसी है तो अंजीर और सोंफ को मिलाकर खाइये और खांसी में आराम पाइए। जल्दी आपकी खांसी ठीक होजाएगी।

9. घाव होने पर figs का प्रयोग।

यदि आपको घाव हो गया है तो आप ये प्रयोग कीजिये आपको अच्छा फाएदा होगा, दूध में सूखे अंजीर को पिस कर पेस्ट बनालें, और घाव पर लगालें इस के घरेलू उपचार से जल्दी ही घाव भर जाएगा।

10. सुजन में प्रयोग।

यदि गले में सुजन होगई है तो इसका काढ़ा बनाइए और इसे पीजिये जल्दी ही सुजन ठीक होगी, यदि जीभ पर सुजन है तो इसको अच्छे से पिस कर लगाने से लाभ होगा।

11. शक्तिवर्धक कमजोरी दूर भगाए।

यदि आपको कमजोरी रहती है और शरीर में ताकत कम है तो रोज इसे खाए और उपर से दूध पिए आपको काफी फाएदा होगा। कमजोरी जल्दी ही खत्म होगी और आपको ताकत मिलेगी।

12. शुगर में लाभ। figs health benefits diabetes

यदि आपको शुगर यानी मधुमेह रहती है तो आप इसको खाइए आपको विशेष लाभ मिलेगा। इसके प्रयोग से आपको मधुमेह को दूर करने में आसानी होगी।

13. अस्थमा में  फाएदे।

दमे के रोगी के लिए ये anjeer काफी फाएदेमंद  है रोज इसे खाइए और दमा जैसे रोगों को दूर रखिए।

Note- किसी भी घरेलू नुस्खे को अजमाने से पहले वैध से सलहा जरूर करले।

keywords: anjeer ke fayde in hindi, anjeer ke fayde, अंजीर के फायदे, अंजीर के गुण, fig fruit, figs benefits

gharelu nuskhe for pink lips in hindi me

Gharelu nuskhe se hoto ko fatne se bachane ke tarike ye gharelu nuskhe apna kar aap apne hoto ko fatne se bacha sakte haen. yadi aap ye gharelu nuskhe apnaye ge to aap apne hoto ko shurkshit kar payenge.
 

1. Gharelu nuskhe mungfali se hoto ki dekhbhal kaise kare

gharelu nuskhe is gharelu nuskhe ko nahane se pehle hatheli me chothai chamach PEANUTS OIL mungfali ka tel lekar hatheli me ragde or fir apne lips pr tel se malish kare. ye gharelu nuskhe kafi upyogi sidh honge. aap ise jrur ajmakr dekhen. is gharelu nuskhe se aap apne hoton ko fatne se rok lenge.

2. MUSTARD OIL :- sarso ke tel ke (gharelu nuskhe) hindi me

Is gharelu nuskhe ko sone se pehle sarso se (NAVEL) nabhi pr tel ki malish kre. is gharelu nuskhe se aapke hoth fatne se to bach hi jayenge or sath men yadi aapki nabhi talti hae to use bhi talne se rok lega ye sarso ka tel. is gharelu nuskhe ko ek bar aajma kr jrur dekhen. ye gharelu nuskhe aapke liye fayede ka sidh hoga.
 
3. SWEET LEMON :- Mosami se hoto ko fatne se bachane ke gharelu nuskhe
Hoto pr SWEET LEMON JUICE roj din me 3 bar lgaye isse gharelu nuskhe se hoto ki prakrtik rksha hogi ( NATURAL LIPS CARE ) is gharelu nuskhe se hoto ka rang laal ho jata hae.
 
4. GHEE :- hoto ko fatne se bachane ke liye ghi ka prayog
Ghi ke aneko labh hen aap desi gaye ka hi ghi len. ise roj subha or raat ko sote hue hoto pr lgae. is gharelu nuskhe se aapke hot nhi fate ge. or fate ho to jaldi hi thik hojaen ge.
 
5. ALMONDS :- badam ke fayde in hindi
yadi aap roj 5 badam khaenge to aapke hot nahi fatenge or badam se aapka dimag bhi tej chlega.
 
