पेट के कीड़ों का घरेलू उपचार

pet ke kide or ilaaj ,  पेट के कीड़ों का इलाज घरेलू नुस्खों दवारा , पेट के कीड़ों का इलाज , पेट के कीड़ों का घरेलू उपचार
Home remedies for stomach worms in kids
पेट के कीड़े, कृमि आँतों में पाये जाते हैं  कभी-कभी ये मल दवार पर आ जाते हैं दिखाई देते हैँ ।  टट्टी के साथ निकलते हैं । यह रोग बहुतायत में फैला हुआ है । दवा लेने से कृमि, कीड़े बाहर तो निक्ल आते हैं. लेकिन दुबारा बनना बंद नहीँ होते । खान-पान को सुधार कर इस रोग से बचा जा सक्ता है।

कृमि के रोगियों को शाम को मीठा दलिया खिलाकर प्रात: जुलाब देने से विशेष लाभ होता है । आतों में मल जमा होने से कृमि पैदा होते हैं   अत: पेट साफ़ रखना चाहिए । कभी-कभी एनिमा भी लेना उपकारी है   ये प्राक्रतिक चिकित्सा का एक अंग है  ज्यादा मीठा खाने से भी कृमि पैदा होते हैं, अत: मीठा कम खाना चाहिए। सबसे पहले तीन दिन तक देसी गाएँ का देसी घी और काली मिर्च मिलाकर लें । इससे मल फूल जाता है   और आँतें मुलायम हो जाती हैं । फिर कब्ज में बताई गई कोई चीज लें । इससे दस्त साफ आने लगेगा । पेट की सारी गन्दगी बाहर निक्ल जायेगी । इसके बाद एक दिन गुड खायें । इससे पेट के सारे कीडे एक जगह जमा हो जायेंगे । फिर कृमिनाशक दवा लेने से सब बाहर निकल जायेंगे यहाँ बताई ‘गई’ खाने-पीने कीं चीजें नियमित कुछ सप्ताह लेने से कृमि नष्ट हो जाते हैँ ।

हरड़ के इस्तेमाल से पेट के कीड़ों का अंत 
हरड़ तथा वायबिडंग समान मात्रा में पीस कर बच्चों को चौथाई चम्मच, बडों को एक चम्मच ग्राम पानी के साथ ‘नित्य सुबह-शाम खाने के बाद देने से कृमि नष्ट हो जाते हैँ  


पपीता खाएं और पेट के कीड़ों को मार भगाएं 
पपीते के दस बीज पानी में पीस कर चौथाई कप पानी में मिलाकर पीने से पेट के कीड़े मर जाते हैं । यह लगातार सात दिन लें ।


लहसुन के प्रयोग से पेट के कीड़ों का अंत 
पाँच क्ली लहसुन की मुनक्का या शहद के साथ नित्य तीन बार सेवन करने से पेट के कृमि मर जाते हैं । दो-तीन माह सेवन करने से स्वास्थ्य उत्तम हो जाता है । कच्चा लहसुन खाना खाने के बाद लेने से भी कीड़े मर जाते हैं ।


सबसे पहले तीन दिन तक देसी गाएँ का देसी घी और काली मिर्च मिलाकर लें । इससे मल फूल जाता है   और आँतें मुलायम हो जाती हैं ।


करेला के प्रयोग से पेट के कीड़ों का अंत 
कृमि में करेला का रस पीना अच्छा है । ये प्रयोग कुछ दिन करके देखें चमत्कारी परिणाम देखने को मिलेंगे  


छाछ के प्रयोग से कीड़ों का अंत 
छाछ में नमक मीलाकर प्रात: पीने से कृमि मर जाते हैं ।


तुलसी का प्रयोग पेट के कीड़ों को खत्म करने के लिए 
तुलसी की पत्तियों का रस पीने से पेट के कीड़े (कृमि) मर जाते हैं । 


नीम का प्रयोग 
नीम का तेल पाँच बूंद तक बालकों की आयु के अनुसार देने से पेट के कृमि मर जाते हैं ।


शहद का प्रयोग 
सुबह-शाम शहद लेने से कृमि में लाभ होता है  दो भाग दही, एक भाग शहद मिलाकर चाटने से कृमि मरकर मल के साथ बाहार आजाते हैं  


अनार का प्रयोग 
अनार का रस नित्य पीने से कृमि नष्ट हो जाते हैं।


नारियल का प्रयोग 
नारियल का पानी पीकर कच्चा नारियल खाने से पेट के कीड़े निकल जाते हैं  


पेठा का प्रयोग 
पेठे के सेवन से पेट के कीड़े नष्ट हो जाते हैं  


बथुआ का प्रयोग
कच्चे बथुए के एक कप रस में स्वादानुसार नमक मिलाकर एक बार नित्य पीते रहने से पेट के कीड़े मर जाते हैं  बथुए के बीज पिंसे हुए, एक चम्मच शहद में मिलाकर चाटने से भी कृमि मर जाते हैँ।


