हमारे नेताओं के सदाबहार बयान::

१. यूपी के लोग भिखारी होते हैं – rahul gandhi

२. पंजाब के 70% लोग नशेड़ी होते हैं – राहुल गाँधी

३. 90% बलात्कार तो लड़की की मर्जी से होते हैं – धरम वीर गोयत (हरयाणा कांग्रेस के प्रवक्ता)

४. बीवी पुरानी हों जाये तो मजा नहीं आता – श्रीप्रकाश जैसवाल (कोयला मंत्री)

५. महंगाई अच्छी है, ये तो ऐसे ही बढ़ेगी – पी चिदंबरम

६. बलात्कार तो हर जगह होता है – रेणुका चौधरी

७. मंदिर से ज्यादा अहम है शौचालय – जयराम रमेश

८. पाकिस्तान के हिंदुओं को अपने ऊपर हों रहे अत्याचार के सबूत देने होंगे – सुशील शिंदे

९. मैं सोनिया जी के लिए जान तक दे दूँगा – सलमान खुर्शीद

१०. बोफोर्स की ही तरह कोयला घोटाला भी जनता भूल जायेगी – सुशील शिंदे

११. हमारे सैनिकों को पाकिस्तान की सेना ने नहीं बल्कि उनकी वर्दियों में आतंकवादियों ने मारा है- एके एंटनी

१२. पुलिस और सेना के लोग मरने के लिए ही होते हैं – भीम सिंह

१३. पीने के लिए पानी नहीं है तो क्या बांधों में पेशाब कर के ला दूं – अजीत पवार

१४. महंगाई ज्यादा सोना खरीदने की वजह से बढ़ रही है – पी चिदंबरम

१५. हम बिना आईएस के यूपी को चला लेंगे – रामगोपाल यादव

१६. पैसे पेड़ पर नहीं लगते – मनमोहन सिंह

१७. हमारे पास कोई जादू की छड़ी नहीं है, जिससे महंगाई पर काबू किया जाये – मनमोहन सिंह

१८. गरीबी सिर्फ दिमाग का वहम है – राहुल गाँधी

१९. इस देश को हिन्दुओ से ज्यादा खतरा है – राहुल गाँधी

२०- बटाला हाउस में आतंकवादियों के मरने पर सोनिया जी बहुत रोयीं थीं – सलमान खुर्शीद

२१- सत्ता ज़हर है और माँ मेरे कमरे में आके रात में रोयीं थी – राहुल गाँधी

3 thoughts on “हमारे नेताओं के सदाबहार बयान::

  1. Darshan jangra

    बहुत सुन्दर प्रस्तुति.. हिंदी ब्लॉग समूह के शुभारंभ पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी पोस्ट हिंदी ब्लॉग समूह में सामिल की गयी और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {सोमवार} (19-08-2013) को हिंदी ब्लॉग समूह
    पर की जाएगी, ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें . कृपया आप भी {सोमवार} (19-08-2013) को पधारें, सादर …. Darshan jangra

  2. Darshan jangra

    बहुत सुन्दर प्रस्तुति.. हिंदी ब्लॉग समूह के शुभारंभ पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि आपकी पोस्ट हिंदी ब्लॉग समूह में सामिल की गयी और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {सोमवार} (19-08-2013) को
    हिंदी ब्लॉग समूह
    पर की जाएगी, ताकि अधिक से अधिक लोग आपकी रचना पढ़ सकें . कृपया आप भी {सोमवार} (19-08-2013) को पधारें, सादर …. Darshan jangra

Comments are closed.