6. GLYCERINE se hoto ki raksha ke upae
yadi aap roj is nuskhe ko apnaege to aapko kafi fayeda hoga. glycerine ko roj 2 bar lgane se aapke hoto ki raksha hogi,
 
7. CARDAMOM :- ilaychi se hoto ko fatne se bchane ke tarike
hoto pr papdi jam kr ukhadti hae. or dard hota hae to is tarike se aapko kafi labh hoga. ilaychi pis kar hoto par roj 2 bar lgayen is gharelu nuskhe se aapko kafi fayeda hoga.
 
8. ROSE :- gulab se hoto ki raksha ke upay
ek gulab ka ful le or use pis len. ab usmen mlai mila len or iska hoto pr lep kren. kuch hi dino men aap dekhenge ki is gharelu nuskhe se aapke hot gulab ki trha lal ho jaenge.
 
DOSTO UMID HAE YE NUSKHE AAPKE LIYE FAYEDE KE SIDH HONGE.
APNE YE LEKH PURA PADHA AAPKA DHNYAWAD UMID KARTE HAE. IN GHARELU NUSKHE SE AAP LAABH UTHAYENGE .
 
DOSTO YADI APKE MAN ME KOI BHI SWAL HO TO AAP HAMSE COMMENT KE MADHYAM SE PUCH SKTE HAEN. HAM AAPKI SMSYA KA HAL JRUR DENGE 
 
OR HMARE FACEBOOK PAGE KO JRUR LIKE KREN JISSE AAPKO NEW LEKH MILTE RAHEN  https://www.facebook.com/maabharti
 
