Category Archives: Health Articles In Hindi

ब्रह्मचर्य क्या है Brahmacharya Benefits Hindi

ब्रह्मचर्य का पालन कैसे करें

ब्रह्मचर्य व्रत का पालन सब मनुष्यों के लिए आवश्यक है छात्रों को तो विशेष रूप से इसका पालन करना चाहिए

ब्रह्मचर्य brahmacharya benefits

प्राचीन काल में ब्रह्मचर्य पूर्वक विद्याध्ययन होता था पढ़ने पढ़ाने की व्यवस्था आजकल के समान भोग-विलास के वातावरण में नहीं होती थी बाल्यकाल में यानी कि पांचवें छठे या आठवीं वर्ष में पिता अपने बच्चों को गुरु के पास शिक्षा ग्रहण करने के लिए भेजते थे

जब छात्र पढ़ने के उद्देश्य से आचार्य के समीप आ जाता है तब वो अंतेवासी कहलाता है आचार्य जी उसका उपनयन करके उसे दीक्षा देकर गुरुकुल में ही रखता है

ब्रह्मचारी भी गुरुकुल में रहता हुआ ज्ञानार्जन में तत्पर रहता है जैसे माता के घर में स्थित प्राणी के शरीर के अवयव समय पर पुष्ट हो जाते हैं उसी प्रकार गुरुकुल में रहते हुए ब्रम्हचर्य का पालन करते हुए छात्र के अज्ञान अंधकार को हटाकर आधिदैविक आधिभौतिक और आध्यात्मिक विद्याओं में प्रवीणता तथा आत्मा का विकास हो जाता है

इस प्रकार गुरु से दीक्षा पाकर ब्रम्हचर्य के तरफ से दबा हुआ ब्रह्मचारी जब कार्य क्षेत्र में आता है तब वह विषय वासनाओं में नहीं फंस सकता जैसे आज-कल विषय वासना में फंसे हुए भ्रष्टाचारी लोगों का हाल दिखता है ब्रम्हचर्य के बिना विद्याध्ययन केवल हास्यास्पद ही होता है विद्या अध्ययन के लिए समरण शक्ति आवश्यक है और ब्रह्मचर्य के नाश हो जाने पर स्मरण शक्ति कहां रहेगी यदि समरण शक्ति ना रहेगी तो विद्याध्ययन कैसा होगा?

ब्रम्हचर्य के पालन से ही मेहंदी शक्ति संचित हो जाती है ब्रम्हचर्य के तेल से भीष्म पितामह ने महाभारत के युद्ध में अद्भुत कौशल दिखाया था इसी के प्रताप से हनुमान ने समुद्र को लगा था परशुराम ने 21 बार धरती क्षत्रियों से सुनने की थी और वर्तमान युग में ब्रह्मचर्य के बल से ही महर्षि दयानंद वैदिक धर्म का प्रचार कर के अंधकार से गिरे हुए देश को प्रकाशित किया

विद्याध्ययन के समय ब्रम्हचर्य को सदा यह दोष छोड़ देना चाहिए

आलस्य,मद, मोह, गप्पे, चंचलता अभिमान और संग्रह करना विद्यार्थियों के यह  सात दोष माने गए हैं विद्यार्थी को विद्या कहां? विद्यार्थी को सुख कहां? या तो सुखार्थी विद्या को छोड़ दें या विद्यार्थी सुख को छोड़ दें

ब्रम्हचर्य का पालन करने से ही सब आश्रम सुखी हो सकते हैं ब्रहमचर्य ही सब आश्रमों का मूल है यदि ब्रम्हचर्य नहीं होगा तो सब नष्ट हुए के समान हैं यदि मूल ही नहीं तो शाखाएं कहां से होगी यदि मूल मजबूत है तो शाखा और पुष्प आदि अधिक मात्रा में होंगे

Brahmacharya रक्षा के उपाय बच्चों के लिए

यह बड़े दुख की बात है कि आजकल ब्रम्हचर्य का नाश करने वाले बहुत से साधन व्यवहार में आ रहे हैं

उनमें ऊपर से मनोहर दिखने वाले श्रृंगार रस से भरपूर सिनेमा कच्ची आयु में छात्रों को देखने को मिलते हैं तथा अंय अभी चित्र को लुभाने वाले ब्रम्हचर्य के घातक अनेक पदार्थ भोजन सामग्री में मिलते हैं इन्हीं कारणों से छात्रों की उन्नति नहीं हो पाती जिसका ब्रह्मचारी नष्ट हो जाता है उनके मुख मल इन गाल पिचके हुए तथा रोगआक्रांत होते हैं  ब्रह्मचर्य के नाश्ते छात्र विद्याध्ययन से विरक्त तथा उद्विग्न हो जाते हैं

शिक्षा-  इसलिए जो छात्र अपना कल्याण चाहते हैं उन्हें ब्रम्हचर्य का नाश करने वाले  विघ्नों से अपने को सदा बचाना चाहिए

how to practice brahmacharya,brahmacharya power,brahmacharya diet,brahmacharya benefits,brahmacharya ashram,brahmacharya yoga,brahmacharya pdf,brahmacharya meaning in hindi,

Follow Us On Bharat Yogi On Youtube

Follow Us On Bharat Yogi On Facebook

Cinnamon दालचीनी से होने वाले नुकसान साइड इफेक्ट के कारण

दालचीनी से होने वाले नुकसान साइड इफेक्ट के बारे में हम जानेंगे

cinnamon in hindi

दालचीनी हमारे भोजन का स्वाद तो बढ़ाती है और यह हमारे स्वास्थ्य के लिए भी काफी ज्यादा उपयोगी सिद्ध होती है लेकिन दालचीनी के साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं आज हम इस लेख के माध्यम से यही आपको बताने जा रहे हैं इस दालचीनी के क्या साइड इफेक्ट होते हैं।

dalchini ke nuksan

1:- दालचीनी के साइड इफेक्ट

दालचीनी को औषधि के रूप में प्रयोग किया जाता है और मसाले के रुप में भी Cinnamon का प्रयोग किया जाता है जब हम dalchini का प्रयोग मसाले के रूप में करते हैं तो यह हमारे भोजन का स्वाद बढ़ा देती है और जब हम इसका आयुर्वेद में इस्तेमाल करते हैं तो यह मोटापा डायबिटीज जोड़ो का दर्द इन सब में काफी ज्यादा फायदेमंद होती है लेकिन कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनको नुकसान भी हो सकता है आज हम यही आपको बता रहे हैं इसके बारे में कुछ पढ़ लेते हैं।

