गुणकारी नींबू के विविध प्रयोग भाग-1

पथरी (concretion) – एक गिलास पानीमें एक नीबू (lemon) निचोड़ कर सेंधा नमक मिलाकर सुबह-शाम दो बार नित्य एक महीना पीनेसे पथरी पिघलकर निकल जाती है

पथरीका दर्द– अँगूरके (Grapes) साठ पत्ते आधा नीबू निचोड़कर पीसकर चटनी बना लें । इसे दो चम्मच हर दो घंटेमें तीन बार खानेसे पथरीसे होनेवाला दर्द दूर हो जायगा।
नाख़ून (Nails) – नाखूनों पर नित्य नीबू रगड़े, रस सूख जानेके बाद पानीसे धोयें । इससे नाखूनोंके रोग ठीक हो जाते हैं
बाल गिरना (hair loss), रूसी (dandruff)-  एक नीबूके रसमें तीन चम्मच चीनी, दो चम्मच पानी मिलाकर, घोलकर बालोंकी जडोंपें लगाकर एक घंटे बाद अच्छे- से सिर धोनेसे रूसी दूर हो जाती है । बालों का गिरना रुक जाता है।
गंजापन (Baldness) – ( 1 ) नीबूके बीजोंपर नीबू निचोड़कर एवं पीसकर बाल उडी हुई जगह (जंहा गंजा हे) -पर लेप करनें से चार-पाँच महीने लगातार लगानेपर बल उग आते हैं
2) तीन चम्मच चनेके बेसनमें एक नीबूका रस, थोडा पानी डालकर गाढा घोल बनाकर गंजपर लेप करें तथा सूखनेपर धोयें”, फिर समान मात्रामें नारियलका तेल, नींबू का रस मिलाकर सिरमें लगायें । बाल आ जायेंगे
सिर मैं फुंसियाँ, खुजली, त्वचा सूखी और कठोर हो तो बालों में दही लगाकर दस मिनट बाद सिर धोवें । बाल सुख जानेपर समान मात्रामें निम्बू का रस और सरसोंका तेल मिलाकर लगायें । यह प्रयोग लम्बे समयतक करें
ह्रदयकी धडकन – नीबू ज्ञान – तंन्तुओंकी उत्तेजना को शान्त करता है । इससे ह्रदय की अधिक धड़कन सामान्य हो जाती है । उच्च-रक्तचापके रोगियो की रक्त-वाहिनियो को यह शक्ति देता है
कमर दर्द (back pain) – चौथाई कप पानी में आधा चम्मच लहसुनका रस और एक नीबूका रस मिलाकर दो बार नित्य पीयें। यह पेय कमर-दर्दमें लाभदायक है।
आमवात, गठिया, जोडोंके दर्द (joint pain) में- नित्प प्रात: एक गिलास पानीमें एक नींबू निचोड़कर पीयें । नींबू की फांक दर्द वाली जगहपर रगड़कर फिर स्नान करें
गलादर्द, गलाबेठना, गलेमेललाई – होनेपर एक गिलास गरम पानीमें नमक और आधा नींबू निचोडकर सुबह-शाम गरारे करें
नेत्र-ज्योंतिवर्धक – एक गिलास पानीमें एक नीबू निचोड़कर प्रात: भूखे पेट हमेशा पीते रहें ।नेत्रज्योति ठीक बनी रहेगी । इससे पेट साफ रहता है, शरीर स्वस्थ रहता है । नीरोग रहनेका यह प्राथमिक उपचार है
अपच – यदि भोजन नहीं पचता हो, खट्टी डकारें आती हों…-
(1) पपीतेपर नीबू काली मिर्च डालकर सात दिनोंतक प्रात: खायें।
(2 ) भोजन के साथ मूलीपर नमक, नीबूडालकर नित्य खायें
(3) नीबूपर काला नमक, काली मिर्च डालकर तिन बार नित्य चूसें । अपच तथा पेटके सामान्य रोग ठीक हो जायेंगे: भूख अच्छी लगेगी
(४) खानेसे पहले नीबूपर सेंधा नमक डालकर चूसें ।
भूख– भोजन करनेके आधाघंटा पहले एक गिलास पानी में नींबू निचोड़कर पीनेसे भूख अच्छी लगती हे