jra ye bhi padhen

yagya therapy hindi me यज्ञ चिकित्सा विज्ञान

Yagya Therapy A Powerful Natural Cancer Treatment

Yagya Therapy A Powerful pollution Treatment
yagya therapy अग्निहोत्र से होने वाले लाभों की सूची अनन्त है। वायु शुद्धि, आरोग्य, दीर्घायु, वर्षा, दूध, अत्र, धन, बल, ऐश्वर्य, सन्तान, पुष्टि, निष्पापत्व, सच्चरित्रत्ता, यश, तेजस्विता, suvichar सदविचार , सत्कर्म, आनन्द तथा  मोक्ष की प्राप्ति में यह अग्निहोत्र बहुत ही सहायक होता है।
yagya therapy से कुछ लाभ सुगन्धित और रोगनाशक ओषधियों की आहुति देने से प्रत्यक्ष दीखते हैं और कुछ परमात्मा के गुणों का चिन्तन करने से प्राप्त होते हैं।
स्वामी दयानन्द सरस्वती जी ने अपने वेदभाष्यों में अग्निहोत्र yagya therapy के महत्व पर बहुत प्रकाश डाला है।
  • ”जब अग्नि में सुगनिघत पदार्थों का हवन होता है, तभी यह यज्ञ वायु आदि पदार्थों को शुद्ध करके तथा शरीर और ओषधि आदि पदार्थों की रक्षा करके अनेक प्रकार के रसों को उत्पन्न करता है। उन शुद्ध पदार्थों के भोग से प्राणियों के विद्या, ज्ञान और बल की विर्धि होती है।”
  • yagya therapy में जो यज्ञ के धूम से शुद्ध हुए पवन हैं, वे अच्छे राज्य के कराने वाले होकर रोग आदि दोषों का नाश करते हैं और जो अशुद्ध अर्थात् दुर्गन्ध आदि दोषों से भरे हुए हैं वें सुखों का नाश करते हैं। इससे मनुष्यों को चाहिए कि अग्नि में होम द्वारा वायु की शुद्धि से अनेक प्रकार के सुखों को सिद्ध करें।
  • मनुष्यों को योग्य है कि yagya therapy यज्ञविधि से सब पदार्थों का अच्छे प्रकार शोधन करके, सबका सेवन कर और रोगों का निवारण करके सदैव सुखी रहैं।
  • ”यदि यजमान और यज्ञ करने वाले विदवान हों और सुशोभित द्रव्यों को अग्नि में होंम करें, तो क्या क्या सुख प्राप्त न हों”
  • “मनुष्यों को चाहिए कि वे विद्वानों के संग धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष की सिद्धि करने वाले यज्ञ का विस्तार करें।”
  • “जो यज्ञ yagya therapy से शुद्ध किये हुए अत्र, जल और पवन आदि पदार्थ हैं वे सबकी शुद्धि, बल, पराक्रम और दीर्घ आयु के लिए समर्थ होते हैं। इससे सब मनुष्यों को यज्ञकर्म का अनुष्ठान नित्य करना चाहिए।”
  • yagya therapy के द्वारा “मनुष्य अग्नि में जो आहुति देते हैँ, वह वायु के साथ बादलो में जाकर सूर्य से आकर्षित जल को शुद्ध करती है! फिर वहाँ से वह जल पृथ्वी पर आकर औषधियों को पुष्ट करता है। (yagya therapy) यज्ञ में आहुति सदेव मन्त्रों के साथ ही देनी चाहिए जिससे उसके फल-ज्ञान होने पर नित्य श्रद्धा उत्पन्न हो।”
  • जिस यज्ञ (yagya therapy) से सब सुख हौते हैं, उसका अनुष्ठान सब मनुष्यों को क्यो न करना चाहिए?”
  • “जो मनुष्य अग्निहोत्र आदि यज्ञों को प्रतिदिन करते हैं, वे समस्त संसार के सुखों को बढाते हैं, पुरे संसार का भला करते हैं यह जानना चाहिए।”
  • “होम-नामक यज्ञ वह है, जिसमें मांस, क्षार, अम्ल, तिक्त आदि गुणों से रहित, किन्तु सुगन्धित, पुष्ठ, मिष्ट, रोगनाशक आदि गुणों से युक्त हो।”
  • “जो मनुष्य यज्ञ (yagya therapy) से शुद्ध किये जल, औषधि, पवन, अत्र, पत्र, पुष्प, फल, रस, कन्द अर्थात् अरबी, आलू, कमेरू, रतालू, शकरकन्द आदि पदार्थों का भोजन करते हैं वे नीरोग होकर बुद्धि, बल, आरोग्य और दीर्घायु वाले होते हैं।”
  • “मनुष्य नित्य सुगन्धियुक्त पदार्थों को अग्नि में छोड़ हवन करे , पवन और सूर्य की किरणों द्वारा वनस्पति, ओषधि, मूल, शाखा, पुष्प, और फलादिकों में प्रवेश कराके सब पदार्थों की शुद्धि कर आरोग्य की सिद्धि करें।”
  • “मनुष्यों को चाहिए कि जीवनपर्यंत शरीर, प्राण, अन्त:करण, दशों इन्द्रियाँ और जो सबसे उत्तम सामग्री हो उसको यज्ञ के लिए समर्पित करें , जिससे पापरहित कृतकृत्य होकर परमात्मा को प्राप्त होकर इस जन्म और द्वितीय जन्म में सुख को प्राप्त होवें।”
  • “हे मनुष्यों! सब यज्ञों मैं अग्नि आदि को ही पशु जानो। प्राणी इन यज्ञों में मारने योग्य नहीं न होम के योग्य हैं। जो यज्ञ में पशुओं की बली देते हैं वो व्येक्ती माहापाप के भागी हैं, जो ऐसा जानकर सुगन्धित द्रव्यों को अग्नि में होम करते हैं, और जो वायु शुद्ध हुई सुगन्धित हुई वो सूर्यं को प्राप्त होकर वर्षा द्वारा वहाँ से लोटकर औषधि, प्राण, शरीर और बुद्धि आदि को बल देते हैं।
इस यज्ञ (yagya therapy) के अनेकों लाभ होने के कारण वेदों में इसका बारम्बार उल्लेख आता है। चारों वेदों में यह “यज्ञ” शब्द 11184 बार आया है। ऋग्वेद के 10/11/2 मन्त्र- “ओउम् मृत्यो: पदं योपयन्तो यज्ञियांस “ यही बतलाता है कि यदि आप मृत्यु से बचकर स्वस्थ दीर्घायु चाहते हैं, धन, समृद्धि एवं सुसन्तान वाला होना चाहते हैं तो आप लोग यज्ञ करें एवं अपने जीवन को पवित्र करें।
आपने ये लेख पढ़ा आपका धन्यवाद
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें https://www.facebook.com/maabharti

इसे भी पढ़ें

beautiful skin tips home remedies hindi me

Skin tips in hindi gore hone ke tarike चेहरे को सुंदर बनाने के घरेलू नुस्खे 
bright skin tips hindi me
 
gharelu nuskhe for face in hindi 

1:-  turmeric for skin tips hindi me (haldi ke fayde in hindi)