2:- पेट में जलन का होना

जिन लोगों को अल्सर जैसी कोई समस्या है यदि वो लोग इसका प्रयोग करते हैं तो उनको पेट में जलन होने जैसी समस्या हो जाती है वैसे भी यदि आप अधिक मात्रा में dalchini का प्रयोग करेंगे तो आपको पेट में जलन होगी इसीलिए किसी अच्छे चिकित्सक की निगरानी में दालचीनी का प्रयोग करें।

3:- त्वचा में जलन जैसा महसूस होना

जो लोग दालचीनी के तेल cinnamon oil का इस्तेमाल करना चाहते हैं यदि आप सीधा ( Cinnamon ) दालचीनी के तेल को अपनी त्वचा पर लगाएंगे तो आपको जलन हो सकती है इसीलिए dalchini का तेल का प्रयोग करें तो किसी अच्छे चिकित्सक से सलाह लेकर ही उसका प्रयोग करें।

4:- खून को पतला करें

दोस्तों यदि आप इसका का उपयोग करते है तो कई मामलों में देखा गया कि ( Cinnamon ) दालचीनी आपके ब्लड को पतला करती है इसीलिए यदि आप खून पतला करने की दवाई ले रहे हैं तो आप इस dalchini का प्रयोग करने के बजाए सीलोन दालचीनी का ही प्रयोग करें।

5:- लीवर का फेल हो जाना

यदि आप इसका उपयोग ज्यादा कर रहे हैं तो आपको थोड़ा संभल जाना चाहिए क्योंकि ( Cinnamon ) दालचीनी में कुमरिन (Coumarin) नाम का तत्व होता है जो कि यदि आप dalchini का अधिक सेवन करेंगे तो यह आपका लीवर फेलियर का कारण बन सकता है यदि आप dalchini का प्रयोग करना चाहे तो आपको सीलोन dalchini का प्रयोग करना चाहिए क्योंकि इसमें यह जो पदार्थ है वो काफी कम मात्रा में पाया जाता है।

6:- गर्भवती महिलाओं को इससे बचना चाहिए

आप गर्भवती हैं तो आपको Cinnamon का प्रयोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए हालांकि देखा गया कि dalchini का प्रयोग जो है पेट दर्द की समस्या है या फिर गैस है उसको दूर करता है लेकिन जो गर्भवती महिलाएं हैं उनको गर्भावस्था के दौरान हैं उनको तो दालचीनी का प्रयोग बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए कई मामलों में देखा गया है जो महिलाएं dalchini का प्रयोग करती हैं उनको समय से पहले ही प्रसव पीड़ा होनी शुरू हो जाती है इसीलिए गर्भवती महिलाओं को दालचीनी का प्रयोग से बचना चाहिए इसका प्रयोग नही करना चाहिए।

दोस्तों हमें उमीद है की आपको ये लेख पसंद आया होगा मित्रो आप इस लेख को सोशल मिडिया पर शेयर कीजिये ताकि अधिक से अधिक व्येक्तियो तक ये लेख पोहंच सके और दुसरे भी इससे फायेदा उठा सके

benefits of dalchini with milk, cinnamon oil ,dalchini ke side effect in hindi,dalchini ke nuksan in hindi,dalchini powder,cinnamon in hindi

Health Tips in Hindi For Man Purush Swasthya in Hindi

Health Tips in Hindi For Man दोस्तों आज की जो हमारी आधुनिक जीवनशैली है वह हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी ज्यादा खतरनाक बन चुकी है और यह हमारे स्वास्थ्य पर अभी नकारात्मक प्रभाव डाल रही है।  ऐसे में आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना बेहद जरूरी है यदि आप दैनिक जीवन में अपनी आदतों को बदल ले तो आप स्वस्थ काफी आसानी से रह सकते हैं। यदि आप दैनिक जीवन में इन आदतों को नहीं बदल पाते हैं तो आप स्वस्थ नहीं रह पाएंगे और अन्य भयंकर बीमारियों से पीड़ित हो जाएंगे तो दोस्तों आइए आज हम जानते हैं पुरुषों के लिए उपयोगी कुछ health tips हेल्थ टिप्स जिनको अपनाकर आप काफी आसानी से अपना जीवन अच्छा बना सकते हैं और हमेशा healthy स्वस्थ और खुश रह सकते हैं।

Health Tips in Hindi For Man

Health Tips in Hindi For Man

Mens Health in Hindi (मेंस हेल्‍थ), Purush Swasthya in Hindi (पुरुष स्वास्थ्य): पुरुष स्वास्थ्य विषय, रहन-सहन

1:-  शुक्राणु की गुणवत्ता में कमी

दोस्तों यदि आप फास्ट फूड खाते हैं जंक फूड का सेवन करते हैं तो आपको शुक्राणु की समस्या उत्पन्न हो सकती है जिसमें शुक्राणु की की गुणवत्ता घट सकती है यदि आपको भी ऐसी कोई खाने पीने की गलत आदत है तो आप को इस आदत को बदल लेना चाहिए तभी आप सुखी और स्वस्थ अपना जीवन व्यतीत कर सकते हैं।

आपको रोज सुबह अच्छा नाश्ता करना चाहिए आपको रोज सुबह दो केले खाने चाहिए या फिर आप ऐसा भी कर सकते हैं रोज रात को कच्चे चने भिगो दें और सुबह उनको खाइए और उसके ऊपर से दूध पी लीजिए इससे जो आप के शुक्राणुओं की गुणवत्ता है काफी बढ़ेगी वीर्य मात्रा बढ़ेगी और आपको कोई भी सेक्सुअल प्रॉब्लम नहीं होगी।