परवल का प्रयोग 
परवल का साग कृमि-नाशक है।


पोदीना का प्रयोग 
आन्त्र कृमि मेँ पोदीने का रस आधा कप नित्य पीयें। 


गुड का प्रयोग
गुड़ कृमि-नाशक है। औषधि से पहले रोगी को गुड खिलावें । इससे आँतों में चिपके कृमि निक्लकर गुड़ खाने लगेंगे फिर कृमिनाशक औषध से कृमि बाहर आजाएंगे। एक चम्मच अजवाइन पीसं कर गुड़ में मिलाकर तिन बार रोजाना खाने से पेट के कीड़े निकल जाते हैं  


हींग का प्रयोग 
छोटे बच्चों की गुदा में कृमि रेंगते हुए कभी – कभी दिखाई देते हैं। हींग को पानी में घोलकर रूई का फोया भिगोकर बच्चों की गुदा पर रखने से कृमि नष्ट हो जाते हैँ  शुक्ष्म मात्र में हिंग खिलाने से बच्चों के पेट में कीड़े नही होते 


टमाटर का प्रयोग 
लाल टमाटरों पर काली मिर्च, नमक, डाल कर प्रात: भूखे पेट खाने से कृमि मर जाते हैं  


प्याज का प्रयोग 
पेट में कीड़े होने पर प्याज का रस एक चम्मच दो-दो घण्टे से पिलाने से कीडे मर जाते हैं  


निम्बू का प्रयोग 
यदि पेट में कीड़े हो गए हैं तो निम्बू के बीज को पीस कर चूर्ण बना लें और चौथाई चम्मच पानी के साथ दिन में एक बार 7 दिन लगातार लें। पेट के कृमि नष्ट हो जाएंगें ।


सेब का प्रयोग  
रोज रात को 2 सेब खाने से कुछ ही दिन में कीड़े मर कर बहार आजाते हैं   सेब खाने के बाद पूरी रात पानी ना पियें 


आम का प्रयोग  
आम की गुठली का चूर्ण 2 ग्राम पानी के साथ कुछ दिन लेने से पेट के कीड़े मर जाते हैं   


आँवला का प्रयोग 
एक ताजे आँवले का रस नित्य 5 दिन पीने से कृमि नष्ट हो जाते हैं।


अनानास का प्रयोग 
अनानास कृमिनाशक है। एक गिलास रस नित्य पीयें।


पोदीना का प्रयोग 
पोदीने का रस पेट के कीड़े मारता है  7 दिन पियें ।


शहतूत का प्रयोग 
शेहतुत का शंर्बत पेट के कृमियों को नष्ट ‘करता है।


गाजर के रस का प्रयोग 
गाजर का रस आधा पाव नित्य प्रात: भूखे पेट दो सप्ताह तक पीने से पेट के कृमि निकल जाते हैं। कच्ची गाजर खाना भी लाभप्रद है।


अखरोट का प्रयोग 
कुछ दिन एक अखरोट खाकर दूध पिए । इससे बच्चों के कृमि निकल जाते हैं।


काली मिर्च का प्रयोग 
काली मिर्च एक ग्राम पीसका छाछ या मठ्ठे के साथ देने से पेट के कृमि दूर हो जाते है।


अजवाइन का प्रयोग 
अजवाइन का चूर्ण 4 ग्राम एक गिलास छाछ के साथ देने से पेट के कृमि नष्ट हो जातें हैँ। इसका तेल 7 बूंद तक देने से पेट के कीड़े नष्ट हो जाते हैं  


पानी का प्रयोग 
कृमि होने पर खाना खाने के आधे घण्टे बाद गरम-गरम पानी, जितना गरम पीया जा सके, लगातार पीते रहने से कृमि नष्ट हो जाते हैँ।


नमक का प्रयोग 
आधा चम्मच नमक सुबह-शाम खाना खाने से पहले गर्म पानी से फँकी नित्य 10 दिन तक लें इससे कृमि निकल जायेंगे और पैदा नहीं होंगे। केचुए जैसे कीडे भी पेट से निकल जायेंगे  


मसूर का प्रयोग 
मसूर की दाल खाना कृमि होने पर लाभदायक है l

दोस्तों फेसबुक पर हमारे दोस्त बनिए और हमारे नए लेख सीधे फेसबुक पर प्राप्त करें https://www.facebook.com/maabharti
keword :- stomach worms natural treatment in hindi, stomach worms treatment home , stomach worms treatment medicine , stomach worms home remedies , home remedies for stomach worms in adults , home remedies for stomach worms in children , home remedies for stomach worms in babies ,home remedies for stomach worms in kids , home remedies for stomach worms in toddlers, pet ke kide or ilaaj , पेट के कीड़ों का इलाज घरेलू नुस्खों दवारा , पेट के कीड़ों का इलाज , पेट के कीड़ों का घरेलू उपचार