(1) पिसी हुई हल्दी (turmeric) और काले तिल समान मात्रा में मिलाकर पीस ले। इसकी एक चम्मच रोज पानी में पेस्ट बनाले और इसको चेहरे पर लेप (turmeric face pack) करके सो जायें। सवेरे चेहरा धोये इससे चेहरे की झाँईंयाँ, छाया दूर होकर चेहरे का रंग साफ (bright skin tips) हो जायेगा।
 
(2) दूध की मलाई में हल्दी मिलाकर चेहरे पर मल लें मलने से दाग, धब्बे मिट कर सौंदर्य निखर उठता है (Beautiful skin tips) ।

2:- नीम- neem ke fayde in hindi

“चेहरे पर मुँहासों के निशान, धब्बे हों तो ye skin tips इस्तेमाल करें निबोली का नर्म हिस्सा पीस कर नित्य चेहरे पर लेप करें। कुछ सप्ताहों में skin साफ और सुन्दर हो जायेगा।

3:- दही- dahi ke fayde in hindi

जब त्वचा रूखी, काली हो जाये, जगह-जगह दाग, धब्बे पड़ जायेँ, मुँहासों से चेहरा कुरूप हो जाये तो चेहरे और शरीर को सुंदर बनाने के लिए ये dahi wali skin tips काफी फाएदे की साबित हुई है दही की शरीर पर उबटन की तरह से मालिश करें। फिर पाँच मिनट बाद स्नान करें फिर देखना इस skin tips से आपको कितना फाएदा होगा।
4:- सिरस- siras ke fayde hindi me
नित्य सिरस के फूलों को पीस कर चेहरे पर लेप करें। चेहरा निखर उठेगा। मुँहासे, दाग, धब्बे सब मिट जायेंगे। यह प्रयोग कम से कम 1 माह करें।
5:- तुलसी- tulsi ke fayde in hindi
तुलसी के पत्तों पर नीबू निचोड कर बारीक पीस कर चेहरे पर नित्य लेप करें। इससे चेहरे के दाग, धब्बे, विशेषकर काले दाग ठीक हो जायेंगे।
 
6:- नारंगी narangi fruit benifites in hindi
नारंगी के छिलके सुखा कर पिस लें। इसमें पानी मिला कर चेहरे (narangi skin tips) पर मलने से त्वचा मुलायम और सुन्दर होती है। ये skin tips चेहरे की सुन्दरता बढाती है।
 
7:- आँवला- amla ke fayde in hindi 
आंवला पीस कर पानी में भिगोकर चेहरे पर उबटन की तरह मलें। सौन्दर्य निखरेगा (amla skin tips) आंवला हमेशा सभी skin tips में आगे राहा है।
 
8:- लौकी- lauki juice benefits in hindi
लौकी के ताजा छिलके पीस कर चेहरे पर मले। चेहरा सुन्दर हो जायेगा lauki ka juice भी पिए।
 
9:- मेथी- methi ke fayde hindi me
मेथी के पत्ते पीस कर चेहरे पर मलने पर दाग, धब्बे मिट जाते हैं ( methi skin tips)  त्वचा का सूखापन मिट जाता है। झुर्रियाँ दूर हो जाती हैँ। चेहरे पर चमक आजाती है।
 
10:- सरसों – sarso ke fayde hindi me
रात में चार चम्मच सरसों पानी में भिगो दें। पानी इतना ही डालें कि सरसों सोख ले। फिर इसमें इतनी ही चिरौंजी डाल कर दूध में पीसें। इसको बदन पर मले सौन्दर्यं बढेगा।
 
11 :- नारियल- nariyal ke fayde in hindi
कील, मुँहासे, चेचक के दाग, चेहरे पर धब्बे, मुँहासों के निशान लम्बे समय तक कच्चे नारियल का पानी लगाने से मिट जाते है। ( nariyal skin tips ) यदि नारियल का पानी नहीं मिले तो बतासा और दूध पीसकर चेहरे पर मले, एक घण्टे बाद धो लें।
 