2:- पैकिंग फूड खाना बंद कीजिए

दोस्तों जो पैकिंग फूड है वह ऐसे मेटल का उपयोग किया जाता है उनमें जो कि पुरुषों के लिए अच्छे नहीं होते और उन पैकिंग फूड को खाने से आपको अनेकों बीमारी बिन बुलाए आ जाती है यदि आप अत्यधिक मात्रा में पैकिंग फूड  का इस्तेमाल करते हैं उसे तुरंत बंद कर दीजिए।

3:- रोज सुबह जल्दी उठिए 

यदि आपको रोज सुबह देर से उठने की आदत है तो आप को इस को भी बदल देना चाहिए व्यायाम के बिना आप स्वस्थ  नहीं रह सकते आज की जीवनशैली काफी प्रदूषण भरी हो चुकी है। आज आप देख रहे हैं अपने चारों तरफ अनेकों बीमारियां हैं प्रदूषण की मात्रा काफी अधिक होती है यदि पुरुषों को अपना स्वास्थ्य अच्छा रखना है तो आपको रोज सुबह जल्दी उठना पड़ेगा और कुछ व्यायाम तो आपको करने ही होंगे थोड़े बहुत हल्के व्यायाम करेंगे उनसे आपको काफी ज्यादा फायदा होगा जैसे सूर्य नमस्कार और कुछ दौड़ लगाइए कुछ भी कीजिये कपालभाति कीजिये अनुलोम विलोम कीजिए आपको काफी ज्यादा फायदा होगा।

4:- फ़ास्ट फ़ूड खाना बंद कीजिये 

यदि आप सोडा , काफी,  रेड मीट, चिप्स, बर्गर, टिक्की, गोलगप्पे, अधिक मात्रा में खाते हैं तो आपको इनका सेवन बंद कर देना चाहिए क्योंकि इनका यदि आप अधिक सेवन करेंगे और लंबे समय तक इसका सेवन करेंगे तो यह आपको नुकसान ही पहुंचाएंगे नुकसान भी क्या पहुंचाएंगे देखिए हाई बीपी मोटापा केंसर की बीमारी है जो कि आप को मुफ्त में मिल जायेंगे सिर्फ इनका सेवन करने की इच्छा है तो कर सकते हैं लेकिन ज्यादा सेवन मत कीजिये ताकि आप अधिक बीमार ना पड़े।

5:- अच्छी गुणवता वाले तेल का इस्तेमाल कीजिये

हमेशा खाने में अच्छी गुणवत्ता वाले तेल का इस्तेमाल करें दो अक्सर देखा जाता है कि लोग रिफाइंड के चक्कर में काफी पड़े रहते हैं वह सोचते हैं कि रिफाइंड जितना फिल्टर होगा उनके स्वास्थ्य के लिए उतना ही अच्छा होगा जबकि ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता देखे दोस्तों रिफाइंड को कभी भी इस्तेमाल ना करें इसके बजाय आप कच्ची घानी का सरसों का तेल इस्तेमाल कीजिए या फिर राइस ब्रान आयल इस्तेमाल कीजिए जो कि आपके स्वास्थ्य में सबसे अधिक उत्तम है दोस्तों सबसे मुख्य बात यह है राइस ब्रान आयल वेस्टीज कंपनी का इस्तेमाल सबसे अच्छा है निचे लिंक दिया है जन्हा से आप इसे खरीद सकते है ।

दोस्तों यदि आप एक अच्छा तेल इस्तेमाल करते हैं खाना बनाने के लिए तो यह आपकी अनेकों बीमारियों को वैसे ही समाप्त कर सकता है दोस्तों जिनको ख़राब कैलेस्ट्रोल है जिनको हाई बीपी रहता है जो मोटे हैं उनके लिए राइस ब्रान आयल काफी अच्छा माना जाता है बल्कि राइस ब्रान आयल आज के समय में काफी अच्छा तेल है जो कि चावल के छिलकों से बनता है जिसकी गुणवता इतनी अच्छी है कि इसे वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने लोगों को कहा है कि आप इसका इस्तेमाल कीजिए आपका स्वास्थ्य काफी बेहतरीन हो जाएगा तो दोस्तों इसका इस्तेमाल करेंगे मुझे उम्मीद है। Health Tips in Hindi For Man

6:- मोटापे को कैसे खत्म करें

दोस्तों जो मोटापा है वह पुरूषों की यौन क्षमता को काफी घटा देता है यदि आप पुरुष हैं और आपको मोटापा है तो पहले तो आप को एक बात समझ लेनी चाहिए आपको कुछ भी करके अपना मोटापा घटाना ही है दोस्तों मोटापा घटाना कोई बड़ी समस्या नहीं है सिर्फ समस्या यह है कि क्या आप इसको करना चाहते हैं क्या आप सच में अपना मोटापा घटाना चाहते हैं दोस्तों बिल्कुल आसान सी चीजें मैं आपको बताऊंगा कि आप इनका सेवन करेंगे तो यकीन मानिए आपका मोटापा जरूर घट जाएगा मोटापा घटाने के लिए त्रिफला चूर्ण होता है उसका इस्तेमाल कर सकते हैं बस आपको करना है रोज रात को एक चम्मच चूर्ण को मिट्टी के बर्तन में भीगो दीजिए और सुबह इसे उबालिए बिल्कुल थोड़ा थोड़ा करके पीजिये फिर देखिए कुछ ही दिनों में मोटापा जल्दी कम होता है।

7:- फलो का सेवन ज्यादा कीजिये Health Tips in Hindi For Man

भोजन में हमेशा खाने में हमेशा मौसमी फलों का इस्तेमाल जरुर कीजिए दोस्तों जब भी मौसम बदलता है तो उस समय के जो फल होते हैं उनका सेवन आपको जरूर से भी जरूर करना ही चाहिए इससे दोस्तों आपको आपके शरीर में जो पोषक तत्व कमी हो जाती है वह बिल्कुल भी नहीं होगी आप स्वस्थ रहेंगे आपको सब चीजें जैसे मिल जाएंगे आप रोटी खाइए मौसमी का जूस पीजिए गर्मियां है तो केले का जूस बनाकर पीजिए लस्सी पीजिये पालक का जूस का फायदा होगा कि आप दूसरों को भी बताएंगे Health Tips in Hindi For Man

