muslim regiment ने किया था भारत के साथ धोका

*muslim regiment* मुस्लिम रेजिमेंट भारतीय सेना में क्यूँ नही हे आखिर ऐसा क्यूँ हे क्या आप जानतें हें इसके पिच्छे का सच ? नही जानते तो में आपको बताता हूँ

1965 से पहले भारतीय सेना में मुस्लिम रेजिमेंट और मुस्लिम राइफल हुआ करती थी 1965 में जो भारत और पाकिस्तान का यूद्ध हुआ था उस युद्ध में इन दोनों रेजीमेंटों ने पाकिस्तान के सामने हथियार डाल दिया और इन्होने पाकिस्तान पर हमला करने से साफ़ मना करदिया ऒर लगभग 20 हजार सेनिकों ने अपने हथियार डाल दिए ऒर इनकी गद्दारी के कारण उस वक्त भारत को काफी मुश्किलों का समना करना पड़ा था ऒर इसके बाद इन दोनो रेजीमेंटो को लात मारके बहार का रास्ता दिखा दिया गया

1971  में फिर से भारत का पाकिस्तान के साथ युद्ध हुआ उस समय भारत की सेना में एक भी मुस्लिम नही था ऒर उस समय भारतीय सेना ने पाकिस्तानी 90  हजार सेनिकों के हथियार गिरवाके उनको बंदी बनालिया
जेसा की आप इस तस्वीर में देख रहे हें
दोस्तों दो बार गलत पोस्ट डालने के बाद अब तीसरी बार ये पोस्ट डाल रहा हूँ और उम्मीद करता हूँ की इस बार आप इस पोस्ट में कोई गलती नहीं निकालेंगे .. आपको पता है की भारतीय सेना में सभी तरह के रेजिमेंट फ़ोर्स हैं  जैसे की राजपुताना राईफल्स  राजपुताना रेजिमेंट  सीख राईफल्स  सीख रेजिमेंट  मराठा रेजिमेंट  गुजरात राइफल्स  जाट रेजिमेंट   इसी तरह के सभी राज्यों के आधार पर रेजिमेंट बनायें गए हैं और उस रेजिमेंट में वही सेना है जिस नाम से वो रेजिमेंट बनाया गया है   दोस्तों क्या आपको पता है मुस्लिम रेजिमेंट या मुस्लिम राईफल्स नाम क्यूँ नहीं है   कहानी तो बहुत लंबी है संक्षिप्त में बता रहा हूँ   1965 में जब पाकिस्तान के साथ युद्ध हुआ था उस वक्त मुस्लिम रेजिमेंट और मुस्लिम राईफल्स को हमला करने के आदेश जारी किये उस वक्त मुस्लिम रेजिमेंट और मुस्लिम राईफल्स ने पाकिस्तान पर हमला करने से साफ़ मना कर दिया था औरलगभग बीस हज़ार मुस्लिम सेना ने पाकिस्तान के सामने अपने हथियार दाल दिए थे जिस वजह से उस वक्त भारत को काफि मुश्किलों सामना करना पड़ा था क्यूँ की मुस्लिम राईफल्स और मुस्लिम रेजिमेंट के ऊपर बहुत ज्यादा यकीन कर के इनको भेजा गया था  लेकिन इसके बाद इन दोनों को हटा दिया गया उसके बाद 1971 में पाकिस्तान के साथ फिर युद्ध हुआ उस वक्त सेना में एक भी मुस्लिम नहीं था उस वक्त भारत ने पाकिस्तान के नब्बे हज़ार सेना के हथियार डलवा कर उनको बंदी बना लिया था और लिखित तौर पर आत्मसमर्पण करवाया था जैसा की आप इस फोटो में देख सकते हैं ये फोटो उस वक्त की है जब भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना को धुल चटाया था तब से लेकर आज तक भारतीय सेना में मुस्लिम रेजिमेंट या मुस्लिम राईफल्स नाम की कोई सेना नही है 
इसी कारण भारतीय सेना में मुस्लिम रेजिमेंट ऒर मुस्लिम राइफल्स नाम की सेना अब नही हे

4 thoughts on “muslim regiment ने किया था भारत के साथ धोका

  1. DR. ANWER JAMAL

    धर्म बढ़े और अधर्म मिटे,
    धर्म की जय हो और अधर्म पराजित हो,
    इसके लिए हम सबको सब्र के साथ अपना काम करते रहना चाहिए।
    अपने काम से मतलब यह है कि जो भी सत्य हो, हम उसे मानते रहें और एक दूसरे का दुख दूर करने के लिए जो भी बन पड़े, हम उसे ज़रूर करें।
    शैतान कम हैं। आज भी नेकदिल आदमी ज़्यादा हैं। हम सबको एक दूसरे के काम आना है। यही नेकी है। नेकी करना ही हमारा अपना काम है। ईश्वर नेक काम करने के लिए ही कहता है।

  2. raj mishra

    jab aapka beta beti iss dharm ki aag mai jale to bataana ki kon sa dharm achchha hai sabhi achchhi baate humesa achchhi nahi hoti satya humesha atal or ajer hai hum humaari soch ko uttm sabit karne ki koshish krte hai or use dharm battate hai

Comments are closed.