12:- नींबू- nimbu ke fayde in hindi
नीबूं एक चम्मच नींबू के रस में एक चम्मच दूध मिलायें। (nimbu skin tips) रोज रात सोने से पहले इसे चहरे व गरदन पर लगा लें। 15 मिनट बाद मौसम के अनुसार ठंडे या गरम पानी से धो डालें। इम तरह चेहरे की सफाई के साथ-साथ वह त्वचा को नरम व मुलायम भी रखेगा। नींबू का रस दो चम्मच, दूध की मलाई थोड़ी सी और बेसन या मैदा थोडी सी इनं तीनों को मिला कर उबटन बना लें और मले। इससे खुस्की दूर होती है और चेहरे में चमक आती है।
 
13:- खीरा, khira 
तेलिय त्वचा को ठीके करने के लिए खीरे की चार फांको को पीस कर उसका रस निकाल लें। उसमें आधा चम्मच नीबू का रस, आधा चम्मच ही गुलाब जल मिला कर 15 मिनट तक चेहरे पर लगाये रखें। मुरझाई हुई तैलीय त्वचा (khira skin tips) के लिए यह उत्तम टॉनिक है।
 
14:- चना, दूध, हल्दी- आधा कप दूध मैं दो बडे चम्मच चने की दाल को रातभर भिगोकर रखै सुबह दाल पीस कर उसे दूध मैं मिलालें उसमें एक चुटकी हल्दी और 6 बूंदें नींबू की मिला कर चेहरे पा लगाये रखे। सूखने पर गुनगुने पानी से धो ले। इस पैक को हफ्ते में तीन बार लगाये।
 
15:- नारंगी दाग धब्बों के लिय पेक- दो चम्मच संतरे के छिलकों का पिसा हुआ पाउडर, एक चम्मच दही व एक चम्मच दूध, एक चम्मच गुलाब जलं, नींबू का रस, एक चम्मच नारियल का तेल डाल कर अच्छी तरह फैंट ले। चेहरे पर लगाकर सूखने तक लगाये रखे। 
 
फिर धो लें दो महीने तक हफ्ते में तिन या चार बार तक यह पैक लगाने से हर तरह के दाग, धब्बे दूर होने लगते हैं। 100 ग्राम संतरे के छिलके छाया में सुखा कर महीन पीस ले। 
 
इतनी ही मात्रा में बाजरे का आटा, 10 ग्राम हल्दी, धोड़ा-सा नीबू का रस इन सब को एक साथ मिलाकर पानी में आटे की तरह गूँध ले, और इसे चेहरे पर मलें।
 
16:- दही- दही में बेसन मिलाकर चेहरे पर लगा लें सूखने के बाद ठंडे पानी से धो डालिए। ऐसा करने से चेहरे का रंग साफ होता है। सूर्य से पड़े त्वचा पर कुप्रभाव (Sunburn) दूर होते हैं।
 
फेसबुक पर हमारे मित्र बनें https://www.facebook.com/maabharti
KEYWORD :- home remedies for fair and beautiful skin, home remedies for beautiful skin overnight, home remedies for beautiful skin in summer,home remedies for beautiful skin and hair, home remedies for beautiful skin in hindi, natural remedies for beautiful skin,

beauty tips in hindi for face

चेहरे की सुन्दरता के उपाय beauty tips

 
 
चेहरे को गोरा करने के उपाय
टमाटर- 
  • (1) नित्य प्रात: टमाटर के रस का एक गिलास नमक, जीरा, काली मिर्च डालकर पीयें। चेहरे पर नारियल का पानी लगायें ।                                                                                                                                                                                             
  • (2) चेहरे के काले दागों को मिटाने के लिए टमाटर के रस में रुई भिगोकर दागों पर मलें। काले धब्बे साफ हो जायेंगे।
आलू- 
 