Mens Health in Hindi (मेंस हेल्‍थ), Purush Swasthya in Hindi (पुरुष स्वास्थ्य): पुरुष स्वास्थ्य विषय, रहन-सहन #Health Tips in Hindi For Man

मोटापा कम करने के लिए खाइए ये 5 सब्जिया Motapa Hoga Jaldi Kam Khaiye Ye 5 Sabjiya

मोटापा अनेको बीमारियों को दावत देता है और ये एक गंभीर समस्या बन गया है । जो लोग वजन मोटापा कम करना चाहते है वो अक्सर यही सोचते रहते हैं की एसा क्या खाएं की मोटापा कम हो जाये और शारीर में कमजोरी
भी नहीं आए ।

Motapa Hoga Jaldi Kam Khaiye Ye 5 Sabjiya

weight loss tips at home in hindi

Motapa Kam karne ke Upay

आपको ये जानलेना चाहिए की काफी सारे खाद पदार्थ एसे है जिनसे आप आसानी से मोटापा घटा सकते है । इनको खाने से आप स्वस्थ भी रहेंगे और आपको पुरे पोषक तत्व भी मिलेंगे । तो आइये जानते है कोंसे है वो Motapa तेजी से कम करने वाले खाद पदार्थ ।

मोटापा कम करने के लिए 5 चीजे इन्हें खाने से कभी नहीं बढेगा वजन

5 चीजे इन्हें खाने से कभी नहीं बढेगा वजन

1:- फूलगोभी – फूलगोभी में फाइबर की मात्रा अधिक होने के कारण ये आपका पाचनतंत्र अच्छा रखती है आपको कब्ज नही होती इसमें उत्कृष्ट गुणवता का फाइबर होता है जो मोटापा नही बढ़ने देता इसे आप सलाद के रूप में कच्चा खाइए मोटापा नहीं बढेगा ।

2) टमाटर – यदि आप Motapa घटाना चाहते है तो तो आपको टमाटर का सलाद और टमाटर का सूप जरुर पीना चाहिए इससे आपको काफी मात्रा में फाइबर, विटामिन,पोटेशियम, मिलेंगे इसमें विटामिन ए, सी, काफी मात्रा में होता है टमाटर का अपने सलाद के रूप में सेवन शुरू कीजिये आपको काफी अच्छे परिणाम मिलेंगे ।

3) ब्रोकली – ब्रोकली की सब्जी काफी स्वादिष्ट होती है और इसमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्त्व होते है जो की आपके शारीर में कमजोरी नही आने देते और मतलब आपको प्रचुर मात्रा में पोषक तत्त्व मिल जाते है । ब्रोकली में विटामिन ए, सी, और क अच्छी मात्र में होता है । आप इसका सेवन सलाद के रूप में कीजिये या इसे उबाल कर खाइए आपको काफी अधिक फायेदा होगा जल्दी आपका वजन कम होगा कुछ ही दिनों के बाद Motapa भागता हुआ नजर आयेगा ।

4) खीर – खीरा खाने में काफी स्वादिष्ट होता है इसमें पानी भी काफी अधिक मात्रा में होता है । यदि आप रोज खीरे को सलाद के रूप में खाते है तो आपका वजन कम होना शुरू हो जायेगा और आपका वजन नहीं बढेगा मतलब फालतू की चर्बी नही बढ़ेगी ।

5) ककड़ी – दोस्तों मोटापा कम करने के लिए जो जो फाएदे खीरे के है वही कक्कड़ी के भी है आप सलाद के रूप में इसे रोज खाइए आपको काफी अधिक फायेदा होगा और आप स्वस्थ रहेंगे 4) खीर – खीरा खाने में काफी स्वादिष्ट होता है इसमें पानी भी काफी अधिक मात्रा में होता है । यदि आप रोज खीरे को सलाद के रूप में खाते है तो आपका वजन कम होना शुरू हो जायेगा और आपका वजन नहीं बढेगा मतलब फालतू की चर्बी नही बढ़ेगी ।

मोटापा एक दिन में कम करने के घरेलु नुस्खे

Note: – यदि आप मोटापा कम करना चाहते है या स्वस्थ रहना चाहते है तो सलाद को हमेशा भोजन करने से पहले ही खाइए बाद में भोजन कीजिये और दिन में खूब पानी पीजिये एसा करने पर देखिएगा आपको कितने अच्छे परिणाम मिलेंगे और आपका वजन जल्दी कम होगा ।

Keywords:- Motapa Kam karne ke Upay, Gharelu nuskhe in Hindi,वजन कम करने के घरेलू नुस्खे,
Pet kam karne ke upay

Kohni ka kalapan kaise dur kare कोहनी का कालापन कैसे दूर करें

Kohni ka kalapan kaise dur kare कोहनी का कालापन कैसे दूर करें

Kohni ka kalapan kaise dur kare कोहनियों का काला पन हो या शारीर की किसी भी समस्या का समाधान हो हम आखिर मे आयुर्वेद की तरफ आना ही होगा क्योंकि आज की एलोपेथी अंग्रेजी दवा सिर्फ हमारे शारीर को नुकशान ही पोहचा रही है|Kohni ka kalapan kaise dur kare

आज आप इस लेख के माध्यम से कोहनियों का कालापन कैसे दूर करे ये ही जानेगे , में आपसे एक बात और कहना चाहूँगा की इस लेख को पूरा पढना तभी आप इसका लाभ उठा पाएंगे |

