motivational hindi story- बुद्धिमान व्यापारी

Motivational hindi story

एक व्यापारी था, बहुत ही बुद्धिमान और बहूत ही धनवान, उसका करोड़ो का कारोबार था, उसके शहर में आए दिन कोई न कोई चोरी होती रहती थी ,

मगर चोर कभी भी पकड़ा नही गया, क्योंकि वो हर बार चकमा देकर भाग जाता था,

उस व्यापारी ने अपने बारे में ये अफवाह फेला रखी थी की रत को उसे कुछ दिखाई नही देता क्योंकि उसे रतोंधी नामक बीमारी हे, उधर जब चोरों को ये पता चला की उसे रतोंधी नामक बीमारी हे, तो उन चोरो ने व्यापारी के घर चोरी करने की योजना बनाई, अभी तक चोर उसके घर पर चोरी करने में सफल नही हो सके थे,

एक रात जब चोर उस व्यापारी के घर चोरी करने पहोंचा तो व्यापारी की अंक खुल गई, 

और उसने चोर को देख लिया पर सोचा चोर के पास कोई हथियार भी हो सकता हे, फिर उसने एक चाल सोची, और वो अपने पास सो रही अपनी पत्नी से जोर से बोला सुनती हो अभी अभी मेने एक सुंदर सपना देखा हे , पत्नी ने पूछा क्या देखा हे”, 

सुबहा होते ही कच्चे रेशम के दाम दोगुने होने वाले हें, अपने घर तो ढेर सारा रेशम का धागा हे न?”’ हाँ हे तो मगर रात को क्या करना हे, पत्नी ने पुच्छा ,

पत्नी को नही पता था की घर में चोर घुसा हुआ हे, पति ने इशारे से बताया की चोर खम्बे के पिच्छे छुपा हुआ हे, अगर मुझे रतोंधी नही होती तो इसी वक्त सारा धागा नाप कर देखता की आखिर कितना मुनाफा सूरज निकलते ही हो जाएगा,

रहने भी दो पत्नी बोली सुबहा ही नाप कर देखलेना, 

पति बोला क्या मुझे अपने ही घर में नही पता चलेगा की कोंसी चीज कन्हा हे आओ उठ कर नापे की रेशम कितना हे बस खम्बे के चरों और लपेट लपेट कर अंदाजा लगा लूँगा की धागा कितना हे.

ठीक हे में तो सो रही हु आप ही नाप लो, उसकी पत्नी ने कहा और सोने का नाटक करने लगी, इधर व्यापारी ने अन्धे पन का नाटक करते हुए रेशम को खम्बे के चरों और लपेटना शुरू करदिया, 

इस तरह वो खम्बे के पास से कई बार गुजरा जंहा चोर खम्बे से सटकर खड़ा था , व्यापारी बार बार ये ही दिखा रहा था की उसे कुछ नही दिख रहा इस तरहां उसने खम्बे के कई चकर लगाये और चोर के लिए अब हिलना भी मुस्किल हो गया 

चोर ने ये सोचा था की रेशम के धागों को तोडकर वो एक दम से भाग निकलेगा, मगर उन कोमल धागों ने मिलकर इतना मजबूत रूप धारण कर लिया की वो उनमें बंध कर ही रहगया,

इसके बाद व्यापारी ने पुलिस को फोन कर दिया और चोर को उनके हवाले कर दिया, चोर ने ये जाल लिया की कच्चे धागे जुडकर जब एक हो जाते हें तो वो भी मजबूत हो जाते हें, अर्थात एकता की ताकत सबसे मजबूत हे ,

Moral Of The Story कहानी से शिक्षा 

. हमेशा बुद्धि से काम लेना चाहिए
. एकता की ताकत सबसे मजबूत हे इसलिए हममें एकता होनी चाहिए 

जीवन से हताश हें तो ये कहानी आपके लिए हे  (एक प्रेरणादायक कहानी )

NOTE- (SHREE D.B.G चटोरी नमकीन वालों की तरफ से)  यदि आपको नजला (najla) रहता है तो आप हमसे इसका पक्का इलाज करवा सकते हैं और आप 100% ठीक होंगे ये हमारा अभी तक का अनुभव है और ये इलाज फ्री है तो घबराना कैसा आप हमे इस नम्बर पर whatsapp करें 09671963133 या हमे मेल करें amittomar121@gmail.com प्राणी मात्र की सेवा करो। 


(दोस्तों SHREE D.B.G चटोरी नमकीन वालों की ये चटोरी नमकीन भी काफी स्वादिष्ट है और मात्र 250 रुपय में 1 kg भेज देते हैं आप भी एक बार खाकर देखीय यकीन मानिय स्वाद नही भूल सकेंगे आप इस नम्बर पर फ़ोन कर सकते हैं 09671963133)

आप हमें facebook पर लाइक करें और हमारा उत्साहा बढ़ाएं और हमारे नए लेख प्राप्त करें https://www.facebook.com/maabharti

2 thoughts on “motivational hindi story- बुद्धिमान व्यापारी

Comments are closed.