आलू उबाल कर छीलकर इसके छिलकों को चेहरे पर रगड़े, इससे मुँहासे ठीक हो जाते हैँ।
 
जायफल- 
  • (1) जायफल को कच्चे दूध में घिस कर इसमें दस काली मिर्च मिलाकर पीसकर चेहरे पर लेप करें। दो घंटे बाद चेहरा धो लें। मुँहासे ठीक हो जायेंगे।                                                                                                                                                                     
  • (2) जायफल को बारीक पीसकर महीन कपडे में छान लें। इसे गाय के कच्चे दूध में मिलाकर गाढा मिश्रण तैयार करें दिन में चार बार चेहरे पर लगाने से दाग, धब्बे दूर होते हैं।
chehre ko sundar banane ke upay
निम्बू- 
  • (1) त्वचा पर जहाँ कंही भी चकत्ते (Freckles) हों, उन पर नींबू का टुकडा रगड़ें नींबू में फिटकरी भरकर रगड़े। इससे चकत्ते हल्के पड़ जायेंगे और त्वचा में निखार आयेगा।                                                                                                                                         
  • (2) नींबू के रस में समुद्र का झाग पीसकर मिला लें। रात को मुँह पर हुए धब्बे पर इसे लगायें। कुछ दिनों में धब्बे साफ हो जायेंगे। समुद्र का झाग न मिलने पर केवल नींबू का रस ही रगड़े। आंखों के नीचे काले दागों पर नीबू का रस दूध की मलाई में मिलाकर लगाये।                                                                                                                                             
  • (3) नीबू के छिलके गर्दन पर रगड़ने से गर्दन का कालापन दूर होता है।                                                                                                                                           
  • (4) नीबू का रस व शहद बराबर मात्रा में मिलाकर लगाने से त्वचा का रंग निखर जाता है।                                                                                                                       
  • (5) नींबू के रस में मलाई और थोड़ा-सा बेसन मिलाकर त्वचा पर लगाने से त्वचा चमक उठती है और खुषकी दूर हो जाती है।                                                                                                                                                                                           
  • (6) संतरे के छिलकों को सुखाकर पीस ले। इसमें नारियल का तेल व थोडा सा गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगाने से त्वचा कोमल बनी रहती है।                                                                                                                                                                       
  • (7) संतरे के छिलके व नीबू के छिलके को बारीक पीसकर दूध में मिला दें और फिर इसे चेहरे पर लगाने से निखार आ जाता है।
How to make your own face masks
 
सफाई वाला मास्क- beauty tips
1 बडा चम्मच मुल्तानी मिटूटी, 3 बड़े चम्मच दही, 1 चाय का चम्मच शहद मिलाकर यह लेप बनायें और चेहरे पर लगायें। यह त्वचा की गहरी सफाई करता है। यह बन्द रोमकूप खोलता है। मृतकोष तथा त्वचा की गंदगी को हटा कर उसे साफ-सुथरां बनाता है।
 
तैलीय त्वचा के लिए मास्क- Oily skin face mask home remedies
1 बडा चम्मच मुल्तानी मिटटी में 3 बड़े चम्मच संतरे का रस मिलाकर चेहरे पर लगाएं। यह मास्क त्वचा के दाग-धबों को दूर करने के लिए बेहतरीन है। इससे त्वचा की अतिरिक्त तेलियता दूर होती है। 
 
डीप क्लींजिंग मास्क – Deep cleansing face mask at home
एक बडा चम्मच चने के आटे में थोड़ा-सा दूध मिलाकर इस लेप की चेहरे पर मालिश करें। मालिश करने से त्वचा के भीतर गहरी धँसी गन्दगी बाहर आ जाएगी और त्वचा साफ हो जायेगी।
 
मास्क लगाने के 20 मिनट बाद छुड़ायें। इसके बाद दो घण्टे तक मेकअप नहीं करें। मास्क सप्ताह में दो बार लगायें। प्राकृतिक सामग्री से बने मास्क हानिकारक नहीं होते। मास्क लगाने के बाद चेहरे पर हल्के हाथ से गोल-गोल मालिश करें, इससे रक्त-संचार बढता है और त्वचा स्वस्थ व कांतिमान बनती है।
 
चेहरे पर काले धब्बे ओर झाईयाँ हो गई हैं । इनको खत्म करने के लिए आप मसूर की दाल और बरगद के पेड़ की नर्म पत्तियाँ पीसकर लेप करें अथवा दालचीनी पीसकर दूध की मलाई के साथ लगाये। मुँह पर कालेपन को दूर करने के लिए चन्दन का पाउडर और बादाम पीसकर चेहरे पर मलें। एक घण्टे बाद चेहरा धोये।
 
note :- facebook पर हमारे मित्र बनें और हमारे फेसबुक के पेज को लाइक करें https://www.facebook.com/maabharti