  1. यदि आपकी हाथों कि कोहनियों काली पड़ गई है तो उन पर निम्बू को दो भागों में बाँट कर निम्बू के टुकड़े मलें और तीन-चार घंटे बाद, जब मैल फूल जाए तो खुरदरे तोलिये को गरम पानी में भिगोकर व् निचोड़कर उससे कोहनियों को मलकर साफ कर लें | नित्य कुछ दिन लगातार ऐसा करने से कोहनियों कि त्वचा का कलापन दूर हो जाएगा |
  2. काले पड़ गए शारीर के किसी भी हिस्से जैसे घुटनों पवन कि एडियों, गीटों,उँगलियों, अंगूठों और नाखूनों पर बी ही निचुड़े हुए निम्बू के बच् रहे फालतू आधे टुकड़ों को कुछ देर रगड़ने से और आधा घंटे बाद स्नान करने से वे साफ होकर चमकने लगते है |
  3. शारीर कि किसी भी भाग कि त्वचा सख्त, खुरदरी और मोती-सी हो ई हो तो रात कजो सोते समय निम्बू काटकर मलने से और प्रात: धोते रहने से रोम-छिद्र खुलकर त्वचा नर्म और मुलायम हो जाती है |
  4. इन निम्बू के छिलकों को रगदने से लहसुन, प्याज आदि काटने से होने वाली हाथों कि दुर्घंद भी मिट जाती है और हाथ के दाग मिटकर त्वचा स्वच्छ और मुलायम हो जाती है |
  5. हाथ-पैर फटने और उनमें मैल भरने कि शिकायत में निम्बू को उस स्थान पर रगड़े, साडी मैल निकल जाएगी |
  6. यदि बाहें कलि कुरूप दिखती हों तो निम्बू का रस मलने से वे निखर जाती है |

Kohni ka kalapan kaise dur kare, Kohni ka kalapan kaise dur kare.Kohni ka kalapan kaise dur kare,कोहनी का कालापन दूर करने के घरेलू उपाय,

Hair Care Tips In Hindi बालो का झड़ना, गंजापन ,सफ़ेद होना बालो के सभी रोगो का इलाज कैसे करें

Hair Fall Treatment In Hindi बाल झड़ने में उपयोगी नुस्खे

Hair Fall Treatment In Hindi

Hair Fall Treatment In Hindi बाल झड़ने में उपयोगी नुस्खे

Hair बालो की सभी परकार की care कैसे करें इसमें ये लेख आपकी काफी मदद करेगा बस आपको इस लेख को आखिर तक पढना है और आप Hair Diseases से सम्बन्धित सभी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे |

  1. उड़द कि दाल को उबल कर उसे दिर पर रगड़-रगड़ कर लगाएं, ऐसा करने से कुछ ही दिनों में Hair बालों का झाड़ना रुक जायेगा |
  2. बाल टूटने कि क्रिया निरंतर चल रही है तो घबराइए नहीं, बस निम्बू के रस में बड कि जटा पिस कर बाल धोएं और फिर नारियल का तेल लगे, आपकी शिकायत कुछ ही दिनों में दूर हो जाएगी|
  3. रात को आवला का चूर्ण भिगो दें और सुबह उन्हें मसलकर पानी निथार लें इस पानी में एक-दो कागजी निम्बू निचोड़ दें, उसी पानी से Hair बाल भिगो दें, और पानी रच जाने के बाद बालों को मल-मल कर धोएं, जैसे साबुन से बाल मले जाते हैं, इससे बालों का झड़ना तो बंद होगा ही साथ ही बाल काले, घने, लंबें और मुलायम होंगें, इस प्रयोग को एक महीने तक करें |

Hair का झड़ना गंजापन में उपयोगी नुस्खे

  1. पके व सूखे आवले के चूर्ण को नारियल के तेल में मिलाएं| आप चाहे तो उसमें चमेली का तेल भी दल सकते हैं | फिर इस तेल से सिर पर मालिश करें, इस रस को फिर पानी में मिलकर सिर को रगड़-रगड़ का धोएं, सूखे आवले को थोडा-थोडा करके खाते भी रहिए, निश्चय ही गंजेपन कि शिकायत धीरे-धीरे दूर हो जाएगी |
  2. अनार के दानों, पत्तों और छिलकों के पीसकर लुदगी बना लें फिर उस लुगदी को सरसों के तेल में मिलाकर हल्की आंच पर पकाएं, जब सब चीजें पक जाएँ और तेल बच जाए, तो उसे छान लें तथा शीशी में भरकर रख दें | इस तेल को नियमित दिन में दो-तीन बार लगाएं, इससे गंजापन दूर हो जायेगा |
  3. हरे धनिये को पीसकर उसका रस निकालें उस रस से Hair बालों में नियमित मालिश करें, इससे बाल मुलायम और काले होंगें और बालों का झड़ना खत्म होगा यहाँ तक कि गंजापन भी मिट जाएगा |

Hair Balon Se Rusi Dandruff Hatane Ke Gharelu Tarike Upay Nuskhe बालों में रुसी के नुस्खे

  1. 100 मि.ली. नारियल का तेल लेकर उसमे तीन ग्राम कपूर लेकर मिला लें, इस तेल का इस्तेमाल प्रतिदिन रात्री में सोते समय करें, सिर पर उँगलियों के पोरों से अच्छी तरह तेल लगा कर मालिश करें| पंद्रह दिनों में ही रुसी समाप्त हो जाएगी |
  2. निम्बू के रस में चीनी घोलकर उसकर शरबत बना लें और उस शरबत को सिर पर लगाकर 5-6 घंटे तक धूप ला सेवन करें तत्पश्चात सिर को उत्तम साबुन से धो लें | Hair सिर की सारी रुसी निश्चित रूप से गायब हो जाएगी |
  3. नारियल के तेल में निम्बू का रस मिलाकर इसे सिर पर मालिश कीजिए, कुछ दिन ऐसा करने से सिर की रुसी खत्म हो जाएगी |

How To Make Hair Black Naturally In Hindi | baal kale karne ka gharelu upay

  1. एक किलो आवले का रस, एक किलो देशी घी, 250 ग्राम मुलहठी-इस तीनों को हल्की आंच पर पकाएं | जब अपनी सुख जाए और घी बच जाये तो उसे छान कर बोतल में भरकर रख ले | इसे खिजाब कि तरह बालों में लगाएं कुछ दिनों में ही सारे बाल काले हो जाएंगे | यह कुदरती रंग देता है और त्वचा या दिमाग पर कोई भी बुरा प्रभाव नहीं डालता |

    How To Make Hair Black Naturally In Hindi

  2. लोह चूर्ण, हरड, बहेड़ा, आवला और कलि मिटटी को पीस कर चूर्ण कर लें, फिर इसी चूर्ण को गन्ने के रस में एक महीने तक भिगोकर रकेह एक महीने के बाद इस लेप को बालों में लगाइए | कुछ ही दिनों में आपके सफ़ेद बाल प्राकृतिक रुप से काले हो जाएंगे |
  3. आवले को निम् और मेहंदी के पत्तों के साथ दूध में मिलकर रात को बालों पर लेप करें, सुबह बालों को धोएं | सप्ताह में दो बार करने से दो महीने में हिन् सफ़ेद बाल काले भी हो जायेंगे |
  4. आवले को नीम और मेहंदी के पत्तों के साथ दूध में पीसकर रात को बालों पर लेप करें सुबह बालों को धों लें | सप्ताह में दो बार करने से दो महीने में ही सफ़ेद बाल काले हो जाएंगे |
  5. आवले को रात भर पानी में भिगों दें | सुबह आवालें को मसलकर छान लें और उस पानी से सिर धोएं, ऐसा करने से बाल काले और मुलायम होते हैं |

बाल गिरना, झड़ना और इसका इलाज

How To Make Hair Black Naturally In Hindi

keywords:- #best natural home tips for black hair, #Natural home remedies for black hair, black hair naturally in Hindi, #लंबे काले बालों के लिये प्राकृतिक घरेलू नुस्खे, Ayurvedic hair tips in Hindi, 

Hair Fall Treatment In Hindi, बाल झड़ने में उपयोगी नुस्खे

Sugar Ka Ilaj / शुगर का इलाज Kaise Kare In Hindi

Sugar Ka Ilaj / शुगर का इलाज

Sugar Ka Ilaj

Sugar Ka Ilaj यदि आप खोज रहे है तो इस Hindi Health Article  में बताये गए घरेलु नुस्खो को ध्यान से पढ़िए आपको काफी मदद मिलेगी, आज मधुमेह का रोग काफी फेल चूका है और इस बीमारी Sugar Ka Ilaj लोग नहीं कर पढ़े है इसीलिए आपकी मदद के लिए ये लेख लिखा गया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग Sugar Ka Ilaj काफी आसानी से कर सके हमें उमीद है की आपको ये लेख पसंद आयेगा |

Sugar Ka Ilaj Diabetes In Hindi 

1. सुबह टमाटर, संतरा और जामुन का नाश्ता करें, इनकी 300 ग्राम मात्रा प्रयाप्त है |

2. नियमित तीन महीने तक करेले कि सब्जी घी में बनाकर खान से मधुमेह में निश्चित रूप से लाभ होगा |

3. रात को मेथी के डेन पानी में भिगो कर रख दीजिए, सुबह उठकर दातुन कर वह पानी पीकर मेथी के दाने धीरे-धीरे चबा लीजिये, मधुमेह धीरे-धीरे ठीक होता चला जायेगा |

4. रात को काली किसमिस भिगोकर रखीए, सुबह उठने के साथ उसका जल छान कर पी लिजिए |

5. आवंले के चूर्ण को भिगोकर उसे कुछ देर रहने दीजिए, फिर उसे छान कर उसमे निम्बू का रस निचोड़कर सुबह उठते ही पी लें |

6. तमाल पत्र(तेजपत्ता) को कूटकर कपडे से छान कर चूर्ण बना लें, सुबह उठते ही 5 ग्राम चूर्ण कि मात्रा गुनगुने पानी के साथ लें, दस दिनों के भीतर ही भीतर लाभ मिलेगा |

7. Sugar Ka Ilaj के लिए आवला, हल्दी और मेथी-तीनों को समभाग मात्रा में लेकर कूट-पीसकर चूर्ण बना लें, इस चूर्ण को यदि मधुमेह का रोगी सुबह, दोपहर और शाम को पानी के साथ एक चम्मच भर सवेन करे, तो वह दो महीने के भीतर-भीतर मधुमेह के रोग से मुक्त हो सकता है |

8. मधुमेह Sugar के शिकायत होने पर आम और जामुन का रस बराबर मात्रा में मिलाकर दिन में तीन बार लगातार एक महीने तक सवेन करें |

9. जामुन कि गुठली और हरिद्रा कि बराबर मात्रा लेकर कूट-पिस कर चूर्ण बना कर शहद के साथ चाटें अथवा आधा चम्मच छाछ के साथ पिएं, मधुमेह कितना ही भयंकर क्यों न हो ठीक हो जायेगा |

10. मधुमेह के इलाज के लिए बेलपत्र बड़े उपयोगी है, यह सिद्ध प्रयोग है कि बेलपत्र और निम् के पत्ते 11-12 नग लेकर उन्हें तुलसी के करीब 5-6 पत्तों, 5 नग मुन्नका और 5 नग काली मिर्च के साथ पिस कर गोलियां बना लें एक-एक गोलू प्रतिदिन प्रात: जल के साथ लेने से भयंकर मधुमेह तोग का केवल तीन-चार महीनों में निवारण हो जाता है, लेकिन साथ में खान-पान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है |

11. जामुन के कोमल हरे पत्ते पीसकर नियमित 25 दिन तक प्रात: पानी के साथ पीने से पेशाब में शक्कर जाना रुक जाता है |

Sugar Ka Ilaj और मधुमेह में केला उपयोगी नुस्खा

1. गले हुए केले के छिलके उतारकर उन्हें हाथों से मसल कर लुगदी बना लें, फिट उसमे आधा बहग चावल की भूसी मिलकर 2-3 दिन गरम स्थान पर रखे छोड़ें चौथे दिन किसी पात्र में सबको रखकर पात्र को थोडा टेढ़ा करके थोड़ी देर तक रहने दें, ऐसा करने से की का रस अलग निथर आएगा, इसी रस का सेवन करें, आप चाहें तो स्वाद के लिए उसमे चुटकी भर काली मिर्च और सेंध नमक भी पीसकर दाल सकते है |

2. अक्सर मधुमेह के रोगी केले का उपयोग करने से घबराते हैं, पर इस तथ्य की जानकारी बहुत काम लोगों को है कि केले के रस का सेवन करने से मधुमेह कि बीमारी में अत्यधिक लाभ होता है |

मधुमेह होने के लक्षण और उपचार

Sardi Khasi Jukam Ka Gharelu Ilaj

Keywords:- #Sugar Ka Ilajशुगर का इलाज,#Hindi Health Article,#Diabetes In Hindi,
acupressure points in hindi , madhumeh ,sugar in hindi, sugar ki dawa,diabetes hindi

sardi khasi jukam ka gharelu ilaj सर्दी में जुकाम नाक-दर्द दूर करने के नुस्खे

Sardi Khasi Jukam hone par kya kare. दोस्तों यदि आपको Sardi लग जाये और jukam हो जाये तो काफी sardi khasi jukam ka gharelu ilaj समस्या हो जाती है, वेसे तो ये हमारे शारीर की सफाई की परक्रिया है, परन्तु यदि बार बार Sardi, Khasi, Jukam, हो तो सावधानी जरुरी हो जाती है| आज आप इस लेख में ये ही जानेंगे की  Sardi Khasi Jukam को कैसे दूर करें, यदिआप इस लेख में डी गयी जानकारी को ध्यान से पढेंगे तो आप अपना ठिक से इलाज कर पाएंगे

 sardi khasi jukam ka gharelu ilaj / सर्दी में जुकाम नाक-दर्द दूर करने के नुस्खे

  1. अदरक और पुदीना का रस सममात्रा में लेकर पियें |

  2. जुकाम कि परेशानी से कभी-कभी नाक भी दर्द करने लगती है, उस स्थिति में हरी चाय, पुदीना और गरम मसाला इन तीनों को पानी में उबाल कर उसकी भाप ले |

 3. 50 ग्राम गुड़ और 10-12 काली मिर्च पिस कर उबाल कर चाय कि तरह पिने से जुकाम तत्काल ठीक हो जाता है, साथ ही जुकाम से होने वाला नाक दर्द भी नहीं रहता |

 4. दो-तीन चम्मच अजवाइन स्वच्छ कपडे में बांध कर उसकी पोटली को तवे पर रखकर बार-बार गरम जार्जे सूंघने से जुकाम के साथ-साथ नाक दर्द का भी तीन-चार दिन में ही शमन हो जाता है |

 5. जायफल के छिलकों को पीसकर चूर्ण बना कर उसे नास्य के सामान सूंघने से छिके आएँगी, जिससे जुकाम दूर होगा और नाक दर्द से भी राहत मिलेगी |

Sardi Khasi Jukam me giloy ke fayede

दोस्तों इन नुस्खो के अलावा भी आपको एक काम रोज करना चाहिए आपको गिलोय का काढ़ा रोज पीना चाहिए इससे आपको Sardi Khasi Jukam  नहीं होगा , आपकी रोगों से लड़ने की शमता बढ़ जाएगी | और  आप दीर्घ  आयु को प्राप्त होंगे और हमेशा स्वस्थ रहेंगे | रोग होने पर तो सभी घरेलु नुस्खे खोजते है पर यदि आप गिलोय जैसी माहाओश्धि का सेवन करेंगे तो आपको कोई भी रोग नही होगा | मुझे उमीद है की आपको ये लेख पसंद आया होगा |इस लेख को अपने मित्रो के साथ शेयर जरुर करें|

आँखों की सुंदरता और देखभाल कैसे करें

Keywords:- #Sardi, #Khasi, #Jukam, #Sardi Khasi Jukam hone par kya kare, जुकाम का आयुर्वेदिक इलाज, बंद नाक खोलने के उपाय, बंद नाक से छुटकारा, जुकाम का अचूक इलाज, सर्दी जुकाम की दवा,

आँखों की सुंदरता और देखभाल कैसे करें

आँखों के अनेको रोग है जैसे , aakho में कुछ चलेजाना , आँख का आना , लाल होना, काले घेरे होना , आँखों का कमजोर होना जैसे अनेको रोग है जो कभी भी आपको हो सकते है आज इस लेख में आप ankho ke in rogo ko dur karne ke upaye janenge. मुझे उमीद है की ये लेख आपको पसंद आयेगा| आँखों की देखभाल केसे करें

आँखों में कंकड़ मिटटी चले जाने पर क्या करें नुस्खे

  • आँख पर जल के छींटे मारने से कंकड़-मिटटी के कण आँख से निकल जाते है |
  • किसी दुखभरी स्मृति को मस्तिष्क पटल पर उभार कर बिना aakho को मेल खूब रोयें आंसुओं के निरंतर प्रवाह से विजातीय प्रदार्थ बह कर बहार आ जायेगा |
  • दूध कि मलाई को पानी में डाल कर उससे निरंतर आँखों को धोएं | कभी–कभी तकलीफ हो जाती है | आँखे गड़ने लगती हैं| आँख मीजते-मीजते लाल हो जाती है, ऐसे में नमन घरेलु नुस्खे अत्यंत लाभप्रद सिद्ध होते है |

आँखों में जलन के नुस्खे Aankhon Mein Jalan Ho To Kya Kare

  • माखन आँखों  पर लगाने से aakho  कि जलन दूर होती है, खुरासनो का दूध या किलवा आँख में पड़ गया हो और जलन हो रही हो, तो मक्खन का नाजन आँख में लगाने से अत्यधिक लाभ होता है |
  • दही कि मलाई पलकों पर लेप करने से गरमी और जलन निकल जाती है | यह अनुभव सिद्ध नुस्खा है, दही कि मलाई उपलब्ध न होने पर दूध कि मलाई से भी काम चल सकता है, लेकिन पलकों पर मलाई ठंडी ही लेप करें |
  • हल्दी, फिटकरी और इमली के पत्ते को समभाग में लेकर इन्हें पीसकर पुलिट्स बनाकर सेंक करने से जलन मिटती है, इससे आंख कि लाली भी दूर हो जाती है |
  • 10 ग्राम द्राक्ष कि रात में पानी में भिगो कर रख दे, सुबह उसे हाथ से मसल ले, फिर उसमे थोड़ी शक्कर मिलकर पिने से आँख कि जलन से रहत मिलती है |
  • सेब को अंगारों पर सेंक कर उसको हाथों पर मसल लीजिए, फिर इसकी पुलिट्स बनाकर रात में आँखों कि पलकों के ऊपर बाँधने से थोड़े ही दिनों में आँख कि जलन, भारीपन, दृष्टिमंदता, दर्द,आदिक विकार दूर हो पते है |
  • बाबुल के पत्तों को पीसकर टिकिया बनाकर घी में भुनकर ankho पर बंधने से आँखों कि जलन तुरंत लाभ होता है, इसके पत्तों का रस निकल कर आँखों कि पलकों कर गर्म लेप करने से पलकों कि सूजन व आँखों से पानी गिरना रुक जाता है |

पेट के समस्त रोगों का इलाज पेट में भारीपन जलन अरुचि फूलना

  • कभी-कभी ankho में मिर्च, प्याज या अन्य तीक्ष्ण प्रदार्थ लग जाने से जलन होने लगती है और आँख से पानी गिरता है, आँखे आने के कारण भी आँख में जलन उत्त्पन होती है, उपर्युक्त नुस्खों का प्रयोग करना चाहिए, इससे तुरंत राहत मिलती है |

आँखों के कुछ फायदेमंद नुस्खे Eye care tips in hindi

  • पुराना चावल, मुंग, जों, शकों में बथुआ, चौलाई, परवल, करेला, बैंगन आदि और घी में पकाए गये आहार फायदेमंद है, जब कि कडुवे, अम्लीय, गरिष्ट तीक्ष्ण एवं गर्म पदार्थ के सेवन से बचना चाहिए |
  • मधुर एवं तीखे पदार्थ का सेवन भी आँखों के लिए अत्यधिक लाभ प्रद सिद्ध होता हैं, जबकि उड़द, मादक पदार्थ, सूखे मन्श-मछली, अंकुरित धान्य तथा अन्य बिदाहकारी पदार्थ aakho  के रोगों में नुकसानदायक होते है |
  • जंगली देसी पक्षियों का मांस भी उत्तम फायदेमंद होता है |
  • निम्बू या बबूल के पत्तों को पीसकर तालुओं पर लेप करना चाहिए इससे ankho को ठंडक पहुँचती है |
  • सिर में टिल के तेल कि मालिश करने से भी रहत व शीतलता मिलती है |

keywords:- आँखों की सुंदरता और देखभाल कैसे करें, #Eye care tips in hindi, #eyes tips in hindi, #eye care food tips in hindi, #आँखों की देखभाल एवं घरेलु नुस्खे, #aankhon ke liye tips in hindi, #aankhon ki roshni ke liye dua in hindi, #aankhon ka ilaj in hindi,

पेट के समस्त रोगों का इलाज पेट में भारीपन जलन अरुचि फूलना

पेट में अनेको रोग होते रहते है यदि इनका समय रहते इलाज न हो तो ये Pet के साधारण रोग काफी बड़े हो जाते है इस लेख में काफी आसान नुस्खे दिए गए है जिनके इस्तेमाल से आप Pet ke rogo ko dur kar sakte hae.

पेट के समस्त रोगों का इलाज

पेट में भारीपन के नुस्खे Pet ke rogo ko dur kar sakte hae.

  • चने का क्षार 2 से 6 रत्ती अथवा प्रभावी क्षार 5 से 10 बूंद दो-तीन बार दो-दो घंटे लेने से Pet  का भारीपन मिटता है|
  • बैगन को अंगारों पर सेककर उसमे सज्जिखर मिलाकर पेट पर बंधने से पेट के भारीपन का शमन ओता है|
  • द्रास्ख और सौफ दो-दो तोला लेकर आधा लीटर पानी में भिगोकर रख दीजिए, सुबह उसे मसल और छानकर तथा उसमे एक तोला शक्कर मिलाकर कुछ दिनों तक पिने से पेट का भारीपन  दूर हो जाता है |

पेट कि जलन के नुस्खे

  • अजवाइन और नमक पीसकर उसकी फंकी लेने से पेट कि जलन का शमन होता है |
  • धनिया और जीरा 10-10 ग्राम लेकर उन्हें अधकुटा कर लीजिये और 3 से 250 मी.ली. पानी में रात को भिगोकर रख दीजिये, सुबह उसे मसल-छानकर उसमे शक्कर डालकर चार-छ: दिन तक पिने से पेट कि जलन शांत होती है |
  • धनिया और शक्कर का शरबत बनाकर पिने से भी पेट कि जलन दूर होती है |
  • अजवाइन को तवे पर भुनकर उसमे संभाग में सेंधा नमक मिलाकर चूर्ण बना ले, तीन ग्राम कि मात्रा में यह चूर्ण ग्राम पानी के साथ लेने से पेट कि जलन मिटती है |

अरुचिनाशक नुस्खे

मोटापा एक दिन में कम करने के घरेलु नुस्खे

  • 20 तोला अदरक छीलकर उसकी चटनी बनाइए, फिर इसे 20 तोला घी में भुनी, तब वह  लाल हो जाए तब उसमे 40 तोला गुड डालकर हलवे जैसा गाढ़ा अक्लेह बनाइए एक-एक तोला इस अक्लेह को सुबह-शाम प्रतिदिन खाने से अरुचि विकार दूर होता है और भूख  खुलकर लगती है |
  • नीम्बू का रस एक भाग और शक्कर छ: भाग चासनी लेकर उसमे लौंग और काली मिर्च का थोड़ा-सा चूर्ण मिलाकर, शरबत बना कर पिने से अरुचि का शमन होता है | और आहार का पाचन होता है |
  • सौंठ एक तोला कलि एक तोला, पिपरी एक तोला और सेंधा नमक एक तोला इन सभी को कूटकर कपड़े से छानकर चूर्ण बनाइए, इसमें 40 तोला काली द्राक्ष बीज (बीज निकली हुई) मिलाइए, इसे चटनी कि तरह पीसकर किसी कांच के बर्तन में भरकर रख लें | इस अवलेह को प्रतिदिन आधे से दो तोले तक सुबह-शाम सेवन करें | यह अरुचिनाशक तो है ही, साथ ही अन्य पेट विकारों का शमन भी करता है |

Keywords:- #pet ke rog aur upchar in hindi, #आंत के रोग,#पेट में इन्फेक्शन के लक्षण,#पेट के नीचे दर्द,#बार बार पेट खराब होना,#पेट मे गैस का ईलाज,stomach diseases and treatment,chronic gastritis symptoms,gastritis treatment at home,gastritis cure,gastric pain relief,
acute gastritis treatment,how to cure gastritis permanently,gastritis pictures,
diet for gastritis,pet ki bimari ka ilaj,pet ki garmi ka ilaj in hindi